राहुल द्रविड़ ने चयनकर्ताओं को युवराज सिंह, एमएस धोनी के लिए दिशानिर्देश का निर्धारण करने के लिए कहा

Dravid asks selectors to pick one from Dhoni Yuvraj

पूर्व कप्तान ने कुलदीप यादव के पक्ष में भी वकालत की है।

कहानी क्या है?

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों भारत की हार के बाद भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने चयनकर्ताओं से आग्रह किया है कि टीम में वरिष्ठ खिलाड़ियों जैसे एमएस धोनी और युवराज सिंह के लिए दिशानिर्देश तय किए जाए।

“यह एक ऐसा फैसला है जिसे चयनकर्ताओं और प्रबंधन को लेना होगा। वे भारतीय क्रिकेट के लिए दिशानिर्देश के रूप में क्या तय करते हैं, और इन दोनों क्रिकेटरों को अगले दो सालों में किस भूमिका देखते हैं। क्या इन दोनों के लिए कोई जगह है? क्या इनमें से केवल एक के लिए जगह है? “द्रविड़ ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो को बताया।

विवरण

भारत की अंडर -19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ का मानना है कि समय कम उम्र के खिलाड़ियों को सीमित प्रारूपों में जगह दिए जाने का है और यह देखने का भी है कि वे 6 महीने के समय में कहाँ है|

यदि उन्हें सफलता नहीं मिलती है, तो प्रबंधन हमेशा भविष्य में अनुभवी युवराज-धोनी के पास वापस लौट सकता है।

उन्होंने उम्मीद जताई कि वे वेस्ट इंडीज में खेलने वाली अंतिम ग्यारह के साथ प्रयोग करेंगे और टीम में युवा लड़कों को खेलने का समय देंगे, जो केवल उनके आत्मविश्वास को बढ़ावा देगा।

पूर्व कप्तान ने एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में उंगली के स्पिनरों की असफलता के बारे में भी बात की और कहा कि पिच की सपाट प्रकृति ने रूढ़िवादी स्पिनरों से संतुलन ले लिया है। इस प्रकार, उन्होंने कलाई के स्पिनरों के पक्ष में वकालत की और आशा व्यक्त की कि कुलदीप यादव टीम के साथ लम्बे समय तक रहे और कई मैचों में खेलें।

यदि आपको नहीं पता था ...

चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान द्वारा भारत को 180 रन से हराया गया। टीम अब वेस्ट इंडीज में 5 मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला खेलेगी। चयनकर्ताओं ने एक बड़े पैमाने पर अपरिवर्तित टीम का नाम रखा है और केवल रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमरा को चैंपियंस ट्राफी की टीम से बाहर किया है।

युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत और कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव को टीम में शामिल किया गया है।

आगे क्या होगा?

कप्तान विराट कोहली ने चैंपियंस ट्राफी की हार के बाद उच्चतम प्रदर्शन करने के बारे में बात की है और इसलिए यह देखना दिलचस्प होगा कि टीम वेस्ट इंडीज की स्थिति में मेजबान के खिलाफ कैसे समायोजित होती है जो कि खुद एक मजबूत एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगठन है।

इसके अलावा, टीम की रचना को ध्यान से देखा जाएगा।

लेखक का मत

राहुल द्रविड़ ने एक ईमानदार मूल्यांकन किया है और कई तरह से, उन्होंने बहुत सटीकता से, 2019 के विश्व कप तक भारत की योजना के बारे में बात की है।

आधुनिक क्रिकेट में, 4 और 5 क्रम की स्थिति अक्सर परिणाम को परिभाषित करती है और इसलिए इन दोनों जगहों पर युवराज और धोनी दोनों का टीम में होना, टीम के लिए नुकसानदेह सिद्ध हो सकता हैं, अब जबकि वे अपना सर्वश्रेस्ठ पीछे छोड़ आएँ हैं और यद्यपि उनके मैच- विजेता कौशल पर कोई प्रश्नचिन्ह नहीं है, पर अगर टीम को 2019 विश्व कप से पहले ढालाना है तो ये फैसला करना होगा।

कुछ युवा खिलाड़ियों को मौका दिए जाने में कोई नुकसान नहीं है और उनका निरीक्षण किया जाना चाहिए कि वे दबाव में कैसे प्रतिक्रिया करते हैं और फिर लगभग 6 महीनों से एक साल तक में फैसला करना चाहिए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Dravid asks selectors to pick one from Dhoni Yuvraj | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: