जॉर्ज बेली – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

George Bailey Records

पूरा नाम – जॉर्ज जॉन बेली

जन्म – 7 सितंबर, 1982, लॉन्सेस्टन, तस्मानिया

प्रमुख टीमें – ऑस्ट्रेलिया, स्कॉटलैंड, ऑस्ट्रेलिया ए, चेन्नई सुपर किंग्स, हैम्पशायर, होबार्ट तूफान, किंग्स इलेवन पंजाब, मेलबॉर्न सितारे, मिडलसेक्स, राइजिंग पुणे सुपरग्रियां, ससेक्स, तस्मानिया, तस्मानिया अंडर -19

उपनाम – हेक्टर

भूमिका – शीर्ष क्रम के बल्लेबाज

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्ले

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के मध्यम

टेस्ट पदार्पण (कैप 436) – 21 नवंबर 2013 बनाम इंग्लैंड
अंतिम टेस्ट – 3 जनवरी 2014 बनाम इंग्लैंड

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 195) – 16 मार्च 2012 बनाम वेस्टइंडीज
अंतिम एकदिवसीय – 9 दिसंबर 2016 बनाम न्यूजीलैंड
वनडे शर्ट नंबर 2

टी 20 पदार्पण (कैप 55) – 1 फरवरी 2012 बनाम भारत
अंतिम टी 20 – 6 सितंबर 2016 बनाम श्रीलंका

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 5 183 53 26.14 58.84 0 1 15 8 10
ODIs 90 3044 156 40.58 83.51 3 22 222 57 48
T20Is 30 473 63 24.89 136.7 0 2 37 20 10
First-class 144 9407 200* 40.2 54.7 23 48 124
List A 261 8034 156 37.19 85.03 11 51 117
T20s 179 3452 89* 28.29 129.23 0 20 295 98 74
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 5
ODIs 90
T20Is 30
First-class 144 0 3.43 0 0 0
List A 261 1 1/19 1/19 40 4.52 53 0 0 0
T20s 179 0 12 0 0 0



7 सितंबर, 1982 को जन्मे, जॉर्ज बेली को 2005-06 के सीजन के दौरान तस्मानिया के लिए खेलने के लिए चुना गया था क्योंकि चोटों के कारण टीम परेशान थी।

बेली ने अपने चयन का पूरा फ़ायदा उठाया और 778 रन जड़े जिसमें तीन शतक शामिल थे। बल्लेबाजी में उनकी निरंतरता और रणनीतिक दाव-पेंच की समझ ने उन्हें 2009-10 के सत्र में तस्मानिया का कप्तान बनने में मदद की। 2010-11 के सत्र में तस्मानिया को उसकी दूसरी शेफ़ील्ड शील्ड जिताने में उनका अहम् योगदान था। बल्लेबाजी और नेतृत्व में उनका प्रदर्शन अनसुना नहीं रहा जिसके चलते उन्हें भारत के खिलाफ श्रृंखला के लिए ऑस्ट्रेलियाई टी -20 टीम में चुना गया। पिछले अनुभवों पर विचार कर चयनकर्ताओं ने एक साहसिक कदम उठाया और मौजूदा कप्तान कैमरन व्हाइट की जगह जॉर्ज बेली को टी 20 अन्तराष्ट्रीय का कप्तान बनाया । वे अपने दल को 2012 वर्ल्ड टी 20 में सेमी फाइनल तक ले गए और आखिरकार सेमी फाइनल में वेस्ट-इंडीज से हारे, जिन्होंने अंत में प्रतियोगिता जीती|

स्टीव स्मिथ – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

उन्हें एकदिवसीय सफलता वेस्टइंडीज के दौरे के दौरान मिली। एकदिवसीय प्रारूप में, बेली ने समान रूप से निरंतरता दिखाई जिसके कारण घरेलू सर्किलों में भी वह बल्लेबाजों की सारणी में सबसे ऊपर रहे और अब ऑस्ट्रेलियाई मध्य क्रम की धुरी बन गए हैं। जब नियमित कप्तान माइकल क्लार्क को जनवरी 2013 में श्रीलंका के खिलाफ पहले दो मैचों के लिए विश्राम दिया गया था तो वह एकदिवसीय कप्तानी के लिए पहली पसंद थे। बेली ने नई जिम्मेदारी को बखूबी निभाते हुए 89 रन बनाए और अपनी टीम को आराम से जीत दिलाई।

बेली ने अपना पहला एकदिवसीय शतक वाका में वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार 125 रनो के रूप में बनाया। यह पारी इसलिए अधिक महत्वपूर्ण थी क्योंकि उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम को 98/6 से बचाते हुए 266 रनों के एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुँचाया। देर से करियर शुरू करने के बावजूद, बेली जल्दी ही ऑस्ट्रेलियाई दल का एक अभिन्न अंग बन गए है।

शॉन मार्श – ऑस्ट्रेलिया/किंग्स इलेवन पंजाब – रिकॉर्ड

बेली आईपीएल के छठे सत्र तक चेन्नई के दल का हिस्सा थे जहाँ से छोड़े जाने के बाद वे नीलामियों में आश्चर्यजनक रूप से सूचीबद्ध नहीं हुए थे। बेली को उस ऑस्ट्रेलियाई एकदिवसीय टीम का कार्यवाहक कप्तान घोषित किया गया, जिसने भारत का दौरा किया। उनके लिए यह एक शानदार श्रृंखला रही जिसमें उन्होंने 95.60 के औसत से 478 रन बनाए, जिसमें व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 156 रन भी शामिल थे।



छोटे प्रारूपों में फॉर्म में वापसी के साथ-साथ उनके नेतृत्व की क्षमता और ड्रेसिंग रूम के सकारात्मक प्रभाव ने चयनकर्ताओं को आश्वस्त किया कि वह 2013-14 की आगामी एशेज के लिए ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम रहने योग्य हैं। हालांकि, बेली एडिलेड में जेम्स एंडरसन के एक ओवर में 28 रन मारने के अलावा ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और उन्हें दक्षिण अफ्रीका टेस्ट श्रृंखला के लिए टीम से हटा दिया गया। हालाँकि, सीमित ओवरों की क्रिकेट में, दाएं हाथ के इस बल्लेबाज का टीम में होना निश्चित रहा| उन्होंने बांग्लादेश में 2014 के विश्व टी 20 में टीम का नेतृत्व भी किया।

आरोन फिंच – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

2014 की आईपीएल नीलामी में, बेली को पंजाब ने सफेद गेंद की क्रिकेट में बल्ले से अच्छे प्रदर्शन के कारण खरीदा। बिग बैश लीग में, उन्होंने 2012 में होबार्ट हरिकेन की ओर जाने से पहले मेलबर्न स्टार्स का प्रतिनिधित्व किया।

कई अवसरों पर क्लार्क को चोट लगने से, बेली ने एकदिवसीय मैचों में ऑस्ट्रेलिया का नेतृत्व करना जारी रखा। हालांकि, उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए टी 20 अन्तराष्ट्रीय से सन्यास लेने का फैसला कर लिया। यह भी घोषणा की गई थी कि क्लार्क अगर समय से फिट नहीं होते तो, बेली 2015 के विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया का नेतृत्व करेंगे।

स्टीव स्मिथ की ऑस्ट्रेलियाई कप्तान के रूप में बढ़त ने बेली को किनारों पर रखा है और वह एकदिवसीय में अंतिम एकादश में जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

रिकी पोंटिंग – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

Summary
Review Date
Reviewed Item
George Bailey Records | Australia | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star
share on: