धोनी ने मुझे ओपनिंग करने के लिए कहा, और मेरा करियर बदल दिया – रोहित शर्मा

rohit-sharma-says-dhoni-changed-his-career

भारत के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा ने कहा है की धोनी ने इंग्लैंड में 2013 की चॅंपियन्स ट्रोफी में उनसे ओपनिंग करवा के उनका करियर सुधार दिया था. अपने पहले मॅच बतौर ओपनर रोहित शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ 93 गेंदों में 83 रन की पारी खेल भारत को 258 के लक्ष्य को सफलता पूर्वक पार करने में सहयोग दिया.

“मैं मानता हूँ की मुझसे ओपनिंग करने का निर्णय मेरे करियर कोअच्छे के लिए बदलने वाला साबित हुआ, और ये निर्णय धोनी ने लिया था. इसके बाद मैं एक बेहतर बल्लेबाज़ बना. वास्तविकता ये है की इसके बाद मैने अपने खेल को बेहतर समझा, और मैने परिस्थितियों का बेहतर सामना भी किया.” – रोहित ने कहा.

rohit-sharma-made-65-vs-south-africa-in-first-match-of-icc-champions-trophy-in-2013
rohit-sharma-made-65-vs-south-africa-in-first-match-of-icc-champions-trophy-in-2013

“धोनी मेरे पास आए और बोले की वो चाहते हैं की मैं ओपनिंग करूँ और उन्हे विश्वास है की मैं अच्छा प्रदर्शन करूँगा, क्योंकि तुम कट और पुल शॉट अच्छा खेलते हो, तुम में एक अच्छा ओपनर बनने के गुण हैं.”

“उन्होने मुझे कहा कि मैं विफलता और आलोचनाओं से ना डरूँ. उनकी नज़र बड़े लक्ष्य पर थी क्योंकि उसी वर्ष इंग्लैंड में चॅंपियन्स टॉफ़ी होनी थी.”

“अन्य भारतीय कप्तानों के लिया बिना किसी अनादर के मैं यह कहूँगा कि धोनी के अंडर खेलना मेरे लिए एक वरदान था. दबाव की स्थिति में उनका शांत स्वभाव हमारी मदद करता था. उन्होने हमेशा आगे बढ़ कर चुनौतियों का सामना किया है. उनके जैसा कोई नही होगा.”

rohit-sharma-209-vs-australia
rohit-sharma-209-vs-australia

चॅंपियन्स ट्रोफी में भारत के सफल अभियान में रोहित ने 5 मैचों में 35.40 की औसत से 177 रन बनाए, जिसमें श्रंखला के पहले मॅच में दक्षिण आफ्रिका के खिलाफ 81 गेंदों में 65 रन भी शामिल थे. उसी साल के अंत में बेंगालुरू के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओपनिंग करते हुए रोहित ने 209 रन बनाए और एक साल बाद श्रीलंका के खिलाफ अकेले ही 264 रन बनाकर कभी ना टूटने जैसा विश्व कीर्तिमान बनाया.

rohit-sharma-made-264-vs-sri-lanka
rohit-sharma-made-264-vs-sri-lanka

“इंग्लैंड में चॅंपियन्स ट्रोफी के बाद मुझे विश्वास हो गया था की मैं ओपनिंग कर सकता हूँ और इंग्लैंड जैसी स्विंग केअनुकूल परिस्थितियों में सुबह के मौसम में सफेद गेंद का सामना कर सकता हूँ.” – रोहित शर्मा ने कहा.

“मैने दक्षिण आफ्रिका के विरुद्ध 65 रन बनाए, जिस गेंदबाज़ी आक्रमण में मोर्ने मोरकेल, राइयन मक्लेरन, लोनवआबो ट्सोथसोबे और रॉरी क्लेंवेइल्दट जैसे गेंदबाज़ थे. मोरकेल और मक्लेरन तेज़ गति से छोटी गेंद कर रहे थे और ट्सोथसोबे स्विंग करा रहे थे. लेकिन कप्तान धोनी आश्वस्त थे की मैं इन्हे संभाल लूँगा और मैने वैसे ही किया.”

    महेंद्र सिंह धोनी – भारत – रिकॉर्ड

रोहित अभी जाँघ की सर्जरी से उभर रहें हैं जो उन्हे न्यूज़ीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रंखला के दौरान लगी थी. रोहित शर्मा के अनुसार उन्हे अभी छह से आठ हफ्ते और लग सकते हैं पूरी तरह से ठीक होने में.

“आप ऐसी स्थिति में कुछ नही कर सकते ओर ये मेरे साथ पहले भी हो चुका है.” – रोहित शर्मा ने कहा. “जिस बात का मुझे सबसे ज़्यादा अफ़सोस है वो ये की चोट मुझे उस समय लगी जब कि मैं न्यूज़ीलैंड के खिलाफ श्रंखला में अच्छा प्रदर्शन कर रहा थाऔर टेस्ट मैचों में लगातार 3 अर्धशतक बना चुका था.”

“मैनें दौड़ना शुरू कर दिया है और अगले हफ्ते से अपना बल्लेबाज़ी अभ्यास भी शुरू करूँगा. पहले बुनियादी अभ्यास, उसके बाद बौलिंग मशीन के सामने बल्लेबाज़ी करूँगा, और उसके बाद उचित नेट सत्र होगा.”

Leave a Response

share on: