सोहैल खान – पाकिस्तान – रिकॉर्ड

Sohail Khan Records in Hindi

पूरा नाम – सोहेल खान

जन्म – 6 मार्च, 1984, मालाकंद, उत्तर-पश्चिम फ्रंटियर प्रांत

प्रमुख टीमें – पाकिस्तान, कराची डॉल्फ़िन, कराची किंग्स, संरक्षक इलेवन, सिंध, सुई दक्षिणी गैस निगम

सोहेल पठान के रूप में भी जाना जाता है

भूमिका – गेंदबाज

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के तेज-मध्यम

टेस्ट पदार्पण (कैप 191) – 21 फरवरी 2009 बनाम श्रीलंका
अंतिम टेस्ट – 26 दिसंबर 2016 बनाम ऑस्ट्रेलिया

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 164) – 30 जनवरी 2008 बनाम ज़िम्बाब्वे
अंतिम एकदिवसीय – 5 अक्टूबर 2016 बनाम वेस्ट इंडीज

टी 20 पदार्पण (कैप 26) – 10 अक्तूबर 2008 बनाम कनाडा
अंतिम टी 20 – 18 सितंबर 2011 बनाम जिम्बाब्वे

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 9 252 65 25.2 76.82 0 1 34 8 2
ODIs 13 25 7 5 49.01 0 0 2 0 3
T20Is 5 1 1* 100 0 0 0 0 0
First-class 94 1452 65 15.44 63.57 0 3 150 45 24
List A 73 465 39 11.92 88.23 0 0 34 23 12
T20s 60 241 45* 17.21 143.45 0 0 13 15 10
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 9 27 5/68 7/207 41.66 3.69 67.7 1 2 0
ODIs 13 19 5/55 5/55 31.42 5.37 35 0 1 0
T20Is 5 5 2/13 2/13 24.6 8.2 18 0 0 0
First-class 94 416 9/109 16/189 24.82 3.53 42.1 16 32 7
List A 73 132 6/44 6/44 24.13 5.26 27.5 7 6 0
T20s 60 73 5/23 5/23 21.95 7.57 17.3 1 1 0

सोहैल खान उत्तर पश्चिमी सीमांत प्रांत (एनडब्ल्यूएफपी) में अंधकार की गहराइयों से निकल कर पाकिस्तान की घरेलु क्रिकेट के गेंदबाजी सितारे बने | सोहैल की सबसे बड़ी ताकत उनकी गति है जिसको उन्होंने एनडब्ल्यूएफपी में पत्थरों को फेंकने और नदियों में तैरने के द्वारा हासिल किया |

एक रिश्तेदार की सलाह पर, सोहेल खान कराची चले गये और पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज सिकंदर बख्त द्वारा आयोजित ‘एक गति प्रतिभा तलाश प्रतियोगिता’ में शामिल हो गये ।उन्होंने 85 मील प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की, जो देश में तीसरा सबसे तेज गति से गेंदबाजी करने का रिकॉर्ड था। एक निजी क्लब के लिए खेलते समय, उनको राशिद लतीफ ने देखा।

यासिर शाह – पाकिस्तान – रिकॉर्ड

राशिद लतीफ ने उसे एक साल तक अपनी निगरानी में रखा और उनसे गेंदबाजी करवाई | उन्होंने सोहैल को अपनी फिटनेस पर नियमित रूप से काम करने की सलाह दी | कड़ी मेहनत करने के बाद, उनको 2007-08 में सुई दक्षिणी गैस निगम (एसएसजीसी) के लिए खेलने के लिए चुना गया | उन्होंने कायद-ए-आज़म ट्रॉफी में शानदार शुरुआत की और अपने पहले ही मैच में पाकिस्तान कस्टम्स के खिलाफ 10 विकेट लिये |

उस प्रतियोगिता में उन्होंने 18.43 की औसत से 65 विकेट लिये (जिसमे 8 बार उन्होंने मैच में 5 विकेट, 2 बार मैच में 10 विकेट लिये) और प्रतियोगिता में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बने | इसी सीज़न में वो आरबीएस पेंटेन्गुलर कप में सिंध के लिए भी खेले, जिसमें उन्होंने चार मैचों में 23 विकेट लिए थे, जिसमें उन्होंने लगातार दो मैच में पांच विकेट लिये।

उनके निरंतर अच्छे प्रदर्शन का इनाम उनको मिला और उनको जून 2008 में बांग्लादेश में होने वाली त्रिकोणीय शृंखला (जिसमे भारत भी शामिल था) के लिये 16 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया | उनको मोहम्मद आसिफ के बदले चुना गया था, लेकिन किसी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला | उन्होंने अपने पहला टेस्ट मैच फरवरी 2009 में करांची में श्री लंका के खिलाफ खेला (उसके बाद पाकिस्तान ने अब तक घर पर कोई भी टेस्ट मैच नहीं खेला), लेकिन उस मैच में सोहैल ने प्रभावित नहीं किया | उनको अपना अगला टेस्ट मैच खेलने के लिये 2 साल इंतजार करना पड़ा और ज़िम्बाब्वे के खिलाफ एक मैच खेलने के बाद उनको फिर से टीम से निकाल दिया गया | लेकिन उनको सब्र का मीठा फल मिला और उनको 2016 के इंग्लैंड दौरे के लिये टीम में शामिल किया गया, और उन्होंने उस दौरे में 2 टेस्ट मैच में 2 बार 5 विकेट लिये | उसके बाद खेलने वो न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलिया गये|

असद शफ़ीक़ – पाकिस्तान – रिकॉर्ड

2015 विश्व कप में चरम प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ 5 विकेट लेने के बावजूद एकदिवसीय मैचों में उनकी साख ज्यादा नहीं है | विश्व कप के बाद उनको ज्यादा तवज्जो नहीं दी गयी और उन्होंने अक्टूबर 2016 में एकमात्र एकदिवसीय मैच खेला | हालाँकि उनको उस टीम में चुना गया है को जिस ने सितंबर में पाकिस्तान में क्रिकेट की वापसी के बाद विश्व एकादश खेली |

फैक्टॉइड: उन्होंने डब्लूएपीडीए के खिलाफ एक मैच में 189 रन देकर 16 विकेट लिये और फज़ल महमूद के 51 साल पुराने कीर्तिमान (घरेलु मैच में किसी पाकिस्तानी खिलाड़ी द्वारा सबसे ज्यादा विकेट लेने का कीर्तिमान जो उन्होंने 1955-1956 में पंजाब के खिलाफ 76 रन देकर 15 विकेट लेकर बनाया था) को ध्वस्त किया | सोहैल ने पहली पारी में 80 रन देकर 7 विकेट लिए और दूसरी पारी में 109 रन देकर 9 विकेट लिये, वह मैच ड्रा हुआ था |

Summary
Review Date
Reviewed Item
Sohail Khan Records | Pakistan | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: