जसप्रीत बुमराह के बारे में ये 14 तथ्य नहीं जानते होंगे आप

14 unknown facts about Jasprit Bumrah

उस समय एक क्रिकेटर का जन्म हो रहा था जब बचपन में जसप्रीत बुमराह अपनी माँ के सो जाने पर गेंद से दीवार के कोने पर निशाना साधते थे ताकि आवाज़ कम हो। दो वर्ष तक दीवार के कोने में गेंद साधने, स्कूल में और पड़ोस में क्रिकेट खेलने के दौरान उन्हें अपने कौशल का ज्ञान हुआ। वह एक यॉर्कर विशेषज्ञ बने। उनकी गेंदबाज़ी की तकनीक अलग थी जिसके कारण उन्हें प्रशिक्षित करने वाले कोच आश्चर्य किया करते थे।

सौभाग्यवश सभी को यह बात समझ में आ गयी थी कि उनकी गेंदबाज़ी उन्हें आगे तक ले जाएगी और इसीलिये किसी ने भी उसे बदलने की कोशिश नहीं की। उनकी गेंदबाज़ी ने सभी रूढ़िवादी विचारधाराओं को गलत साबित किया और आज जसप्रीत बुमराह की चमक भारतीय क्रिकेट टीम में नज़र आ रही है।

जसप्रीत बुमराह के बारे में पूछे जाने पर गुजरात के रणजी कोच हितेश मजूमदार ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया “कभी बाउंसर डाले तो कभी यॉर्कर। वह काफ़ी युवा था लेकिन उसकी विविधता देख कर हमने उसे सय्यद मुश्ताक़ अली टी20 प्रतियोगिता के लिये चयनित करने का निर्णय लिया जो कि पुणे में आयोजित होने जा रही थी”।

बुमराह का जीवन परीकथाओं की तरह रातों रात नहीं बदला। उन्होंने और उनके परिवार ने काफी उतार चढ़ाव देखे। हम आपको बताएंगे जसप्रीत बुमराह के बारे में कुछ अनकही बातें जिससे आपके मन में उनके लिये सम्मान की भावना जागृत होगी।

1. 22 वर्षीय जसप्रीत बुमराह जब 7 वर्ष के थे तभी उनके पिता का देहांत हो गया।

22 वर्षीय जसप्रीत बुमराह जब 7 वर्ष के थे तभी उनके पिता का देहांत हो गया
22 वर्षीय जसप्रीत बुमराह जब 7 वर्ष के थे तभी उनके पिता का देहांत हो गया

2. बुमराह की माता एक स्कूल की प्रधानाध्यापिका हैं। उन्होंने अकेले अपने बच्चों का पालन पोषण किया और उन्हें उनके सपनों को पूरा करने में सहायता की।

Bumrah mother is a school principal
Bumrah mother is a school principal

3. बुमराह के पिता जसबीर सिंह का केमिकल का बिज़नेस था।

बुमराह के पिता जसबीर सिंह का केमिकल का बिज़नेस था
बुमराह के पिता जसबीर सिंह का केमिकल का बिज़नेस था

4. जसप्रीत 14 वर्ष के थे जब उन्होंने निर्णय लिया कि वह क्रिकेटर बनेंगे।

जसप्रीत 14 वर्ष के थे जब उन्होंने निर्णय लिया कि वह क्रिकेटर बनेंगे
जसप्रीत 14 वर्ष के थे जब उन्होंने निर्णय लिया कि वह क्रिकेटर बनेंगे


5. उनके कैरियर में अहम मोड़ तब आया जब 2013-14 में उन्होंने अपने पहले ही प्रथम श्रेणी मैच में विदर्भ के खिलाफ 7 विकेट लिए।

Bumrah took 7 wickets on First class debut
Bumrah took 7 wickets on First class debut

6. जॉन राइट(पूर्व मुम्बई इंडियंस कोच) ने जसप्रीत की प्रतिभा को सबसे पहले पहचाना जब वह सय्यद मुश्ताक़ अली ट्रॉफी खेल रहे थे।

John Wright was the first to notice Bumrah
John Wright was the first to notice Bumrah

7. अमिताभ बच्चन, बुमराह के पसंदीदा अभिनेता और ढोकला पसंदीदा व्यंजन है।

अमिताभ बच्चन, बुमराह के पसंदीदा अभिनेता और ढोकला पसंदीदा व्यंजन है
अमिताभ बच्चन, बुमराह के पसंदीदा अभिनेता और ढोकला पसंदीदा व्यंजन है

8. जसप्रीत के टीम के साथी उन्हें जे बी बुलाते हैं।

जसप्रीत के टीम के साथी उन्हें जे बी बुलाते हैं
जसप्रीत के टीम के साथी उन्हें जे बी बुलाते हैं

9. उनके दोस्त और परिवार का कहना है कि बुमराह की विनम्रता ही उनकी असली शक्ति है।

उनके दोस्त और परिवार का कहना है कि बुमराह की विनम्रता ही उनकी असली शक्ति है
उनके दोस्त और परिवार का कहना है कि बुमराह की विनम्रता ही उनकी असली शक्ति है

10. हालाँकि बुमराह के पास बाउंसर और यॉर्कर जैसी विभिन्न गेंदबाज़ी तकनीक थीं लेकिन उनका सही ढंग से उपयोग करना उन्हें मलिंगा ने सिखाया।

हालाँकि बुमराह के पास बाउंसर और यॉर्कर जैसी विभिन्न गेंदबाज़ी तकनीक थीं लेकिन उनका सही ढंग से उपयोग करना उन्हें मलिंगा ने सिखाया
हालाँकि बुमराह के पास बाउंसर और यॉर्कर जैसी विभिन्न गेंदबाज़ी तकनीक थीं लेकिन उनका सही ढंग से उपयोग करना उन्हें मलिंगा ने सिखाया

11. कुछ लोगों ने उन्हें दूसरी टीम के चयन की सलाह दी लेकिन वह मुंबई इंडियंस के साथ ही बने रहे क्योंकि वह मलिंगा से काफ़ी कुछ सीखना चाहते थे।

कुछ लोगों ने उन्हें दूसरी टीम के चयन की सलाह दी लेकिन वह मुंबई इंडियंस के साथ ही बने रहे क्योंकि वह मलिंगा से काफ़ी कुछ सीखना चाहते थे
कुछ लोगों ने उन्हें दूसरी टीम के चयन की सलाह दी लेकिन वह मुंबई इंडियंस के साथ ही बने रहे क्योंकि वह मलिंगा से काफ़ी कुछ सीखना चाहते थे

12. बुमराह की गैर परंपरागत गेंदबाज़ी एक्शन बल्लेबाज़ों के लिये परेशानी का सबब बनती है। ग्लेन मैकग्राथ ने भी उनकी प्रशंसा करते हुए अपनी गेंदबाज़ी शैली को न बदलने की सलाह दी।

बुमराह की गैर परंपरागत गेंदबाज़ी एक्शन बल्लेबाज़ों के लिये परेशानी का सबब बनती है
बुमराह की गैर परंपरागत गेंदबाज़ी एक्शन बल्लेबाज़ों के लिये परेशानी का सबब बनती है

13. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 श्रृंखला में जसप्रीत ने धोनी को भी प्रभावित किया। उन्होंने बुमराह को श्रृंखला की सबसे बड़ी उपलब्धि करार दिया। इसके बाद बुमराह ने अपने प्रदर्शन से खूब नाम कमाया और अब वह भारत के लिये अंतिम ओवरों में गेंदबाज़ी करने वाले डेथ ओवर विशेषज्ञ बन चुके हैं।

Dhoni praised Bumrah
Dhoni praised Bumrah

14. 2014 में घुटने की चोट के चलते जसप्रीत कुछ समय के लिये बाहर हो गए लेकिन इसके बाद उन्होंने अपनी फिटनेस पर कड़ी मेहनत की और फिर से गेंदबाज़ी करने लगे।

Bumrah recovered from knee injury in 2014
Bumrah recovered from knee injury in 2014

Source: 14 Facts About Jasprit Bumrah, The Bowler Team India Badly Needed

Summary
Review Date
Reviewed Item
14 unknown facts about Jasprit Bumrah | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: