डेविड वार्नर और फाफ डू प्लेसिस के बीच क्या समानताएं हैं? (Similarities between David Warner and Faf Du Plessis)

अगर पहली नज़र में देखें, तो फाफ डु प्लेसिस और डेविड वार्नर के बीच ज्यादा समानताएं नहीं हैं।

एक ने हाल के वर्षों में सबसे ज़बरदस्त रक्षात्मक पारी खेल कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी छाप छोड़ी है, जबकि अन्य की शैली में मुश्किल से रक्षात्मकता की कोई झलक भी है।

डु प्लेसिस ने एडिलेड में चौथी पारी में 466 मिनट क्रीज़ पर बिता कर 376 गेंदों में 110 रन बनाये जो की पुराने ज़माने की डट कर बल्लेबाज़ी करने की शैली का एक शानदार परिचायक था। जबकि वार्नर की भारत के खिलाफ पर्थ में 159 गेंदों में 180 रन की ताबड़तोड़ पारी उनकी शानदार बल्लेबाज़ी का एक अच्छा उदाहरण है।

टेस्ट में वार्नर स्पष्ट रूप से आगे हैं, उनके 60 मैचों के अनुभव की तुलना में डु प्लेसिस के पास 37 मैचों का ही अनुभव है और वार्नर ने प्लेसिस से दोगुने रन भी बनाये हैं। वहीं टेस्ट सैकड़ों के मामले में वार्नर के पास डु प्लेसिस की तुलना में 18-6 की बढ़त भी है।

वनडे में हालांकि उनके आंकड़े उल्लेखनीय रूप से समान हैं : दोनों ही 50 ओवर के प्रारूप में विशाल स्कोर कर के पिछले कुछ दिनों से सुर्खियों में रहे हैं। 26 जनवरी को एडिलेड में असहाय पाकिस्तानी गेंदबाज़ी को ध्वस्त करते हुए वार्नर ने 128 गेंदों पर तूफानी 179 रन बनाए, और दो हफ्ते बाद ही डु प्लेसिस ने केप टाउन में 141 गेंद में 185 रन की करिश्माई पारी खेल कर श्रीलंकाई आक्रमण को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। बीते लगभग दो सालों में वनडे में ये दो सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर हैं।

David-Warner-Faf-du-Plessis-records-in-ODI-in-Hindi
David-Warner-Faf-du-Plessis-records-in-ODI-in-Hindi

दोनों बल्लेबाज फ़िलहाल वनडे में अपने सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में चल रहे हैं, लेकिन इस प्रारूप के प्रारंभिक वर्ष दोनों के लिए संघर्ष से भरे रहे हैं, जो वार्नर की बल्लेबाज़ी की शैली को देखते हुए विशेष रूप से आश्चर्य की बात लगती है ।

2013 के अंत तक दोनों, डु प्लेसिस और वार्नर का वनडे में 40 परियों में 30 के नीचे का औसत था; वार्नर के 38 पारियों में दो ही शतक थे, और डु प्लेसिस 45 परियों में एक भी शतक लगाने में नाकामयाब रहे थे।तब से दोनों के औसत में लगभग दोगुनी बढ़ोतरी हुई है और सैकड़ों की संख्या में भी वृद्धि हुई – वार्नर के 53 परियों में 11 और डु प्लेसिस के 52 परियों में 8 शतक हमें देखने को मिले हैं।

David-Warner-Faf-du-Plessis-ODI-record
David-Warner-Faf-du-Plessis-ODI-record

पिछले तीन वर्षों में जिन 24 बल्लेबाज़ों ने 1500 से अधिक रन बनाए हैं, उनमें डु प्लेसिस का 58.24 का औसत केवल एबी डिविलियर्स के 69.40 के औसत से ही पीछे है, और उन्होंने 90.25 की ताबड़तोड़ स्ट्राइक रेट से ये रन बनाए हैं । इस अवधि के दौरान उन्होंने हर दो में से एक बार की दर से 52 पारियों में से 25 में पचास का आंकड़ा छुआ है, जो की एक शानदार उपलब्धि है। वहीं साल 2014 से पहले, वह यह कारनामा 45 में से 7 पारियों में ही कर पाये थे।

उनका प्रदर्शन सभी विपक्षी टीमो के खिलाफ सामान रूप से बेहतरीन रहा है। जिन टीमो के खिलाफ उन्होंने इस अवधि में एक बार से अधिक बल्लेबाजी की है, उनके खिलाफ उनका औसत 40 से अधिक रहा है, और नौ में से सात टीमों के खिलाफ 50 से अधिक।

इस अवधि के दौरान वार्नर के आंकड़े भी इसी तरह से प्रभावशाली रहे हैं, हालांकि उन्हें 2016 के दौरे पर श्रीलंका के खिलाफ संघर्ष करना पड़ा था।

डु प्लेसिस के आंकड़े उन्हें स्पष्ट रूप से वनडे बल्लेबाजों के विशिष्ट समूह में ला कर खड़ा करते हैं। हालाँकि बड़े बड़े नामो के बीच डु प्लेसिस को बेशक उतनी वाह वाही नहीं मिली जिसके वो हक़दार हैं। दूसरों ने सभी प्रारूपों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है , जबकि डु प्लेसिस का टेस्ट फार्म 2013 और 2015 के बीच खासा अच्छा नहीं था – इस अवधि के दौरान उन्होंने 35.36 की औसत से ही रन बनाये, और विशेष रूप से 2015 उनके लिए नागवार गुजरा।
हालांकि, टेस्ट कप्तानी संभालने के बाद उनके आँकड़ो में काफी सुधार हुआ है: अपने पिछले आठ टेस्ट मैचों में उन्होंने दो सैकड़ो के साथ 54.60 की शानदार औसत से रन बनाए। उन्हेे एक लंबी अवधि तक अपने टेस्ट फार्म को बरक़रार रखने की जरूरत है, लेकिन वनडे में वह स्पष्ट रूप से वार्नर, विराट कोहली, केन विलियमसन और जो रूट जैसे शीर्ष बल्लेबाजों की कतार में खड़े नज़र आते हैं।

Most-ODI-runs-by-no-3-batsmen-since-Jan-2014
Most-ODI-runs-by-no-3-batsmen-since-Jan-2014

वनडे में वार्नर के हाल के प्रदर्शन का स्तर डु प्लेसिस से भी ऊँचा रहा है। अपनी पिछली 15 पारियों में उन्होंने क्रमशः 106, 48, 40, 50, 117, 6, 173, 24, 119, 156, 7, 16, 35, 130, 179 – कुल 1206 रन 80.40 की औसत और 110.33 के स्ट्राइक रेट से बनाये हैं, इनमें सात शतक और एक अर्धशतक भी शामिल है। किसी भी बल्लेबाज ने लगातार 15 पारियों में इससे अधिक रन नहीं बनाए हैं – अप्रैल और अक्टूबर 1998 में सचिन तेंदुलकर द्वारा बनाये गए 1105 रन वार्नर के बाद सर्वश्रेष्ठ है। यह वार्नर के वनडे में दबदबे को दर्शाता है।

वार्नर के 15 परियों में सात सैकड़ो का कीर्तिमान भी अपने आप में सर्वश्रेष्ठ है, इससे पहले किसी ने इतनी परियों में 6 से अधिक शतक नहीं लगाए थे। अपनी पिछली 12 पारियों में वार्नर ने 1012 रन बनाए हैं, जो सबसे कम परियों में 1000 रन बनाने का रिकॉर्ड है। तेंदुलकर और कोहली ने यह कीर्तिमान 13 परियों में हासिल किये हैं।

David-Warner-most-runs-in-consecutive-15-ODI-innings
David-Warner-most-runs-in-consecutive-15-ODI-innings

वार्नर ने दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के खिलाफ अपनी पिछली तीन वनडे श्रृंखलाओं में से प्रत्येक में दो शतक बनाये हैं । वनडे इतिहास में किसी अन्य खिलाड़ी ने इस कीर्तिमान को हासिल नहीं किया है, हालांकि कोहली और अमला ने दो श्रृंखलाओं में इस रिकॉर्ड को हासिल किया है।

इसके अलावा, वार्नर ने अपनी पिछली नौ पारियों में से तीन में 150 से ज्यादा का स्कोर बनाया है जो की एक रिकॉर्ड है । तेंदुलकर की 17 पारियों और रोहित शर्मा की 20 परियों की तुलना में लगभग आधे से कम समय में वार्नर ने यह सफलता हासिल की।

वार्नर और डु प्लेसिस पिछले दो सालों में अपने करियर के सर्वश्रेष्ट फॉर्म में रहे हैं। उनके लिए साल के अंत में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी के समापन तक इस फॉर्म को बरक़रार रखना ही असली चुनौती होगी।

Leave a Response

share on: