‘हार्दिक ने अपने करियर को नयी दिशा दे दी है’ – द्रविड़

Hardik Pandya has turned his career around - Dravid

भारत ए के कोच राहुल द्रविड़ के अनुसार, हार्दिक पांड्या ने “परिस्थितियों के अनुसार अपने खेल में बदलाव लाकर” अपने करियर को एक नयी दिशा दे दी है। द्रविड़ के अनुसार भारत ए के अन्य खिलाड़ियों को भी इस तकनीक का अनुकरण करने की जरुरत है।

राहुल द्रविड़ – भारत – रिकॉर्ड

पिछले साल द्रविड़ पांड्या के भारत ए टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर उनके कोच थे। वहाँ पर ही पहली बार इस ऑलराउंडर ने अपना स्वाभाविक आक्रामक खेल दिखाने और परिस्थिति के अनुकूल उसमें बदलाव करने में सक्षम होने के भी संकेत दिए। तब से पांड्या ने इस क्षमता का प्रदर्शन जारी रखा है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रही एकदिवसीय श्रृंखला में उन्होंने दो मैच विजयी पारियाँ अलग अलग अंदाज़ में खेलीं।

“मेरे हिसाब से हार्दिक के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि वह अपने प्राकृतिक अंदाज़ के अलावा परिस्थितियों के अनुकूल खेलने के लिए भी तैयार रहते हैं। अपने खेल में बदलाव लाने का पूरा श्रेय उन्हीं को जाता है। उन्होंने वास्तव में अपना करियर पूरी तरह बदल दिया है,” द्रविड़ ने कहा।

हार्दिक पांड्या – भारत – रिकॉर्ड

“यदि वह चार नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं तो एक विशेष तरीके से बल्लेबाजी करते हैं। अगर वह छह नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं, तो उनका तरीका कुछ और ही होता है। अब वह 80-4 वाली परिस्थिति में भी बल्लेबाजी कर सकते हैं, जैसे उन्होंने धोनी के साथ पहले वनडे में किया था। और यही आप देखना चाहते हैं। ‘अपना प्राकृतिक खेल खेलना चाहिए’, मैं हर समय यह बात सुनता हूँ और यह मुझे निराश करता है, क्योंकि मेरे विश्वास में ‘प्राकृतिक खेल’ जैसी कोई चीज ही नहीं है।”

“आप अलग-अलग परिस्थितियों में कैसे खेलते हैं यह सबसे महत्वपूर्ण है। जब स्कोर 30-3 हो या 250-3 हो, दोनों स्थितियों में आपको खेलने के लिए तैयार रहना होगा। क्या आप पहले ओवर में बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं या आप दोपहर के भोजन के बाद पहली गेंद खेलने के लिए तैयार हैं? आपको अलग-अलग परिस्थितियों में अलग तरह से बल्लेबाजी करना सीखना होता है, और यदि आप ऐसा कर सकते हैं जैसे हार्दिक अभी कर रहा है, तो यह एक विकासशील क्रिकेटर के लक्षण हैं। जो एक बार या दो बार नहीं बल्कि लगातार योगदान कर सकता है, वही भरोसेमंद खिलाड़ी है। भारत ए में हम ऐसी टीम बनाने की कोशिश कर रहे हैं जो हर मौसम, हर परिस्थिति और हर टीम के खिलाफ खेलने को तैयार हों।

एडम गिलक्रिस्ट ने भेजा वीरेंद्र सहवाग को सन्देश, ट्विटर पर लोगों ने की प्रशंसा

पांड्या के उदय से हमें पता चलता है कि भारत की अंडर -19 और ए टीमों, जिनको द्रविड़ ने दो साल से अधिक समय से प्रशिक्षित किया है, को मिलने वाले मौके उनके अंतर्राष्ट्रीय करियर के लिये कितने फायदेमंद साबित होते हैं और उन्हें परिपक्व बनाते हैं।

Source: ‘Hardik has turned his career around’ – Dravid

Summary
Review Date
Reviewed Item
Hardik Pandya has turned his career around - Dravid | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: