रिपोर्ट: विराट कोहली ने चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल से पहले अनिल कुंबले के साथ दुर्व्यवहार किया

Virat Kohli abused Kumble before final

कोहली ने कुंबले को कथित तौर पर कहा कि भारतीय टीम के सदस्य कुंबले को कोच के रूप में बरक़रार रखने के पक्ष में नहीं थे।

भारतीय टीम के मुख्य कोच के रूप में अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद एक और सनसनीखेज खुलासा सामने आया है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल से दो दिन पहले टीम की मीटिंग के दौरान,
कोहली ने कुंबले के साथ बहस की और वह उनके खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग भी कर गए।

कोहली ने कुंबले को कथित तौर पर कहा कि भारतीय टीम के सदस्य कुंबले को कोच के रूप में बरक़रार रखने के पक्ष में नहीं हैं। पूर्व भारतीय लेगस्पिनर मीडिया में चल रहीं अटकलों के बीच अपने पद को छोड़ चुके हैं। कई रिपोर्टों में भारत-ऑस्ट्रेलिया श्रृंखला के दौरान ही दोनों के बीच संभावित दरार का दावा किया गया था। कुंबले के पत्र में उन्होंने यह भी साफ़ किया कि कोहली को उनकी शैली के साथ दिक्कत थी और यह भी उनके फैसले के पीछे एक कारण है।

गावस्कर कुंबले के पक्ष में खड़े हैं

एनडीटीवी से बात करते हुए पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने उन रिपोर्टों को सिरे से नकार दिया जिनके मुताबिक लोग इस बात से नाराज़ थे कि कुंबले एक सख्त रवैये वाले कोच थे और खिलाड़ियों से अत्यधिक परिश्रम करवाते थे। “क्या आपलोग नरम दिल कोच चाहते हैं? आप चाहते हैं कि कोई आपको कहे, ‘ठीक है लड़कों, आज अभ्यास मत करो, क्योंकि तुम लोग ठीक नहीं महसूस कर रहे हो, ठीक है, छुट्टी ले लो, शॉपिंग करो’। लेकिन ऐसा सही नहीं होगा। आप उस तरह का एक व्यक्ति चाहते हैं जो कठिन परिश्रम पर बल देता है और आपको अनिल कुंबले जैसे परिणाम लाकर देता है।”

संजय बांगड़ के अंतरिम कोच के रूप में कार्यभार ग्रहण करने की उम्मीद है, जबकि आर श्रीधर क्षेत्ररक्षण कोच बने रहेंगे और एमवी श्रीधर के रूप में बीसीसीआई के जीएम ऑफ़ ऑपरेशंस टीम के प्रबंधक के रूप में पदभार संभालेंगे। हाल का घटनाक्रम इस तथ्य को स्थापित करता है कि कोच कुंबले और कोहली के बीच सच में अनबन थी। अनुभवी भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग उन आवेदकों में से एक है जिन्होंने कोच के पद के लिए आवेदन किया है।

पद के लिए आवेदन करने वाले अन्य उम्मीदवारों में ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी, इंग्लैंड के रिचर्ड पाइबस, पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज डोडा गणेश और भारत ‘ए’ के पूर्व कोच लालचंद राजपूत भी शामिल हैं।

मेन इन ब्लू प्रमुख कोच के बिना ही उनके दौरे के लिए कैरीबीयन रवाना हो चुके हैं। इस तरह बीसीसीआई के लिए यह बेहद महत्वपूर्ण हो गया है कि वह कुंबले की जगह नया कोच तलाशें क्योंकि टीम अगले दौरे पर श्रीलंका जल्द ही रवाना होने वाली है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Virat Kohli abused Kumble before final | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: