रोबिन सिंह – भारत – रिकॉर्ड

Robin Singh Records in Hindi

पूरा नाम – रवींद्र रामानारायण सिंह

जन्म – 14 सितंबर, 1963 प्रिंसेस टाउन, त्रिनिदाद

प्रमुख टीमें – भारत, दक्षिण त्रिनिडाड, तमिलनाडु, त्रिनिदाद

बल्लेबाजी शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के मध्यम-तेज़

टेस्ट पदार्पण (कैप 217) – 7 अक्टूबर 1998 बनाम ज़िम्बाब्वे
अंतिम टेस्ट – 7 अक्टूबर 1998 बनाम जिम्बाब्वे

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 71) – 11 मार्च 1989 बनाम वेस्ट इंडीज
अंतिम एकदिवसीय – 3 अप्रैल 2001 बनाम ऑस्ट्रेलिया

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 1 27 15 13.5 50 0 0 4 0 5
ODIs 136 2336 100 25.95 74.3 1 9 33
First-class 137 6997 183* 46.03 22 33 109
List A 228 4057 100 26.51 1 20 56
T20s 2 38 38 38 122.58 0 0 2 1 1
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 1 0 3.2 0 0 0
ODIs 136 69 5/22 5/22 43.26 4.79 54.1 0 2 0
First-class 137 172 7/54 35.97 3.04 70.9 4 1
List A 228 150 5/22 5/22 39 4.65 50.2 1 2 0
T20s 2 1 1/9 1/9 9 9 6 0 0 0

त्रिनिदाद में जन्मे रॉबिन सिंह भारत के लिए खेलने वाले एक महत्वपूर्ण ऑल राउंडर थे। उन्होंने 1981-82 के समय अपना पहला प्रथम श्रेणी मैच तमिलनाडु टीम के साथ शुरू किया। एक अच्छा बल्लेबाज और गेंदबाज होने के साथ-साथ वह एक अच्छे क्षेत्र रक्षक भी रहे, जिसके कारण टीम में उनकी जगह मजबूत होती चली गई। बायें हाथ के इस सलामी बल्लेबाज ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच 11 मार्च 1989 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेला था। लेकिन जल्द ही उन्हें टीम सेबाहर का रास्ता दिखा दिया गया था और फिर 1996 टाइटन कप में पूरे सात साल बाद वापस बुला लिया गया था।

अजय जडेजा – भारत – रिकॉर्ड

उस समय तक रॉबिन सिंह काफी परिपक्व खिलाड़ी के रूप में उभर चुके थे और वह टीम से अपना स्थान खोना नहीं चाहते थे। उसके बाद उन्होंने भारत के लिए लगातार खेला और उनका एकमात्र एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय शतक 1997 में श्री लंका के खिलाफ बना। रॉबिन सिंह को श्री लंका के खिलाफ खेलने में बहुत आनंद आता था। वह ज्यादातर मध्यक्रम में ही बल्लेबाजी करने उतरते थे।

भारत के लिए रॉबिन सिंह की बेहतरीन पारियों में से एक 1998 में पाकिस्तान के खिलाफ इंडिपेंडेंस कप के तीसरे फाइनल में देखने को मिला। 315 रनों के एक बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए सिंह को तीसरे स्थान पर पदोन्नत किया गया था और उन्होंने सकारात्मक 83 गेंदों में 82 रन बनाए। इससे भी महत्वपूर्ण उनकी पारी थी जिसमें उन्होंने सौरव गांगुली के साथ 179 रनों की साझेदारी से भारत को जीत दिलाने में मदद की।

मोहम्मद अज़हरुद्दीन – भारत – रिकॉर्ड

यद्यपि सिंह ने 1998 में जिम्बाब्वे के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में अपनी टेस्ट मैच पारी की शुरुआत की थी, फिर भी उन्हें टेस्ट के लिए कभी नहीं चुना गया क्योंकि उन्हें लंबे प्रारूप के लिए अच्छा खिलाड़ी नहीं माना जाता था।। हालांकि उन्होंने एकदिवसीय प्रारुप में खेलना जारी रखा, जब तक उन्हें 2001 में टीम से बाहर नहीं किया गया था। तीन साल बाद उन्होंने सभी प्रकार के क्रिकेट छोड़ दिए और हांगकांग की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के कोच बन गए। उन्होंने 2008 में मुंबई इंडियंस से पहले कुछ भारत ‘ए’ पक्षों और डेक्कन चार्जर्स को भी प्रशिक्षित किया था। रॉबिन सिंह ने 2007 से 2009 तक भारत के क्षेत्र रक्षण कोच के रूप में भी काम किया।

शुरुआती जीवन

सिंह का जन्म 14 सितम्बर 1963 को प्रिंस टाउन त्रिनिडाड एन्ड टोबैगो में हुआ। उनके पिता रामनरायन और माता सावित्री सिंह भारतीय मूल के थे। 19 वर्ष की अवस्था मे सिंह मद्रास चले आए और अपने क्रिकेट कैरियर की शुरुआत में मद्रास विश्वविद्यालय से इकोनॉमिक्स में मास्टर डिग्री प्राप्त की। वर्तमान में वह चेन्नई में अपनी पत्नी सुजाता और बेटे धनंजय के साथ रहते हैं जबकि उनके माता पिता और भाई बहन अभी भी त्रिनिडाड एन्ड टोबैगो में रहते हैं।

कोचिंग कैरियर

सन्यास के बाद जल्द ही उन्होंने अपने कोचिंग कैरियर की शुरुआत की। वह पहली बार भारत अंडर 19 टीम के कोच बने। 2004 में वह हांगकांग टीम के कोच बने और टीम एशिया कप 2004 के लिए चयनित हुई। 2006 में सिंह भारत ए टीम के कोच नियुक्त हुए जहां उन्होंने गौतम गंभीर और रॉबिन उथप्पा जैसे खिलाड़ियों को कोचिंग दी। सिंह की कोचिंग से कई खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए चयनित हुए। 2007 में वह भारतीय टीम के फील्डिंग कोच नियुक्त किए गए और 2008 में आई पी एल टीम डेक्कन चार्जर्स के मुख्य कोच बने।

सिंह अक्टूबर 2009 तक भारतीय टीम के फील्डिंग कोच रहे और अभी मुम्बई इंडियंस के बल्लेबाज़ी कोच हैं। मुम्बई इंडियंस के 2010 में उपविजेता बनने से लेकर 2013, 2015 और 2017 में आई पी एल खिताब जीतने में तथा 2011 और 2013 में चैंपियंस लीग टी 20 खिताब जीतने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही।

सिंह ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खुलना डिवीज़न क्रिकेट टीम को कोचिंग दी जहाँ उन्होंने ड्वेन स्मिथ और आंद्रे रसेल जैसे खिलाड़ियों की प्रतिभा को उभारा। 2012 में उनकी ही कोचिंग में यू वी ए क्रिकेट टीम ने श्रीलंका प्रीमियर लीग का खिताब जीता।

वह बारबाडोस ट्राइडेंट्स के भी कोच हैं। उनकी कोचिंग में टीम एक बार खिताब जीत चुकी है जबकि दो बार फाइनल और एक बार सेमीफाइनल तक पहुँची है।

2011 में सिंह ने सीनियर और जूनियर अमेरिकी क्रिकेट टीम को भी कोचिंग दी। बांग्लादेश में विश्व कप क़्वालीफायर टूर्नामेंट में सिंह ने अमेरिकी महिला क्रिकेट टीम को कोचिंग दी।

रोबिन सिंह के एकदिवसीय शतक:

One Day International centuries of Robin Singh
Runs Against City/Country Venue Date Result
100 Sri Lanka Colombo, Sri Lanka Sinhalese Sports Club Ground 23 August 1997 No result

रोबिन सिंह के एकदिवसीय क्रिकेट में मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड:

No. Opponent Venue Date Match Performance Result
1 Sri Lanka Nehru Stadium, Guwahati 22 December 1997 5-0-22-5, 1 ct. ; DNB India won by 7 wickets
2 Sri Lanka Sinhalese Sports Club Ground, Colombo 29 August 1999 4* (4 balls) ; 7-0-27-2, 1 Ct. India won by 23 runs (D/L)
Summary
Review Date
Reviewed Item
Robin Singh Records | India | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: