ऑस्ट्रेलिया के लिए भारत में स्टार्क का अपने चरम पर खेलना आवश्यक – ग्लेन मैकग्राथ (Glenn McGrath believes Starc critical for Australia in India)

Glenn McGrath believes Starc critical for Australia in India

ग्लेन मैक्ग्रा, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज, अपने दूसरे घर में वापस आ गए है। 46 वर्षीय एम आर एफ पेस फाउंडेशन के निर्देशक ने आने वाले बहुचर्चित “ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे” पर डीआरएस के तथा ऑस्ट्रलियाई बल्लेबाज़ों के बारे में बात की।

हाल में ही समाप्त हुई भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज़ एक प्रकार से मेहमान बल्लेबाज़ों के लिए स्पिन के खिलाफ एक जंग साबित हुई। क्या ऑस्ट्रेलिया को भी इसी चुनौती का सामना करना पड़ेगा?

हाँ, मुख्यतः आप ऑस्ट्रेलिया के इतिहास को देखे तो स्पिन एक संघर्ष ही रहा है। मुझे नही लगता की अभी भी हम इस समस्या का समाधान ढूंढ पाये है। कभी बहुत आक्रामक होते थे तो कभी बहुत रक्षात्मक। मैं बहुत पहले से कह रहा हूँ कि एशियाई जमीन पर बल्लेबाज़ी का सही उदाहरण मैथ्यू हेडन रहे है। उसने स्वीप शॉट खेलना अच्छे से सीख लिया था और भारत में इसी का उपयोग किया। जो भी स्वीप शॉट अच्छे से खेल सकता है, वह स्पिन भी खेल सकता है।

क्या आपको लगता है कि ऑस्ट्रेलिया को ज्यादा से ज्यादा स्पिन गेंदबाज खिलाने चाहिए या रिवर्स गेंदबाज़ी कर पाने वाले तेज गेंदबाज़ो को?

आपको यहा स्पिनर्स की जरूरत पड़ेगी। मेरे विश्वास से नाथन लायन और स्टेफेन ओ कीफे टीम में जरूर होने चाहिए। मुझे लगता है कि ऐतेहासिक तौर पर तेज़ गेंदबाजो ने स्पिनर्स से अच्छा काम किया है। आपको फिर भी अपनी ताकत पर ध्यान देना होगा। मिचेल स्टार्क जैसे गेंदबांज़ खतरनाक साबित हो सकते है, और ऑस्ट्रेलिया के लिए उन्हें अपने सर्वश्रेष्ठ पर रहना होगा। जोश हैज़लवुद ने भी शानदार प्रदर्शन किया है। दोनो ही लाजवाब
हैं|

उस्मान ख़्वाजा और पीटर हैनड्स्कोम्ब ऑस्ट्रेलिया ए की टीम में 2015 में भारत दौरे पर आये थे। क्या वो अनुभव सहायक होगा?

मेरे हिसाब से ज्यादातर खिलाड़ियों को यहा का अनुभव है, और निश्चित ही महत्वपूर्ण होगा। हैनड्स्कोम्ब जैसे खिलाड़ी ने अपना टेस्ट करियर शानदार तरीके से शुरू किया है। एवरेज 99.75 है और स्पिन का भी अच्छा खिलाड़ी है। मैं उसके प्रदर्शन को देखने के लिए उत्सुक हूँ। उस्मान भी एक अच्छी किस्म का बल्लेबाज़ है जो रन बनाने मैं माहिर हैं.

टॉस कितना अहम साबित होगा इस सीरीज़ में?

यह बहुत बड़ा भाग होगा। यदि आप हमारे श्रीलंका के दौरे पर गौर करे तो स्टीव स्मिथ करीबन 6-7 बार लगातार टॉस हारे थे। यह ऑस्ट्रेलिया में ज्यादा असरदार नही था लेकिन यहा एशिया मैं यह एक बहुत बड़ा फायदा है कि आप टॉस जीत कर हर बार बल्लेबाज़ी करे।

क्या क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने गेंदबाज़ी के लिए आपसे मदद मांगी?

फिलहाल तो नही। टीम के पास काफी अनुभवी सलाहकार तथा कोच है और खिलाड़ी भी अनुभवी है, उनके पास जरुरी सब कुछ है। मैंने कुछ लड़को से बात की और सब यहा खेल चुके है।

इंग्लैंड दौरे से ऑस्ट्रेलियाई क्या सीख सकते है?

उन्है वैसा ही खेलना होगा जैसा की वो पहले टेस्ट में खेले थे नाकि अंतिम चार मैचों जैसा। हमने भारत की गेंदबाजी और स्पिन की बहुत बात की मगर भारत की बल्लेबाजी भी अच्छी होती जा रही है,उनके पास 8वें नंबर तक अच्छे बल्लेबाज है। रन बनाना एक अलग बात है मगर आपको टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट लेना भी आना चाहिए।

आप डीआरएस (अंपायर डिसिशन रिव्यु सिस्टम ) को किस तरह देखते है जिसका इस्तेमाल हाल में ही भारत ने इंग्लैंड सीरीज के दौरान किया था?

मैं डीआरएस को जितना देखता हूं वो मुझे उतना ही नापसंद आता है। मेरे ख्याल से इसका इस्तेमाल ऐसा नहीं होना चाहिए। कभी-कभी ये अच्छे पलों को मारने का काम करता है। कोई गेंदबाज एक बड़ा विकेट लेता है और पूरी टीम उसका जश्न मानती है और फिर डीआरएस में वो बल्लेबाज नॉट आउट दिया जाता है, ये गेंदबाज के मन को बहुत नीचे गिरा देती है। मेरे ख्याल से फील्ड पर खड़े अंपायर पर ही डिसिशन छोड़ देना अच्छा है वो भले ही अच्छा हो या बुरा।

और यही सही तरीका भी है आखिर वो भी इंसान है। मेरे ख्याल से अगर अंपायर आपको आउट देता है तो वो ही मान्य होना चाहिए।

आज के क्रिकेट की कौन सी बात आपको सबसे ज्यादा हैरान करती है?

आज के क्रिकेट का सबसे अहम् मुद्दा ये की हर टीम अपने घरेलू मैदान पर तो अच्छा प्रदर्शन करती है मगर बाहर उतना ही बेकार प्रदर्शन करती है। इस साल में होने वाला दक्षिण अफ्रीका का बहरत का दौरा बहुत ही चुनौती पूर्ण होने वाला है , क्योंकि उनके पास शानदार गेंदबाजी भी है और उन्होंने यहाँ बहुत संघर्ष भी किया था। अगर भारत दक्षिण अफ्रीका,इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को इनके घरेलू मैदान पर हारती है तो उसे विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम कहा जा सकता है। ये मायने नहीं रखता की आप घरेलु मैदान पर कैसा खेलते है बल्कि आपका समंदर पार का प्रदर्शन बहुत मायने रखता है।

Source – ESPNCricinfo.com

Leave a Response

share on: