शिवलाल यादव – भारत – रिकॉर्ड

Shivlal Yadav Records in Hindi

पूरा नाम – नंदलाल शिवलाल यादव

जन्म – 26 जनवरी, 1957, हैदराबाद, आंध्र प्रदेश

प्रमुख टीमें – भारत, हैदराबाद (भारत)

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं-हाथ के ऑफब्रेक

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत													 	मॅच 	पारी	नाबाद	रन	सर्वाधिक स्कोर	औसत	गेंद खेलीं	स्ट्राइक रेट	शतक	अर्धशतक	छ्क्के	कॅच	स्टमपिंग टेस्ट	35	40	12	403	43	14.39			0	0	1	10	0 एकदिवसीय	7	2	2	1	1*	-	16	6.25	0	0	0	1	0 प्रथम श्रेणी	112	114	32	1502	97*	18.31			0	2		53	0 लिस्ट ए	20	9	4	70	19	14			0	0		7	0
Shivlal-Yadav-Batting-and-Fielding-records-in-Hindi

गेंदबाज़ी औसत													 	मॅच 	पारी	गेंदें	रन	विकेट	बेस्ट/पारी	बेस्ट/मॅच	औसत	रन प्रति ओवर	स्ट्राइक रेट	4 विकेट	5 विकेट	10 विकेट टेस्ट	35	61	8360	3580	102	5/76	8/118	35.09	2.56	81.9	8	3	0 एकदिवसीय	7	7	330	228	8	2/18	2/18	28.5	4.14	41.2	0	0	0 प्रथम श्रेणी	112		23846	10609	330	6/30		32.14	2.66	72.2		15	0 लिस्ट ए	20		1019	684	27	4/37	4/37	25.33	4.02	37.7	1	0	0
Shivlal-Yadav-Bowling-records-in-Hindi

पेशे से ऑफ स्पिनर शिवलाल नन्दलाल यादव ने भारत के लिए 35 टेस्ट और 7 एकदिवसीय मैच खेले। उनका टेस्ट पदार्पण उस समय हुआ जब प्रसिद्ध भारतीय स्पिनरों की चौकड़ी (इरापल्ली प्रसन्ना, श्रीनिवास वेंकटराघवन, बिशन सिंह बेदी और बी एस चंद्रशेखर) अपने अंतिम समय में थी।

टेस्ट क्रिकेट में शिवलाल के पूर्वजों ने जो सफलता प्राप्त की थी, वैसी सफलता दिलाना आसान नहीं था। हालाँकि शिवलाल ने अपने उल्लेखनीय प्रदर्शन से भारतीय टेस्ट टीम से लगभग 8 वर्षों तक जुड़े रहे। 80 के शुरुआती दशक में उन्होंने रवि शास्त्री और दिलीप दोषी के साथ एक अजेय स्पिन तिकड़ी बनायी।

गेंद को ज़्यादा घुमाने के लिए नही लेकिन शिवलाल, कप्तान के लिए हमेशा एक भरोसेमंद विकल्प थे। कम खर्चीले होने के साथ साथ असाधारण सहनशीलता के चलते वह एक अत्यंत भरोसेमंद गेंदबाज़ बने। शिवलाल का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला में शानदार पदार्पण रहा। उन्होंने 5 टेस्ट में 24 विकेट लिए जिसमे 3 बार 4 विकेट या उससे अधिक लिए। उनकी अकस्मात सफलता ने वेंकटराघवन की जगह उन्हें दिलायी।

1981/82 में ख़राब प्रदर्शन के चलते शिवलाल टीम से बाहर हो गए लेकिन 1983 में वेस्ट इंडीज के भारत दौरे के दौरान वापस बुलाये गये। बॉम्बे(अब मुम्बई) में अपने वापसी टेस्ट में पहली पारी में वह 5 विकेट या उससे अधिक लेने में कामयाब रहे। 1985/86 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 टेस्ट मैचों की श्रृंखला में उन्होंने 15 विकेट लिए। सिडनी के आखिरी टेस्ट में उन्होंने अपने कैरियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 118 रन देकर 8 विकेट लिए और भारत को फॉलो ऑन खेलने से बचाया।

एक पारी में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1986 में श्रीलंका के खिलाफ था। नागपुर में खेले गये इस मुकाबले में पहली पारी में उनके प्रदर्शन 5/76 ने एक बड़ी भूमिका निभाई और भारत को पारी और 106 रन से जीत दिलाई। 1987 में पाकिस्तान के खिलाफ अपने अंतिम मैच में वह 100 विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों की सूची में शामिल हो गए। 7 एकदिवसीय मुकाबलों में 8 विकेट भी उनके नाम हैं।

सन्यास के बाद शिवलाल ने राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में कार्य किया और मोहम्मद अजहरुद्दीन को कप्तान बनाये जाने के लिए प्रसिद्ध हुए। 2000 से 2009 तक वह हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव रहे और 2013 में बी सी सी आई के उपाध्यक्ष चयनित हुए। 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें आई पी एल के मामलों को छोड़ कर बी सी सी आई का अंतरिम प्रमुख नियुक्त किया।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Shivlal Yadav Records | West Indies | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: