सर डॉन ब्रॅडमन – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

Sir Don Bradman Records

पूरा नाम – डोनाल्ड जॉर्ज ब्रेडमैन

जन्म – 27 अगस्त, 1908, कुटमुंड्रा, न्यू साउथ वेल्स

मृत्यु – फरवरी 25, 2001, केंसिंग्टन पार्क, एडिलेड, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया (92 वर्ष 182 दिन की आयु)

प्रमुख टीमें – ऑस्ट्रेलिया, न्यू साउथ वेल्स, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया

उपनाम – द डॉन

बल्लेबाज़ी – शैली दाएं हाथ के बल्ले

गेंदबाजी शैली – लेगब्रेक

ऊँचाई – 5 फीट 7 इंच

टेस्ट पदार्पण (कैप 124) – 30 नवंबर 1928 बनाम इंग्लैंड
अंतिम टेस्ट – 18 अगस्त 1948 बनाम इंग्लैंड

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave 100 50 6s Ct
Tests 52 6996 334 99.94 29 13 6 32
First-class 234 28067 452* 95.14 117 69 131

 

Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 52 2 1/8 1/15 36 2.7 80 0 0 0
First-class 234 36 3/35 37.97 3.87 58.7 0 0



प्रतिभा एक ऐसा कारक है जो कि पैमाइश के क्षेत्र से बाहर है | चरम सीमा का माप लेना अचिंतनीय है | हालाँकि, जहां तक क्रिकेट की बात है, एक ऐसा व्यक्ति है जिसने प्रतिभा कि नपाई करने की सतह बनायी है |

सर डोनाल्ड जॉर्ज ब्रैडमैन, निःसंदेह ही इस नक्षत्र पर जन्म लेने वाले सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में से एक हैं | उनकी बल्लेबाज़ी ने खेल की परिभाषा ही बदल दी और उनकी प्रतिभा ने प्रतिद्वंद्वियों को अचंभित कर दिया |

सचिन तेंदुलकर – भारत – रिकॉर्ड

ब्रैडमैन की प्रतिभा का वर्णन कोई कैसे कर सकता है ? क्या उनकी विशालकाय सांख्यिकीय उपलब्धियों को संक्षेप में संक्रमित किया जा सकता है ?

यदि कोई अंक है जो कि ब्रैडमैन के क्रिकेट करियर का उचित वर्णन करता है, तो वह है 99.94, जो कि टेस्ट क्रिकेट में उनका औसत था | कुछ लोगों ने ही यह कल्पना की होगी कि बोराल का वह लड़का इस खेल का ऐसा प्रकांड व्यक्तित्व बन जायेगा, ख़ास कर कि जब 1928 के ब्रिस्बेन टेस्ट में इंग्लैंड के विरुद्ध उनके ख़राब पदार्पण को ध्यान में रखा जाये | ऑस्ट्रेलिया और ब्रैडमैन दोनों के लिए ही यह एक ख़राब मैच था, जहां उन्होंने केवल 19 रन बनाये और ऑस्ट्रेलिया को 675 रनों से शर्मनाक हार झेलनी पड़ी | एक ख़राब शुरुआत के बाद, ब्रैडमैन ने श्रृंखला का अंत 67 के औसत से 468 रनों के साथ किया | इसमें दो शतक भी शामिल थे और दुनिया को ब्रैडमैन की प्रतिभा की एक झलक भी दिख गयी |

यदि कोई ब्रैडमैन के वर्चस्व का वर्णन करे, तो इंग्लैंड के विरुद्ध 1930 की श्रृंखला ध्यान में आती है, जहां उन्होंने 139.14 के औसत से विशालकाय 974 रन बनाये थे | लॉर्ड्स में 254, लीड्स में 334 और ओवल में 232 रनों की पारियों ने लोगों को बहुत प्रभावित किया | 334 रनों की उनकी पारी, ने ख़ास तौर पर कई आंकड़े बनाये |वॉली हैमंड के बाद वे दूसरे ऐसे व्यक्ति बन गए जिसने 200 रनों के स्कोर लगातार मैचों में बनाये हो | उन्होंने लंच से पहले 100 रन बनाये और दिन की समाप्ति तक 309 रनों का आंकड़ा छू लिया | ऐसे कारनामे आज के तेज़-तर्रार क्रिकेट में भी देखने को नहीं मिलते|

ब्रायन लारा – वेस्ट इंडीज़ – रिकॉर्ड



ब्रैडमैन ने पूरे समय इंग्लैंड को सदमे में रखा और श्रृंखला के अंत तक इंग्लैंड को तहस-नहस कर दिया | उनके रन बनाने को रोकने के लिए इंग्लिश कप्तान डगलस जार्डाइन ने बॉडीलाइन का आविष्कार किया, एक पैंतरा जिसकी काफी आलोचना हुई जब इसके तहत छोटे पिच की गेंदों से चोट पहुँचाने का प्रयत्न किया जाता था | इससे इंग्लैंड को 1933 के एशेज में सफलता तो मिली, लेकिन ब्रैडमैन ने फिर भी 56 का औसत रखा | न सिर्फ ब्रैडमैन एक चकाचौंध वाले बल्लेबाज़ थे, पर वे बहुत बढ़िया कप्तान भी थे, जिसका चित्रण 1936-37 की श्रृंखला में दिखा |

इंग्लैंड ने 2-0 की स्कोर लाइन के साथ मेलबोर्न की ओर रुख किया और कुछ ही लोगों को उम्मीद रह गयी कि ऑस्ट्रेलिया पलटवार करेगा | इसके बाद जो हुआ, वो अद्भुत था | ऐसी पिच जो कि एक हफ्ते की बारिश के बाद पूरी गीली हो चुकी थी, उसपर ऑस्ट्रेलिया ने 200 रन बनाये और जवाब में इंग्लैंड को 76 रनों पर समेट दिया | ब्रैडमैन ने एक दबंग चाल में बल्लेबाज़ी क्रम को पूरी तरह उलट दिया | इस पैंतरे से काफी लाभ मिला और छठे विकेट के लिए ब्रैडमैन जैक फिंगलटन के साथ 346 रनों की साझेदारी में भागिदार बने, जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया ने 564 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया और मैच 365 रनों से जीत लिया |

इंग्लैंड का मनोबल पूरी तरह टूट गया और वो अगले दोनों मैच हार कर श्रृंखला 3-2 से गवाँ बैठा | टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह ऐसा इकलौता वाकया है जब ऑस्ट्रेलिया 2-0 से नीचे होने के बाद भी उलटफेर कर श्रृंखला के अगले तीनों मैच जीतने में कामयाब रहा हो |

सर विव रिचर्ड्स – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

दूसरे विश्व युद्ध ने ब्रैडमैन का करियर छोटा कर दिया और जब क्रिकेट 1946 में वापस शुरू हुआ, तब ब्रैडमैन का स्वास्थ्य बहुत अच्छा नहीं था | 1948 का इंग्लैंड दौरा उनका आखिरी था और उन्होंने ऐसी टीम का नेतृत्व किया जो कि इतनी प्रतिभावान थी कि उनका उपनाम ही ‘द इंविंसिबल्स’ पड़ गया था | ओवल में आखिरी बार बल्लेबाज़ी करने उतरे ब्रैडमैन को केवल 4 रनों की आवश्यकता थी ताकि वे उस 100 रनों की औसत के जादुई आंकड़े तक पहुँच जाए, लेकिन एरिक होलीस ने उन्हें शून्य पर आउट कर दिया | क्रिकेट के विशेषज्ञों और जनता में आश्चर्य कुछ इस कदर था कि इस पल को ‘भगवान की भूल’ नाम दे दिया गया था |

उनकी उत्तमता के बावजूद, ब्रैडमैन की भी कई कमज़ोरिया थी | बाये हाथ की परम्परावादी स्पिन और लेग स्पिन उन्हें परेशान करती थी | हेडली वेरिटी, उस समय के श्रेष्ठ बाए-हाथ के स्पिन गेंदबाज़ ने उन्हें 8 बार आउट किया | संन्यास के बाद वे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड के एक चतुर प्रशासक बन गए जिन्हे वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट को लेकर अपनी व्यावहारिक निगरानी के लिए जाना जाता है | वे एक निजी व्यक्ति थे और चकाचौंध से सदा दूर रहते थे | निमोनिया के कारण 25 फरवरी 2001 को उनका निधन हो गया | क्रिकेट के जगत में अपनी सभी उपमाब्धियों से परे भी, सर डॉन ब्रैडमैन बिना किसी शंका के, 20वी सदी में क्रिकेट खेलने वाले सर्वश्रेष्ठ लोगों में से एक हैं |



मज़ेदार तथ्य:

अपने 90वे जन्मदिवस पर ब्रैडमैन ने आधुनिक दौर के अपने दो पसंदीदा क्रिकेटरों, सचिन तेंदुलकर और शेन वॉर्न के साथ मुलाक़ात की मेज़बानी की थी | उन्होंने एक साक्षात्कार में टिपण्णी भी की |

रिकी पोंटिंग – ऑस्ट्रेलिया – रिकॉर्ड

जब उन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया, तब उन्होंने खुद के लिए एक खेल की रचना की | क्रिकेट के स्टंप का बार की तरह उपयोग किया और गोल्फ बॉल भी रखी | ईटों के स्टैंड पर रखी पानी की टंकी उनके घर के पीछे मौजूद थी | जब वे स्टैंड की घुमावदार ईंट पर गेंद मारते थे, तब गेंद पलट कर अलग-अलग कोणों पर तेज़ रफ़्तार से आती थी, और इस तरह उन्होंने अपने समय और एकाग्रता को विकसित करना सीखा |

ब्रैडमैन ने 1922 में स्कूल छोड़ दिया और एक स्थानीय अचल-संपत्ति एजेंट के साथ काम करने लगे | उन्होंने दो सालों तक टेनिस खेला लेकिन फिर क्रिकेट के कारण टेनिस छोड़ दिया |

एक श्रृंखला में ब्रैडमैन के रिकॉर्ड 974 रन किसी भी खिलाड़ी द्वारा टेस्ट इतिहास में एक श्रृंखला में सर्वाधिक रन है जो कीर्तिमान आज तक नहीं टूट पाया है | 1934 के दौरे के दौरान ब्रैडमैन ने अपना अपेंडिक्स हटवाया था और उन्हें खून की भी काफी हानि हुई थी | वे मृत्यु से भी जूझकर जीवित रहने में कामयाब रहे | दूसरे विश्व युद्ध की अवधि के दौरान ब्रॅडमन फ़िब्रोसिटिस नामक मांसपेशियों की समस्या से पीड़ित रहे और उनकी दृष्टि भी कमज़ोर हो गयी | 1941 में उन्हें सेना से भी अमान्य कर दिया गया |

सर गॅरी सोबर्स – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

टेस्ट रिकॉर्ड

ब्रैडमैन के पास टेस्ट क्रिकेट में निम्नलिखित महत्वपूर्ण रिकॉर्ड हैं:

सर्वाधिक कैरियर बल्लेबाजी औसत (न्यूनतम 20 पारी): 99.94

श्रृंखला में सर्वोच्च बल्लेबाजी औसत (4 या अधिक टेस्ट श्रृंखला खेलने वालों के बीच): 201.50 (1931-32) और दूसरा सबसे ज्यादा 178.75 (1947-48)

शतक और पारी का सर्वोच्च अनुपात: 36.25% (80 पारियों में 29 शतक)

दोहरे शतक और पारी का उच्चतम अनुपात: 15.0% (80 पारियों में 12 डबल शतक)

5वें विकेट के लिए सर्वश्रेष्ठ भागीदारी: 405 (1946-47 में सिड बार्न्स के साथ)

नंबर 7 के बल्लेबाज द्वारा सर्वाधिक स्कोरः 270 (1936-37)



एक प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ सबसे अधिक रन: 5,028 रन (बनाम इंग्लैंड)

एक श्रृंखला में सबसे अधिक रन: 974 (1930)

खेल के एक सत्र में सबसे अधिक बार शतक बनाने वाले: 6 बार

एक दिन के खेल में सर्वाधिक रन: 309 (1930)

सर्वाधिक दोहरे शतक: 12

श्रृंखला में सबसे अधिक दोहरे शतक: 3 (1930)

सर्वाधिक तिहरे शतक: 2 (क्रिस गेल, ब्रायन लारा और वीरेंद्र सहवाग के साथ बराबरी पर)

लगातार मैचों में सर्वाधिक शतक: 6 (1936-37 में अंतिम तीन टेस्ट, और 1938 में पहले तीन टेस्ट)

टेस्ट के इतिहास में 2 तिहरे शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज

सबसे कम टेस्ट मैचों में 1000 रन (7 मैच), 2000 रन (15 मैच), 3000 रन (23 मैच), 4000 रन (31 मैच), 5000 रन (36 मैच) और 6000 रन (45 मैच) बनाने वाले खिलाड़ी

सबसे कम पारियों में 2000 रन (22 पारी), 3000 रन (33 पारी), 4000 रन (48 पारी), 5000 रन (56 पारी) और 6000 रन (68 पारी) बनाने वाले खिलाड़ी

पहले और एकमात्र बल्लेबाज जो एक टेस्ट पारी में 299 रन पर नाबाद रहे थे

पांचवें स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए टेस्ट में ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले पहले बल्लेबाज और नंबर 5 की स्थिति पर किसी भी बल्लेबाज द्वारा दूसरा सबसे सर्वाधिक स्कोर (304 रन) बनाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है.

डॉन ब्रैडमैन का सभी देशों के विरुद्ध प्रदर्शन:

Batting Bowling
Opposition Matches Runs Average High Score 100 / 50 Runs Wickets Average Best (Inns)
 England
37 5028 89.78 334 19/12 51 1 51 1/23
 India
5 715 178.75 201 4/1 4 0  –  –
 South Africa
5 806 201.5 299* 4/0 2 0  –  –
 West Indies
5 447 74.5 223 2/0 15 1 15 1/8
Overall 52 6996 99.94 334 29/13 72 2 36 1/8

डॉन ब्रैडमैन का प्रथम श्रेणी क्रिकेट में प्रदर्शन:

Innings Not Out Highest Aggregate Average 100s 100s/inns
Ashes Tests 63 7 334 5,028 89.78 19 30.20%
All Tests 80 10 334 6,996 99.94 29 36.30%
Sheffield Shield 96 15 452* 8,926 110.19 36 37.50%
All First Class 338 43 452* 28,067 95.14 117 34.60%
Grade 93 17 303 6,598 86.8 28 30.10%
All Second Class 331 64 320* 22,664 84.8 94 28.40%
Grand Total 669 107 452* 50,731 90.27 211 31.50%

डॉन ब्रैडमैन के टेस्ट शतक:

No. Score Against Venue Venue Date Result
1 112
 England
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 29-Dec-28 Lost
2 123
 England
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 08-Mar-29 Won
3 131
 England
Trent Bridge, Nottingham Trent Bridge, Nottingham 13-Jun-30 Lost
4 254
 England
Lord’s Cricket Ground, London Lord’s Cricket Ground, London 27-Jun-30 Won
5 334
 England
Headingley, Leeds Headingley, Leeds 11-Jul-30 Drawn
6 232
 England
The Oval, London The Oval, London 16-Aug-30 Won
7 223
 West Indies
Brisbane Exhibition Ground, Brisbane Brisbane Exhibition Ground, Brisbane 16-Jan-31 Won
8 152
 West Indies
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 13-Feb-31 Won
9 226
 South Africa
The Gabba, Brisbane The Gabba, Brisbane 27-Nov-31 Won
10 112
 South Africa
Sydney Cricket Ground, Sydney Sydney Cricket Ground, Sydney 18-Dec-31 Won
11 167
 South Africa
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 31-Dec-31 Won
12 299*
 South Africa
Adelaide Oval, Adelaide Adelaide Oval, Adelaide 29-Jan-32 Won
13 103*
 England
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 30-Dec-32 Won
14 304
 England
Headingley, Leeds Headingley, Leeds 20-Jul-34 Drawn
15 244
 England
The Oval, London The Oval, London 18-Aug-34 Won
16 270
 England
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 01-Jan-37 Won
17 212
 England
Headingley, Leeds Headingley, Leeds 22-Jul-38 Won
18 169
 England
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 26-Feb-37 Won
19 144
 England
Trent Bridge, Nottingham Trent Bridge, Nottingham 14-Jun-38 Draw
20 102
 England
Lord’s, London Lord’s, London 28-Jun-38 Draw
21 103
 England
Headingley, Leeds Headingley, Leeds 23-Jul-38 Won
22 187
 England
The Gabba, Brisbane The Gabba, Brisbane 29-Nov-46 Won
23 234
 England
Sydney Cricket Ground, Sydney Sydney Cricket Ground, Sydney 13-Dec-46 Won
24 185
 India
The Gabba, Brisbane The Gabba, Brisbane 28-Nov-47 Won
25 132
 India
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 01-Jan-48 Won
26 127*
 India
Melbourne Cricket Ground, Melbourne Melbourne Cricket Ground, Melbourne 03-Jan-48 Won
27 201
 India
Adelaide Oval, Adelaide Adelaide Oval, Adelaide 23-Jan-48 Won
28 138
 England
Trent Bridge, Nottingham Trent Bridge, Nottingham 10-Jun-48 Won
29 173*
 England
Headingley, Leeds Headingley, Leeds 22-Jul-48 Won
Summary
Sir Don Bradman Records | Australia | CricketinHindi.com
Article Name
Sir Don Bradman Records | Australia | CricketinHindi.com
Author
Publisher Name
CricketinHindi.com
Publisher Logo

Leave a Response

share on: