पीयूष चावला – भारत – रिकॉर्ड

Piyush Chawla Records in Hindi

पूरा नाम – पीयूष प्रमोद चावला

जन्म – 24 दिसंबर, 1988, अलीगढ़, उत्तर प्रदेश

प्रमुख टीमें – भारत, एयर इंडिया, मध्य क्षेत्र, भारत ग्रीन, भारत अंडर -19, किंग्स इलेवन पंजाब, कोलकाता नाइट राइडर्स, राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष इलेवन, सॉमरसेट, ससेक्स, उत्तर प्रदेश

भूमिका – ऑलराउंडर

बल्लेबाजी शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज

गेंदबाजी शैली – लेगब्रेक

टेस्ट पदार्पण (कैप 255) – 9 मार्च 2006 बनाम इंग्लैंड
अंतिम टेस्ट – 13 दिसंबर 2012 बनाम इंग्लैंड

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 167) – 12 मई 2007 बनाम बांग्लादेश
अंतिम एकदिवसीय – 9 मार्च 2011 बनाम नीदरलैंड्स

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 3 6 4 2 26.08 0 0 1 0 1
ODIs 25 38 13* 5.42 65.51 0 0 3 0 9
T20Is 7 0 0 0 0 0 0 0 0 2
First-class 123 5047 156 31.94 5 34 52
List A 123 1484 93 21.5 92.63 0 8 101 49 34
T20s 193 1124 45* 14.78 123.51 0 0 97 41 51
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 3 7 4/69 4/133 38.57 3.29 70.2 1 0 0
ODIs 25 32 4/23 4/23 34.9 5.1 41 2 0 0
T20Is 7 4 2/13 2/13 37.75 6.56 34.5 0 0 0
First-class 123 418 6/46 11/170 32.71 3.27 59.9 21 23 3
List A 123 192 6/46 6/46 26.43 5.02 31.5 6 3 0
T20s 193 204 4/17 4/17 24.34 7.45 19.5 3 0 0

वह अंडर19 विश्व कप के एक और उत्पाद के रूप में देखे जा सकते हैं। उनका पाकिस्तान के खिलाफ तब एक अद्भुत अंतिम मैच रहा था जब 2006 के संस्करण में 4/8 के आंकड़े के साथ उन्होंने श्रृंखला समाप्त की। उन्होंने दिलिप ट्रॉफी में दक्षिण जोन के खिलाफ सेंट्रल जोन के लिए अपनी शुरुआत की और सबकी नज़रों में आ गए। इस प्रतिभाशाली युवा को जल्द ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिए बुला लिया गया और उन्होंने मार्च 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की। उनका पहला विकेट विस्फोटक ऑलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ का था। हालांकि यह ध्यान देने योग्य है कि उन्होंने अपनी अधिकतम क्षमता का इस्तेमाल नहीं किया और उसके बाद सिर्फ एक ही टेस्ट मैच खेल पाये।


24 दिसंबर, 1988 को अलीगढ़ में उनका जन्म हुआ। उन्होंने 15 वर्ष की उम्र में भारत की अंडर-19 टीम का प्रतिनिधित्व किया और वह उत्तर प्रदेश की अंडर-22 टीम का भी हिस्सा थे। उनका मुख्य हथियार वह ख़तरनाक गुगली गेंद है जिसने कई बल्लेबाजों को चकमा दिया है।

वह खेल के एक दिन के प्रारूप में और अधिक सफल रहे हैं। 2007 में इंग्लैंड के भारत दौरे के दौरान अपने खतरनाक लेग स्पिन से उन्होंने बल्लेबाज़ों को खूब परेशान किया। बल्ले और गेंद दोनों के साथ अपनी स्पष्ट प्रतिभा के बावजूद वह बल्ले से अभी तक कुछ ख़ास नहीं कर पाए हैं। वह टी -20 प्रारूप में और साथ ही एकदिवसीय प्रारूप में विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा बनने वाले बहुत कम खिलाड़ियों में से एक हैं। उनके प्रदर्शन ने हालांकि हम सभी को काफी निराश किया है।



2012 में इंग्लैंड के भारत दौरे के दौरान उन्हें राष्ट्रीय टीम में वापस बुलाया गया था और नागपुर में उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट खेला था। उसके बाद वह टी20 मैचों में भी नज़र आए। तब से वह भारतीय पक्ष में वापसी नहीं कर पाए हैं। हालांकि, वह घरेलू सर्किट में नियमित रहे हैं।

पीयूष ने आईपीएल के पहले तीन सत्रों में मामूली सफलता हासिल की और किंग्स इलेवन पंजाब का प्रतिनिधित्व किया। वह एकमात्र ऐसे भारतीय खिलाड़ी थे जिन्हें 900,000 डॉलर की भारी रकम के साथ नीलामी में वापस खरीदे गए थे। 2014 की आईपीएल नीलामी में चावला को कोलकाता नाइट राइडर्स ने खरीदा था

दिलचस्प तथ्य: 2006 के सत्र में चैलेन्जेर ट्राफी के मुकाबले में अपनी गुगली गेंद पर सचिन तेंदुलकर को आउट करके पियूष चावला ने राष्ट्रीय पहचान प्राप्त की।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Piyush Chawla Records | India | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: