मुशफिकुर रहीम को नही लगता भारत के खिलाफ टेस्ट ऐतिहासिक होगा (Mushfiqur Rahim does not consider India test historic)

Mushfiqur Rahim does not consider India test historic

‘मैं नहीं मानता कि यह एक ऐतिहासिक टेस्ट है’ – मुशफिकुर रहीम

‘हम विश्व क्रिकेट को बताना चाहते हैं कि हम भारत में यह कर सकते हैं। मैं यह नहीं सोच रहा हूं की हम कितने सालों बाद खेल रहे हैं।’

बांग्लादेश के कप्तान मुशफिकुर रहीम ने भारत में अगले सप्ताह होने वाले अपने पहले टेस्ट मैच के ‘ऐतिहासिक’ चित्रण को यह कह कर खारिज कर दिया है कि यह बांग्लादेश के लिए एक अच्छा मौका है जिससे वह विश्व क्रिकेट में अपना योगदान दिखा सके। उन्हें यह भी उम्मीद है कि इस एक अलग टेस्ट में अच्छे प्रदर्शन के बाद उन्हें बीसीसीआई बार-बार आमंत्रित करेगा।

टीम ढाका के लिए 2 फरवरी को रवाना होगी जहां वह भारत ‘ए’ के खिलाफ दो दिवसीय मैच खेलेगी और हैदराबाद में होने वाला भारत के खिलाफ टेस्ट मैच बांग्लादेश का भारत में सन् 2000 में आईसीसी द्वारा पूर्ण सदस्यता मिलने के बाद पहला टेस्ट होगा। दिलचस्प बात यह है कि बीसीसीआई के हस्तक्षेप के बाद ही बांग्लादेश को एसोसिएट सदस्य से पूर्ण सदस्यता मिली और भारत ने 10 नवम्बर 2000 को उद्घाटन टेस्ट उनके खिलाफ खेला। भारत ने इसके बाद टेस्ट खेलने के लिए बांग्लादेश का चार बार दौरा किया।

“मैं थोड़ा हैरान हूँ, मैं नहीं मानता कि यह एक ऐतिहासिक टेस्ट है।” मुशफिकुर ने कहा। उदाहरण के लिए जब हम जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलते हैं तो दबाव अधिक होता है। क्योंकि अगर हम उनसे हार गये तो उस से भी ज्यादा शर्मनाक कुछ भी नहीं है। मुझे कहना होगा कि यह बेहतर है कि हम वहाँ अभी जा रहे हैं और न की पांच साल पहले।

“हम विश्व क्रिकेट को यह बताना चाहते हैं कि हम भारत में भी अच्छा कर सकते हैं। कितने साल बाद हम भारत में खेलने के लिए जा रहे हैं मैं इसके बारे में नहीं सोचता। हम इस तरह खेलना चाहते हैं कि भारत हमें बार-बार आमंत्रित करे। मेरे लिए यह सिर्फ एक टेस्ट मैच है।”

मुशफिकुर, जो उंगली की चोट के कारण न्यूजीलैंड में बांग्लादेश का अंतिम टेस्ट नहीं खेल पाए थे, फिर से टेस्ट टीम में वापस आ गये हैं, उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि टीम एक अच्छा सामूहिक प्रदर्शन करेगी। बांग्लादेश न्यूजीलैंड में दोनों टेस्ट मैच हार गई थी लेकिन घरेलू टीम को उन्होंने अच्छी टक्कर दी।

मुझे उम्मीद है की हाल ही में फार्म में रहे खिलाड़ियों की अपने फार्म पर अच्छी पकड़ होगी और सभी एक साथ एक टीम परफार्मेंस देंगे। और जो खिलाड़ी हाल के दिनों में अच्छा नहीं कर पाए हैं, तो उनके पास अपने आप को साबित करने का एक अच्छा मौका है।

उन्होंने कहा कि, एक टीम प्रयास हमें अच्छा परिणाम देगा। भारत एक मजबूत टीम है, और हमेशा अपने घरेलू स्थिति में अच्छा खेलती है। हम उनके खिलाफ पांचों दिन अच्छा करना चाहते हैं, और न सिर्फ दो या तीन दिन।

मुशफिकुर ने कहा कि बांग्लादेश की टीम संतुलित है, चार तेज गेंदबाजों और तीन विशेषज्ञ स्पिनरों के साथ बल्लेबाजी क्रम भी में गहराई है।

इमरूल कायेस, मोमिनुल हक और खुद मुशफिकुर की वापसी का मतलब है की बांग्लादेश के पास पूरी बल्लेबाजी ताकत है। सौम्य सरकार और इमरूल, तमीम इकबाल के सलामी जोड़ीदार की भूमिका के लिए प्रतियोगिता में होंगे वहीं महमूदुल्लाह, शाकिब अल हसन और सब्बीर रहमान से मध्यक्रम में रन बनाने की उम्मीद होगी।

वो क्या कंडीशन हमें देंगे इससे फर्क नहीं पड़ता, हम एक संतुलित टीम है। तेज गेंदबाजों और स्पिनरों के साथ हमारी बल्लेबाजी में भी गहराई है।

मुझे लगता है कि हमारे बल्लेबाजों के हाथों में उनके विश्व स्तर के अटैक के खिलाफ एक चुनौती होगी। एक गेंदबाजी इकाई के रूप में हम अनुभवहीन हैं, लेकिन एक-दो गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड में अच्छा प्रदर्शन किया था। यदि हम एक टीम के रूप में प्रदर्शन कर सकते हैं तो हम किसी भी अन्य टीम के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

Leave a Response

share on: