नाथन ल्योन – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

Nathan Lyon records in Hindi

पूरा नाम – नाथन माइकल लियोन

जन्म – नवम्बर 20, 1987, यंग, न्यू साउथ वेल्स

प्रमुख टीमें – ऑस्ट्रेलिया, एडिलेड स्ट्राइकर, ऑस्ट्रेलिया ए, ऑस्ट्रेलियाई कैपिटल टेरीटरी, ऑस्ट्रेलियाई कैपिटल टेरीटरी अंडर -17, ऑस्ट्रेलियाई कैपिटल टेरीटरी अंडर -19, न्यू साउथ वेल्स, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया, सिडनी सिक्सर्स

भूमिका – गेंदबाज

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के ऑफब्रेक

टेस्ट पदार्पण (कैप 421) – 31 अगस्त 2011 बनाम श्रीलंका

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 194) – 8 मार्च 2012 बनाम श्रीलंका

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 69 683 40* 11.77 44.52 0 0 87 3 32
ODIs 13 46 30 23 100 0 0 5 1 2
T20Is 1 0
First-class 122 1366 75 12.64 47.66 0 2 160 11 50
List A 55 182 37* 14 105.81 0 0 16 7 25
T20s 33 47 11 5.87 97.91 0 0 4 0 11
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 69 269 8/50 13/154 31.83 3.13 60.8 9 12 2
ODIs 13 17 4/44 4/44 34.82 4.93 42.3 1 0 0
T20Is 1 0 15 0 0 0
First-class 122 402 8/50 13/154 35.73 3.15 67.9 13 12 2
List A 55 71 4/10 4/10 33.64 4.84 41.6 4 0 0
T20s 33 41 5/23 5/23 19.48 7.28 16 1 1 0

20 नवम्बर, 1987 को जन्मे नाथन लियॉन ने कैनबेरा में मनुका ओवल में 4 साल का प्रशिक्षण समाप्त करने के बाद एडिलेड ओवल में ग्राउंड-स्टाफ टीम के सदस्य के रूप में अपना करियर शुरू किया।

जॉश हेज़लवुड – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

अपनी शानदार ऑफ-ब्रेक गेंदबाज़ी से वह दक्षिण ऑस्ट्रेलिया के बिग बैश कोच डैरेन बेरी की नज़रों में आये और उन्हें 2010-11 में रेडबैक टी20 टीम में शामिल किया गया। टी20 में प्रभावित करने के बाद, लियॉन ने शेफ़ील्ड शील्ड में दक्षिण ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व किया और घरेलू एकदिवसीय प्रतियोगिताओं में भी नज़र आये। जल्द ही उन्हें 2011 में जिम्बाब्वे ‘ए’ दौरे के लिए भी चयनित कर लिया गया, जहां उन्होंने त्रिकोणीय श्रृंखला में मैन ऑफ द सीरीज पुरस्कार हासिल करते हुए कुल 11 विकेट लिए थे।



घरेलू ​​स्तर पर उनके प्रयासों की अनदेखी भी नहीं की गयी। ऑस्ट्रेलिया शेन वॉर्न की सेवानिवृत्ति के बाद एक स्पिनर की तलाश में था और लियॉन के रूप में उन्हें वो खिलाड़ी मिल चुका था। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 3 मैचों वाली टेस्ट सीरीज के लिए राष्ट्रीय टीम के साथ दौरा किया। एक शास्त्रीय ऑफ स्पिनर जो गेंद को हवा में रखना पसंद करते हैं, लियॉन ने तुरंत सफलता प्राप्त की और गॉल में अपनी पहली पारी में ही 5 विकेट लिए। इससे वह ऐसा करने वाले 131 वें खिलाड़ी बन गए। शेष दौरे में वह सामान्य ही थे, लेकिन लियॉन में ऑस्ट्रेलियाई टीम को दीर्घकालिक संभावना दिख चुकी थी।

मिचेल स्टार्क – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

दिलचस्प तथ्य: जब उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुमार संगकारा को अपनी पहली गेंद पर ही आउट कर दिया, तो लियॉन अंतरराष्ट्रीय करियर की पहली गेंद पर विकेट लेने वाले 14 वें गेंदबाज और दूसरे ऑस्ट्रेलियाई भी बन गये। उन्होंने पहली पारी 5/34 के आंकड़े के साथ समाप्त की। एक टेस्ट मैच में अपनी पहली पारी में पांच विकेट लेने वाले वह 131 वें खिलाड़ी बने।

न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला के पहले टेस्ट मैच में लियॉन ने गाबा में ऑस्ट्रेलिया में अपना पहला टेस्ट मैच खेला। लियॉन ने पहली पारी में 4/69 और दूसरी पारी में 3/19 के आंकड़े दर्ज किए। किसी ऑस्ट्रेलियाई ऑफ स्पिनर द्वारा उस मैदान पर टेस्ट मैच में यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था।



अप्रैल 2013 में, इंग्लैंड में 2013 एशेज के लिए लियॉन को एकमात्र स्पिनर के रूप में टीम में नामित किया गया था। आखिरी समय में एशटन एगर को तरजीह दी गयी और लियॉन को लाइन-अप से बाहर कर दिया गया। हालांकि उन्हें तीसरे एशेज टेस्ट के लिए टीम में शामिल किया गया और चेस्टर-ले-स्ट्रीट में चौथे टेस्ट में उन्होंने पहले दिन 4/42 के आंकड़े दर्ज कराये और इंग्लैंड को पहली पारी में 238 रनों पर समेट दिया।

स्टीव स्मिथ – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

उन्होंने 2013 एशेज सीरीज़ के अंत तक टीम में अपनी पक्की जगह बना ली थी और कप्तान माइकल क्लार्क ने वापसी की एशेज सीरीज़ में किसी भी टेस्ट में उन्हें नहीं छोड़ा। उन्होंने रेयान हैरिस, मिशेल जॉनसन और पीटर सिडल की तेज़ गेंदबाज़ों की तिकड़ी को जबरदस्त समर्थन दिया। तब वह क्लार्क के सबसे भरोसेमंद गेंदबाज़ थे। जब भी उन्हें रन का प्रवाह रोकने की जरूरत होती थी तो वह लियॉन पर ही भरोसा करते थे। जब तेज गेंदबाज सफलता हासिल करने में सक्षम नहीं होते थे तो लियॉन ने आगे आकर कई महत्वपूर्ण साझेदारियाँ भी तोड़ीं। उन्होंने श्रृंखला में 19 विकेट लिए और इसी की बदौलत उन्होंने दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए टीम में अपना स्थान भी पक्का कर लिया। लियॉन ने 3 मैचों की श्रृंखला में 8 विकेट लिए और फिर से एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और उनकी टीम ने कड़े संघर्ष वाली श्रृंखला में 2-1 से जीत हासिल की।



जब टीम सीमित ओवर क्रिकेट खेल रही होती है तब लियॉन घरेलू सर्किट में अपना हाथ आजमा रहे होते हैं क्योंकि चयनकर्ता उन्हें एक विशुद्ध टेस्ट गेंदबाज के रूप में ही राष्ट्रीय टीम में चाहते हैं। उन्होंने 2013/14 के बिग बैश लीग में सिडनी सिक्सर्स का प्रतिनिधित्व किया और काफी अच्छा प्रदर्शन भी किया।

डेविड वार्नर – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

“नाथन लियोन अपनी गेंदबाजी पर बहुत कड़ी मेहनत करता है। वह ऑस्ट्रेलिया का सर्वश्रेष्ठ ऑफ स्पिनर है।” – शेन वॉर्न ने उनकी प्रशंसा करते हुए कहा जब वह तेज गेंदबाजों के अनुकूल पिचों पर भी विकेट लेने में कामयाब हो रहे थे। लियॉन को हमेशा ही एक उच्च स्तरीय गेंदबाज़ माना जाता रहा है। उन्होंने 2015 एशेज में भी विकेट लिए लेकिन खेल के छोटे संस्करण के लिए उन्हें अनदेखा किया गया। उन्होंने 2015-16 में घरेलू मैदान पर शानदार प्रदर्शन किया और भारत के खिलाफ 5 मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला के लिए टीम में उन्हें शामिल किया गया था। उस श्रृंखला के दौरान लियॉन औसत दर्जे का प्रदर्शन ही कर पाए और फिर से 2016 विश्व टी20 के लिए उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया। ऑस्ट्रेलिया के आयोजन से बाहर हो जाने के बाद क्रिकेट विशेषज्ञों ने इस बात की पुष्टि की, कि लियॉन अगर टीम का हिस्सा होते तो वह एक महत्वपूर्ण किरदार निभाते। आज तक हालांकि लियॉन ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के एक वरिष्ठ सदस्य हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Nathan Lyon Records | Australia | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: