क्रिस वोक्स – इंग्लैंड – रिकॉर्ड

Chris Woakes Records in Hindi

पूरा नाम – क्रिस्टोफर रोजर वोक्स

जन्म – 2 मार्च 1989, बर्मिंघम, वार्विकशायर

प्रमुख टीमें – इंग्लैंड, इंग्लैंड लायंस, इंग्लैंड अंडर -19, हैयरफोर्डशायर, कोलकाता नाइट राइडर्स, मैरीलेबोन क्रिकेट क्लब, सिडनी थंडर, वार्विकशायर, वेलिंगटन

भूमिका – गेंदबाज

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के तेज-मध्यम

ऊँचाई – 6 फुट 2 इंच

टेस्ट पदार्पण (कैप 657) – 21 अगस्त 2013 बनाम ऑस्ट्रेलिया

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 217) – 23 जनवरी 2011 बनाम ऑस्ट्रेलिया

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 18 675 66 32.14 47.43 0 3 83 1 9
ODIs 67 834 95* 25.27 87.32 0 2 58 8 30
T20Is 8 91 37 30.33 144.44 0 0 4 5 1
First-class 127 5083 152* 36.3 9 21 55
List A 143 1483 95* 22.81 87.8 0 2 105 20 43
T20s 102 708 55* 23.6 134.34 0 1 55 23 37
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 18 50 6/70 11/102 30.6 3.11 59 1 2 1
ODIs 67 94 6/45 6/45 31.45 5.58 33.7 8 2 0
T20Is 8 7 2/40 2/40 36.14 9.37 23.1 0 0 0
First-class 127 433 9/36 11/97 25.15 3.07 49 18 18 4
List A 143 167 6/45 6/45 33.89 5.52 36.7 10 2 0
T20s 102 109 4/21 4/21 24.77 8.21 18 1 0 0

2 मार्च 1981 को जन्मे क्रिस वोक्स ने अपना प्रथम श्रेणी मैच अगस्त 2006 में बर्मिंघम में वार्विकशायर के लिये, वेस्ट-इंडीज ‘ए’ के खिलाफ खेला | 2 साल बाद वोक्स ने सत्र में 20.57 की औसत से 42 विकेट लिये और अपनी टीम के लिये सबसे ज्यादा विकेट लिये | उनके अच्छे प्रदर्शनों की वजह से उनको इंग्लैंड लायंस टीम में शामिल किया गया | और उनको 2009 टी-20 विश्व कप के लिये अभ्यास टीम में शामिल किया गया |

मोईन अली – इंग्लैंड – रिकॉर्ड

उसी साल वेस्ट इंडीज के खिलाफ वोक्स को खेलना लगभग असंभव था | वोक्स ने इंग्लैंड लायंस के लिये वेस्ट इंडीज के खिलाफ एक अभ्यास मैच में पहली पारी में 43 रन देकर 6 विकेट लिये थे | वोक्स सिर्फ विकेट लेने वाले खिलाड़ी नहीं है, वो बल्ले से भी उपयोगी है | प्रथम श्रेणी मैचों में उनके नाम कुछ शतक भी है, जिसमे से सबसे अच्छा प्रदर्शन हैम्पशायर के खिलाफ उनकी नाबाद 131 रनो की पारी है | उस पारी के दौरान उन्होंने नौवे विकेट के लिये जोनाथन ट्रॉट के साथ मिल कर 222 रनो की साझेदारी की |

उनको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने का मौका टी-20 मैच में मिला | उन्होंने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच जनवरी 2011 में इंग्लैंड के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला | लेकिन कुछ समय पहले तक वो टीम के स्थायी सदस्य नहीं थे | वोक्स ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैच 2011 में सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला | ठीक एक सप्ताह के बाद, ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ, उन्होंने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और 45 रन देकर 6 विकेट लिये |

बेन स्टोक्स – इंग्लैंड – रिकॉर्ड

अगस्त 2013 में टिम ब्रेसनेन को चोट लगी और इस वजह से वोक्स को अपना पहला टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला | वोक्स ने अपना पहला टेस्ट एशेज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला | उसके बाद उन्होंने कुछ काउंटी मैच खेले और फिर बिग बैश लीग में सिडनी थंडर के लिये खेलने ऑस्ट्रेलिया चले गये | इसके बाद, वो श्री लंका ‘ए’ के खिलाफ कुछ प्रथम श्रेणी मैच खेलने के लिये इंग्लैंड लायंस के साथ श्री लंका गये | वोक्स को टी-20 विश्व कप 2014 के लिये बेन स्टोक्स (जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 मैच में ख़राब प्रदर्शन के बाद ड्रेसिंग रूम में अपने आप को चोटिल कर लिया था) की जगह टीम में शामिल किया गया |

राष्ट्रीय टीम में वापसी करने के बाद वोक्स ने सबको प्रभावित किया है | उनको भारत के खिलाफ घरेलु शृंखला के लिए टेस्ट टीम में भी शामिल किया गया | उसके बाद हुई एकदिवसीय शृंखला में वो इंग्लैंड के लिये भरोसेमंद गेंदबाज थे | जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के चोटिल होने के कारण वोक्स श्री लंका शृंखला में इंग्लैंड की गेंदबाजी आक्रमण की धुरी थे | और उन्होंने अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप प्रदर्शन किया और 7 मैचों की शृंखला में 14 विकेट लिये |

2015 विश्व कप इंग्लैंड के लिये निराशाजनक रहा और वोक्स के (निजी स्तर पर) अच्छे प्रदर्शन के बावजूद इंग्लैंड ग्रुप स्टेज में ही विश्व कप से बाहर हो गया | इसके बाद हुई एशेज शृंखला में वोक्स को इंग्लैंड टीम में जगह नहीं मिली, क्योंकि इंग्लैंड के गेंदबाजी आक्रमण में पहले से ही कई सितारे मौजूद थे | वोक्स अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन उन्होंने ऐसा कोई शानदार प्रदर्शन नहीं किया था, की उनको टीम में नियमित रूप से शामिल किया जाता | उसके बाद हुए एकदिवसीय शृंखला में वोक्स को टीम के अंदर-बाहर किया जाता रहा और इंग्लैंड वह शृंखला 2-3 से हार गया |

जो रुट – इंग्लैंड – रिकॉर्ड

स्टोक्स के मैच जिताऊ आल-राउंडर के रूप में उभरने के कारण वोक्स को किसी भी प्रारूप में टीम में जगह नहीं मिल पायी, क्योंकि दोनों को एक जैसा खिलाड़ी माना जाता था | और ऐसी धारणा है की टीम में विविधता होनी चाहिये | वो असल में टी-20 विश्व कप (जो इंग्लैंड के लिये निराशाजनक रहा) में इंग्लैंड टीम का हिस्सा भी नहीं थे | लेकिन स्टोक्स के चोटिल होने के कारण 2016 में श्री लंका के खिलाफ शृंखला में टीम में एक स्थान रिक्त हो गया | वोक्स ने मौके का फायदा उठाया | ब्रॉड, एंडरसन और फिन के टीम में उपस्थित होने के बावजूद वोक्स ने अपनी उपस्थिति का अहसास दिलाया | उसके बाद आया ब्रेकआउट टेस्ट | ऐसा टेस्ट जो लम्बे समय तक कई वजहों से लोगो को याद रहेगा | लॉर्ड्स में पाकिस्तान के मैच में 11 विकेट लेने के साथ-साथ उन्होंने दोनों पारियों में साहसी बल्लेबाजी की | और उसके बाद उस शृंखला में उन्होंने नियमित तौर पर शानदार प्रदर्शन किया | वोक्स अपने करियर के सुनहरे दौर में थे | उसके बाद वोक्स को ज्यादा अवसर नहीं मिले, और ये आश्चर्यचकित करने वाली बात है |

कुछ ऐसे मौके आते है जो किसी खिलाड़ी के करियर को परिभाषित करते है, और अच्छे के लिए बदलते है | पाकिस्तान का दौरा वह अवसर था | हालाँकि इंग्लैंड वह शृंखला हार गया |

इंग्लैंड ने जब आईपीएल के लिये दरवाजे खोले तो वोक्स ने उसमें हिस्सा लिया | आईपीएल 2017 वोक्स के लिए अच्छा रहा | वोक्स केकेआर की गेंदबाजी आक्रमण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गये और उन्होंने अपनी टीम (केकेआर) को ईडन गार्डन्स पर धीमी और तेज पिचों पर खेलने का अभ्यस्त बनाया |

Summary
Review Date
Reviewed Item
Chris Woakes Records | England | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: