आँकड़े कैसे भी हों लेकिन उमेश यादव हैं एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी

Despite poor record Umesh Yadav is important

आँकड़े भी कभी कभी धोखा दे जाते हैं और इसका सबसे बेहतर उदाहरण हैं उमेश यादव। इस बात को और अधिक समझाने के लिये हम आपको ले चलते हैं 25 मार्च के भारत और ऑस्ट्रेलिया के अंतिम टेस्ट मैच में। उस मैच में हालाँकि उमेश ने 98 रन देकर 5 विकेट लिए थे लेकिन मैच के बाद वर्तमान भारतीय कोच रवि शास्त्री ने उनके बारे में ट्विटर पर कहा था ” स्ट्रांगमैन, कल का स्पेल देख के मज़ा आ गया, कंगारूओं को ऐसे कूदते हुए कभी नहीं देखा, बैंड बजा दी।”

29 वर्ष की अवस्था में उनके 34 टेस्ट मैचों में 35.93 की औसत तथा 59.55 की स्ट्राइक रेट से 94 विकेट हैं। एकदिवसीय मैचों में भी इसी के समान 70 मैचों में 32.84 की औसत तथा 5.92 की इकोनॉमी से 98 विकेट उनके नाम हैं। ये आंकड़े शानदार तो नहीं हैं लेकिन इनके पीछे कहानी कुछ और है।

उमेश यादव, एक समय जो एक महत्वाकांक्षी कांस्टेबल थे, आज आरबीआई ऑफिसर बन गए हैं

भारत के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ लक्ष्मीपति बालाजी ने उमेश के एकदिवसीय मैचों में वापसी का महत्त्व समझाते हुए उन्हें भारतीय टीम का अभिन्न अंग बताया। विदर्भ के उमेश यादव ने अपना पिछला एकदिवसीय मैच जुलाई में खेला था।

बालाजी ने कहा ” भारतीय टीम के विकास में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उनकी तरफ ध्यान इसलिये नहीं गया क्योंकि उनके आंकड़े हमारे स्पिनर्स की तरह प्रभावशाली नहीं हैं। वह वर्तमान युग के फिट गेंदबाज़ों में से एक हैं और सबसे बड़ी बात वह तीनों प्रारूपों में एक साथ बिना किसी समस्या के खेल सकते हैं।”

” शायद यही वजह है कि उन्हें हर एक प्रारूप में चयनित किया जा रहा है। जब वह तरोताज़ा होते हैं तो 145 किमी/घंटे की गति प्राप्त कर सकते हैं। और उसी गति पर गेंद को घुमाने की कला उन्हें प्रभावशाली बनाती है”। पूर्व भारतीय ऑल राउंडर मदन लाल का भी उमेश की गेंदबाज़ी शैली के बारे में यही कहना है।

उमेश यादव से जुड़े 10 तथ्य – विदर्भ एक्सप्रेस

“भारत की जीत में स्पिनरों का योगदान प्रदर्शित होता है लेकिन वह ऐसा तभी कर पाते हैं जब तेज़ गेंदबाज़ शुरुआती विकेट दिलाते हैं। उमेश ने भारत को कई बार शुरुआती विकेट दिलाये हैं और उनमें विश्व के किसी भी बल्लेबाज़ का विकेट लेने की क्षमता है।”

“उनका गेंदबाज़ी रन अप और एक्शन परिपूर्ण तथा पूरे लय में है। अपनी गति से वह किसी भी बल्लेबाज़ को हैरान कर सकते हैं। शुरुआती विकेट दिलाने की क्षमता भारतीय टीम में उनके स्थान को और पक्का करती है।”

” किसका विकेट लिया, कितना विकेट लिया से अधिक महत्वपूर्ण है। उनमें मैच जिताऊ खिलाड़ियों का विकेट लेने की क्षमता है और बड़ी टीमों के खिलाफ यह बेहद उपयोगी साबित होता है। यह देखना सुखद है कि उनका उपयोग सही ढंग से किया जा रहा है।”

Source: Lacklustre numbers or not, Umesh Yadav a perfect fit

Summary
Review Date
Reviewed Item
Despite poor record Umesh Yadav is important | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: