सलीम मलिक – पाकिस्तान – रिकॉर्ड

सलीम मलिक - पाकिस्तान - रिकॉर्ड

पूरा नाम – सलीम मलिक

जन्म – 16 अप्रैल, 1963, लाहौर, पंजाब

प्रमुख टीमें – पाकिस्तान, एसेक्स, हबीब बैंक लिमिटेड, लाहौर, सरगोधा

स्लिम के रूप में भी जाना जाता है

बल्लेबाजी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के मध्यम, दाएं हाथ के ऑफब्रेक

टेस्ट पदार्पण (कैप 90) – 5 मार्च 1982 बनाम श्रीलंका
अंतिम टेस्ट – 20 फरवरी 1999 बनाम भारत

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 38) – 12 जनवरी 1982 बनाम वेस्टइंडीज
अंतिम एकदिवसीय – 8 जून 1999 बनाम भारत

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत
मॅच रन सर्वाधिक स्कोर औसत स्ट्राइक रेट शतक अर्धशतक छ्क्के कॅच
टेस्ट 103 5768 237 43.69 15 29 7 65
एकदिवसीय 283 7170 102 32.88 76.41 5 47 81
प्रथम श्रेणी 269 16586 237 45.94 43 81 167
लिस्ट ए 426 11856 138 36.59 12 78 141
गेंदबाज़ी औसत
मॅच विकेट बेस्ट/पारी बेस्ट/मॅच औसत रन प्रति ओवर स्ट्राइक रेट 4 विकेट 5 विकेट
टेस्ट 103 5 1/3 1/3 82.8 3.38 146.8 0 0
एकदिवसीय 283 89 5/35 5/35 33.24 5.06 39.3 1 1
प्रथम श्रेणी 269 93 5/19 35.3 3.4 62.1 4
लिस्ट ए 426 160 5/35 5/35 29.35 4.9 35.9 3 1



ऊंचे बैकलिफ्ट की विशेषता वाली बल्लेबाज़ी और एक विशेष प्रकार का बिना छज्जे का हैल्मेट पहनकर खेलने वाले मध्यक्रम के एक आक्रामक बल्लेबाज़, सलीम मलिक को गेंद पर प्रहार करके ऑफ-साइड पर स्क्वायर क्षेत्र में भेजना बहुत पसंद था। उन्होंने परिस्थितियों के अनुसार अपनी खेलने की योजना में सावधानी और सतर्कता को शामिल करते हुए टेस्ट क्रिकेट में अपनी तकनीक को दोबारा ढाला/तैयार किया। वर्ष 1982 में टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट में अपना पदार्पण करने के बाद, मलिक स्वयं को टीम में नियमित खिलाड़ी के तौर पर स्थापित करने के लिए लगातार प्रयास करते रहे। उन्होंने एकदिवसीय क्रिकेट में 7170 रन बनाने के अलावा टेस्ट क्रिकेट में 5768 रन बनाए थे। मलिक ने 12 टेस्ट मुकाबलों में पाकिस्तान की टीम का नेतृत्व भी किया था, जिसमें से 7 मुकाबले पाकिस्तान ने जीते थे।

जावेद मियांदाद – पाकिस्तान – रिकॉर्ड

हालांकि, मैच फिक्सिंग के एक आरोप ने उनके क्रिकेट करियर पर एक दाग़ लगा दिया था क्योंकि वर्ष 2000 में ऑस्ट्रेलिया के तीन शीर्ष/ प्रसिद्ध क्रिकेट खिलाड़ियों ने मलिक पर खराब प्रदर्शन करने के एवज़ में घूस देने की पेशकश करने का आरोप लगाया था और इस आरोप के कारण मलिक मैच फिक्सिंग के लिए आजीवन प्रतिबंध झेलने वाले क्रिकेट के पहले खिलाड़ी बने थे।



लगभग एक दशक बाद, लाहौर में एक स्थानीय अदालत ने इस प्रतिबंध को रद्द कर दिया और उन पर लगे मैच-फिक्सिंग के सभी आरोपों को हटा दिया गया।

रोचक तथ्य : 18 वर्ष की आयु में मलिक ने टेस्ट क्रिकेट में अपने पदार्पण मुकाबले में शतक बनाया था और ऐसा करने वाले वह सबसे कम आयु के बल्लेबाज़ थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Saleem Malik Records | Pakistan | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: