स्मिथ पर केवल 1 मैच के प्रतिबंध के फैसले के बाद लालू प्रसाद ने अपने मामले की सुनवाई आईसीसी में करवाने की अपील की!

After Smith's 1 match ban Lalu wants ICC to take his trial

सी बी आई के विशेष न्यायाधीश शिव पाल सिंह ने चारा घोटाले में लालू प्रसाद को सात साल जेल की कड़ी सजा दी जिसके बाद लालू प्रसाद का राजनीतिक कैरियर लगभग खत्म ही हो जाएगा। दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका में आई सी सी प्रमुख डेविड रिचर्डसन ने ऑस्ट्रलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ पर एक मैच का प्रतिबंध और 100% मैच फीस का जुर्माना लगाकर छोड़ दिया।

ए बी डिविलियर्स को भारतीय टीम में शामिल करने के लिए विराट कोहली ने मांगी अमित शाह से मदद!

आर जे डी कार्यकर्ता आश्वस्त हैं कि लालू अपने फैसले के खिलाफ उच्च न्यायालय जाएंगे लेकिन बॉल टेम्परिंग मामले के बाद अब लालू अपने मामले की सुनवाई के लिए आई सी सी जाने की तैयारी में हैं। लालू ने अंतरराष्ट्रीय न्याय के फायदे भी गिनाए हैं। उनके अनुसार –

1. आई सी सी एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है तो वहां कोई भेदभाव नहीं होगा।

2. फैसला तुरन्त सुनाया जाएगा जैसे कि स्टीव स्मिथ के मामले में हुआ।

3. भारत की अदालतों में पहले से ही इतने मामले हैं ऐसे में उन्हें भी राहत मिलेगी।

केजरीवाल ने ज़ुकरबर्ग से कहा ‘मैं माफीनामा तैयार करने में आपकी मदद करूँगा’!

लालू के निवेदन को देखते हुए ए राजा, पी चिदंबरम और मधु कोड़ा जैसे नेताओं ने सरकार से एक विधेयक पारित करने का निवेदन किया है जिसके अंतर्गत नेताओं के मामले की सुनवाई आई सी सी में ही होगी। आई सी सी के लिए यह प्रस्ताव उनके राजस्व में वृद्धि के लिए उपयोगी साबित होगा क्योंकि वे भारतीय न्यायालयों के गलत फैसलों पर उनसे जुर्माना वसूल सकते हैं। अब देखना यह है कि सरकार इस प्रस्ताव को कितनी गम्भीरता से लेती है। हालांकि आई सी सी के निर्णय करने की गति कछुए की चाल से चल रही भारतीय न्यायपालिका के लिए वरदान साबित हो सकती है।



Source: After Smith escapes with only a one match ban, Laloo Prasad requests his trial to be moved to ICC

Summary
Review Date
Reviewed Item
After Smith's 1 match ban Lalu wants ICC to take his trial!
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: