कुंबले ने भारतीय कोच के पद से इस्तीफा दिया

Anil Kumble steps down as India Coach

भारत के वेस्टइंडीज़ दौरे के शुरू होने के 4 दिन पहले अनिल कुंबले ने कोच के पद से इस्तीफा दे दिया है.

यह फैसला ऐसे समय पर आया है जब की अभी इस बात को एक महीना भी पूरा नहीं हुआ कि कप्तान विराट कोहली समेत टीम के खिलाड़ी कुंबले के “धमकी” समान रवैये से अपनी नाराज़गी ज़ाहिर कर चुके थे. इसी वजह से कुंबले के कोचिंग अंतराल में सफलता पाने (जिसमें भारत नंबर 1 टेस्ट टीम बना) के बावजूद बीसीसीआई ने कुंबले के अनुबंध का विस्तार न कर के, नए कोच के आवेदन के लिए प्रचार किया था.

कुंबले के इस फैसले का समय भी काफी अनूठा रहा. ये उस समय हुआ जब भारतीय टीम वेस्टइंडीज़ दौरे के लिए विमान में सवार थी, जहाँ 23 जून को 5 एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला का पहला मैच खेला जाना है. भारतीय टीम सोमवार की सुबह ही वेस्टइंडीज़ के लिए निकल गई थी, लेकिन कुंबले ने लंदन में ही रुकने का फैसला किया. आईसीसी की क्रिकेट कमेटी के अध्यक्ष के रूप में, वह लंदन में मुख्य कार्यकारी समिति की बैठक में भाग ले रहे हैं।

कुंबले, जिनका अनुबंध चैंपियंस ट्रॉफी तक था, ने पिछले हफ्ते ही कोच के पद के लिए पुनः आवेदन दिया था और बीसीसीआई का वेस्ट इंडीज़ दौरे तक कोच पद पर बने रहने का प्रस्ताव भी स्वीकार कर लिया था. कुंबले ने कहा की उन्हें बोर्ड के द्वारा खिलाड़ियों के उनको लेकर संदेह के बारे में पता चला. “यह स्पष्ट है की मेरी साझेदारी (विराट कोहली के साथ) ऐसे हालातों में आगे नहीं बढ़ सकती, इसलिए बेहतर यही है की मैं इस ज़िम्मेदारी से मुक्त हो जाऊँ” – कुंबले

ऐसा माना जा रहा है कि वेस्ट इंडीज़ के लिए रवाना होने से पहले कोहली और कुंबले अलग अलग मौकों पर लंदन में बीसीसीआई के आला अफसरों से मिले. इस बैठक में बीसीसीआई सचिव अमिताभ चौधरी, बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जोहरी और क्रिकेट ऑपरेशन के महाप्रबंधक एमवी श्रीधर शामिल थे. तीन सदस्यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के चयन के बाद बैठकों की आवश्यकता थी, क्योंकि वे कोहली-कुंबले के बीच कोई सुलह नहीं करा सके थे.

नए कोच के लिए कुंबले समेत बीसीसीआई के पास 6 आवेदन आये थे, लेकिन क्योंकि कुंबले का चयन पिछले वर्ष सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण द्वारा गठित सीएसी ने ही किया था, इसलिए उन्हें इस पद का प्रबल दावेदार माना गया था. लेकिन मौजूदा हालातों के कारण सीएसी को बीसीसीआई ने कुंबले से मिलने के लिए माना कर दिया था.

कुंबले ने इस बात कि पुष्टि की कि सीएसी ने उन्हें पुनः कोच बनने के लिए कहा था. “मुझे इस बात पर गर्व है की सीएसी ने मुझे पुनः मुख कोच बनने के लिए कहा है”

बीसीसीआई के पास कुंबले का इस्तीफा स्वीकार करने के आलावा कोई विकल्प था भी नहीं क्योंकि बोर्ड, सीएसी और प्रशासक समिति के प्रयासों के बावजूद कोहली-कुंबले का विवाद सुलझ नहीं रहा था और ये लम्बे समय तक चलता तो टीम बिखर सकती थी. कोहली के साथ हुई बैठक के बारे में अधिकारियों ने अच्छी तरह से महसूस किया कि कुंबले के साथ मतभेद “हल” नहीं हो पाएंगे और रिश्ते “निरंतर” नहीं हो सकते. “मतभेद सुलझाए नहीं जा सकते थे” – बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया. उन्होंने कहा कि कोहली एक कदम वापस लेने के लिए तैयार नहीं थे।

एक बार जब सीएसी को एहसास हुआ कि रिश्ते मरम्मत की सम्भावना से परे थे, तो उन्होंने बीसीसीआई से वार्ता प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए कहा। सोमवार की बैठकों का ज्ञान रखने वाले बोर्ड के अधिकारी ने कहा, “यह सुखद बैठक नहीं थी।” इस अधिकारी के मुताबिक विराट कोहली का रुख “अड़ियल” था जिसने कुंबले को अपना मन बनाने में सहायता दी।

“सीएसी ने बीसीसीआई से कहा है कि मतभेद क्रिकेट से संबंधित नहीं हैं बल्कि एक व्यक्तिगत प्रकृति से ज्यादा नहीं हैं,” अधिकारी ने कहा। “अगर वह इस पद पर बने रहते हैं, तो ये कुंबले के लिए बहुत अजीब होगा. इतने बड़े खिलाड़ी को इस तरह से संभालना उचित नहीं है.”

बीसीसीआई ने कहा कि क्रिकेट ऑपरेशन के बोर्ड के महाप्रबंधक एमवी श्रीधर “टीम प्रबंधन की निगरानी” करने के लिए कैरेबियन की यात्रा करेंगे, जबकि बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर उनकी भूमिकाओं में कार्यरत रहेंगे.

कुंबले के अलावा, भारत के कोच की नौकरी के लिए आवेदन करने वाले अन्य लोगों में पूर्व भारत के सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग, ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर टॉम मूडी, पाकिस्तान के पूर्व कोच रिचर्ड पाइबस, पूर्व भारतीय मध्यम तेज गेंदबाज डोडा गणेश और भारत के पूर्व कोच लालचंद राजपूत शामिल थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Anil Kumble steps down as India Coach | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: