गेंदबाज़ी के समय मैं मुस्कुराता हूँ, मुकाबला करता हूँ और आक्रामक हो जाता हूँ : हार्दिक पांड्या

When I bowl - I smile - I fight - I show aggression says Hardik Pandya

श्रीलंका दौरे पर हार्दिक पांड्या का प्रदर्शन शानदार रहा। उन्होंने 178 रन बनाए और 4 विकेट लिये।

23 वर्षीय हार्दिक पांड्या के लिये श्रीलंका दौरा यादगार रहा। उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच खेला, पहले ही मैच में अर्धशतक लगाया, 2 मैचों के बाद अपना पहला शतक जड़ा और पूरे दौरे पर निरंतर अच्छा प्रदर्शन किया। गुजरात में जन्मे इस ऑल राउंडर ने अब तक 21 एकदिवसीय मैच खेले हैं जिसमे उन्होंने 308 रन बनाने के अलावा 23 विकेट चटकाए हैं।

अब जा कर एक संपूर्ण गेंदबाज़ी ऑल राउंडर की कमी पूरी हुई है। 2019 विश्व कप के लिये पांड्या, टीम का एक अहम हिस्सा हैं। एक एकदिवसीय मुकाबले में उन्हें बल्लेबाज़ी क्रम में ऊपर भी भेजा गया। उन्हें कप्तान विराट कोहली का समर्थन भी प्राप्त है जिन्होंने कई मौकों पर पांड्या की तुलना इंग्लैंड के ऑल राउंडर से की है।

हार्दिक पांड्या – भारत – रिकॉर्ड

कोहली चाहते हैं कि मैं अपना स्वभाविक खेल खेलूं- पांड्या

हिंदुस्तान टाइम्स से की गयी बातचीत में पांड्या ने बताया कि टेस्ट मैच खेलना उनका सपना था और श्रीलंका के खिलाफ उनका पहला शतक कितना महत्वपूर्ण था। उनके आक्रामक स्वभाव और शैली की तुलना भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से की जाती है, इस पर पांड्या ने कहा” विराट कोहली अत्यंत अनुशासित और आत्मविश्वास से परिपूर्ण हैं। मेरे अंदर भी आत्मविश्वास है और मैं उनकी तरह अनुशासित बनना सीख रहा हूँ। मैं उनसे लगातार सलाह लेता रहता हूँ और सीखता हूँ। भले ही मैं एक खुले विचारों वाला व्यक्ति दिखाई देता हूँ किन्तु मैं एक सीमा के अंदर रहने वाला व्यक्ति हूँ। भले ही मैं पार्टी करने वाला गैर जिम्मेदार खिलाड़ी नज़र आता हूँ लेकिन सदैव मेरा ध्यान मेरे खेल पर होता है। लोगों को इससे शिकायत हो सकती है लेकिन मेरा स्वभाव यही है।”

उत्साहित होना पसंद है: पांड्या

उन्होंने बताया कि कप्तान नहीं चाहते कि वह अपनी शैली बदलें। टीम चाहती है कि वह अपना स्वभाविक खेल खेलें ताकि वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें। हाल ही में उनकी हेयर स्टाइल इंटरनेट पर खूब चर्चित हुई जिसके बारे में उन्होंने कहा “मैं नयी चीज़ें करना पसंद करता हूँ और यह मैं स्वयं के लिये करता हूँ न कि किसी और के लिये, इसीलिये मुझे फर्क नहीं पड़ता कि किसी को यह पसंद आता है या नहीं। मैंने ऐसी हेयर स्टाइल रखी क्योंकि मुझे लगा कि ऐसा करना चाहिए। यह उसी प्रकार है कि खुद की खेती है और जो उगाना है उगा लो।”

हार्दिक पंड्या से जुड़े 12 उत्तेजक तथ्य – एक उभरता सितारा

अपनी आक्रामक शैली के बारे में बात करते हुए इस प्रतिभशाली युवा खिलाड़ी ने कहा कि गेंदबाज़ी करते समय वह उत्साहित हो जाते हैं “मैं उन खिलाड़ियों में से हूँ जो उत्साहित हो कर खेलते हैं। मैं अपने खेल पर ध्यान देता हूँ और आक्रामक हो जाता हूँ। मैं पहले भी इंटरव्यू में कह चुका हूँ कि यदि आप मुझसे मुकाबला करने आगे आएंगे तो मैं भी पीछे नहीं हटूँगा। बल्लेबाज़ी करते समय मैं अलग मुद्रा में होता हूँ और गेंदबाज़ी करते समय अलग। बल्लेबाज़ी करते समय मैं न तो मुस्कुराता हूँ और न ही कोई प्रतिक्रिया व्यक्त करता हूँ और जब मैं गेंदबाज़ी कर रहा होता हूँ तो मैं मुस्कुराता हूँ, मुकाबला करता हूँ और आक्रामक हो जाता हूँ और यह स्वभाविक है।”

Source: When I bowl, I smile, I fight, I show aggression: Hardik Pandya

Summary
Review Date
Reviewed Item
When I bowl, I smile, I fight, I show aggression: Hardik Pandya
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: