सौरव गांगुली – भारत – रिकॉर्ड

पूरा नाम – सौरव चान्दिदास गांगुली

जन्म – 8 जुलाई, 1972, कलकत्ता (अब कोलकाता), बंगाल

वर्तमान उम्र – 45 वर्ष

प्रमुख टीमें – भारत, एशिया एकादश, बंगाल, पूर्वी क्षेत्र, ग्लेमोर्गन, भारत अंडर 19स, कोलकाता नाइट राइडर्स, लंकाशायर, मेरिलबोन क्रिकेट क्लब, नॉर्थहेम्पटनशायर, पुणे वॉरियर्स

बल्लेबाजी की शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी की शैली – दाएं हाथ के मध्यम

ऊंचाई – 5 फुट 11 इंच

शिक्षा – सेंट जेवियर्स कॉलेज

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत
मॅच रन सर्वाधिक स्कोर औसत स्ट्राइक रेट शतक अर्धशतक चौके छ्क्के कॅच
टेस्ट 113 7212 239 42.17 51.25 16 35 900 57 71
एकदिवसीय 311 11363 183 41.02 73.7 22 72 1122 190 100
प्रथम श्रेणी 254 15687 239 44.18 33 89 168
लिस्ट ए 437 15622 183 41.32 31 97 131
ट्वेंटी२० 77 1726 91 25.01 107 0 8 184 51 28
गेंदबाज़ी औसत
मॅच विकेट बेस्ट/पारी बेस्ट/मॅच औसत रन प्रति ओवर स्ट्राइक रेट 4 विकेट 5 विकेट 10 विकेट
टेस्ट 113 32 3/28 3/37 52.53 3.23 97.4 0 0 0
एकदिवसीय 311 100 5/16 5/16 38.49 5.06 45.6 1 2 0
प्रथम श्रेणी 254 167 6/46 36.52 3.29 66.5 4 0
लिस्ट ए 437 171 5/16 5/16 38.86 4.86 47.9 4 2 0
ट्वेंटी२० 77 29 3/27 3/27 26.06 7.91 19.7 0 0 0

कैरियर के आँकड़े –

टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण – इंग्लैंड बनाम भारत लॉर्ड्स में, जून 20-24, 1996
अंतिम टेस्ट – भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया नागपुर में नवम्बर 6-10, 2008

वनडे कैरियर की शुरुआत – भारत बनाम वेस्टइंडीज ब्रिसबेन में, 11 जन,, 1992
अंतिम वनडे – भारत बनाम पाकिस्तान ग्वालियर में नवम्बर 15, 2007

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण – 1989-1990
अंतिम प्रथम श्रेणी – बड़ौदा बनाम बंगाल वडोदरा में, दिसंबर 21-24, 2011

ट्वेंटी -20 करियर की शुरुआत – ग्लेमोर्गन बनाम समरसेट कार्डिफ में, 22 जून, 2005
अंतिम ट्वेंटी -20 – पुणे वारियर्स बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स पुणे में, 19 मई, 2012



कुछ बोलते थे की सौरव शॉर्ट पिच गेंदबाज़ी नहीं खेल पाते, तो कुछ उन्हे ऑफ साइड पर भगवान मानते थे, कुछ उनकी फील्डिंग पर हंसते थे तो कुछ उनकी औरों को प्रेरित करने की ख़ासियत की मिसालें देते थे. सौरव गांगुली की राय को ध्रुवीकरण करने की शक्ति ने भारतीय क्रिकेट में सबसे बड़े ड्रामे को जन्म दिया. लेकिन कोई भी इस बात को नकार नहीं सकता की वे भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान थे जिन्होने एक प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के दल को एक विजयी टीम बनाया. इसके साथ ही एकदिवसीय क्रिकेट के एक बेहद सफल बल्लेबाज़ भी रहे. सौरव गांगुली के इतने प्रतिभाशाली और शानदार स्ट्रोक-प्ले के बावजूद उनका करियर वो उछाल नहीं ले पाया और सन 1996 तक उन्हें इंतज़ार करना पड़ा, जब लॉर्ड्स के मैदान पर उन्होने अपने पदार्पण मैच में जादुई शतक बनाया. इसी साल के अंत में उन्हे एकदिवसीय क्रिकेट में शीर्ष क्रम में भेजा गया और सचिन तेंदुलकर के साथ मिल कर उन्होने विश्व क्रिकेट की सबसे ख़तरनाक ओपनिंग जोड़ी बनाई.

सचिन तेंदुलकर – भारत – रिकॉर्ड

सन 2000 में हुए मैच फिक्सिंग फ़साद के बाद सौरव गांगुली ने टीम की कप्तानी संभाली. और वे जल्द ही एक कठोर. सहज और परिस्थितियों से समझौता ना करने वाले कप्तान साबित हुए. उनकी कप्तानी में भारत ने घर से बाहर टेस्ट मैच जीतने शुरू किए, और 2003 के विश्व कप में लगातार जीतों की झड़ी लगाते हुए भारत ने फाइनल तक का सफ़र तय किया. इसी साल के अंत में उन्होने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन के मैदान पर एक अप्रत्याशित शतक बनाते हुए सीरीज़ का आगाज़ किया, जिसमें भारत ने उम्मीद से बढ़कर ऑस्ट्रेलिया जैसी मज़बूत टीम से जमकर टक्कर ली. पाकिस्तान में विजय ने उन्हे पूजनीय बना दिया, लेकिन जो लग रहा था की एक सुनहरी राह है वो दरअसल एक जल्द फिसलने वाली ढलान का शिखर था.

अंत की शुरुआत हुई 2004 के नागपुर टेस्ट में – जब मैच की शुरुआत से कुछ ही क्षण पहले गांगुली ने मैच खेलने से माना कर दिया और इसके बाद सीरीज़ ऑस्ट्रेलिया के नाम रही. परिस्थितियाँ और भी बदतर तब हुई जब अपने व्यक्तिगत खराब फॉर्म से जूंझ रहे गांगुली की कप्तानी में भारत का एकदिवसीय प्रदर्शन भी फीका पड़ने लगा. बात तब हाथ से निकल जब उनका कोच ग्रेग चैपल से विवाद जनता के समक्ष आ गेया और फिर द्रविड़ की कप्तानी में भारत ने उल्लेखनीय पुनरूद्धार किया.

राहुल द्रविड़ – भारत – रिकॉर्ड



कराची में उनके बनाए गए 30-35 रन नज़रअंदाज़ हो गए जब टीम को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा और कइयों को लगा की शायद गांगुली को अब कभी मौका नही मिलेगा. दूसरे पक्ष ने हमेशा की तरह गांगुली पर भरोसा जताया और वो सही भी साबित हुए जब 2006-07 की दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज़ के लिए सौरव गांगुली को चुना गया. इस सीरीज़ में गांगुली भारत की तरफ से सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे और अपनी शानदार वापसी को जारी रखते हुए उन्होने एकदिवसीय मैचों में चार अर्धशतक बना दिए. इस फॉर्म को जारी रखते हुए वे इंग्लैंड की सीरीज़ में भी दूसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे और फिर पाकिस्तान के खिलाफ लगातार दो शतक जड़ दिए, जिसमे से दूसरा शतक उनका टेस्ट क्रिकेट का सर्वाधिक स्कोर 239 रन था. इसके बाद गांगुली को आश्चर्यजनिक तरीके से औटरालिया के खिलाफ सी बी सीरीज़ के लिए टीम में जगह नही दी गयी और उसके बाद वो एकदिवसीय टीम के चुनाव में कभी अपनी जगह नही बना पाए. इसका एक प्रमुख कारण तत्कालीन मुख्य चयनकर्ता किरण मोरे भी थे, जिनकी गांगुली की तरफ ख़ासी दुश्मनी थी और उन्होने एक मौके पर यह भी कहा था की जब तक वे मौजूद हैं गांगुली कभी टीम में नही आएँगे. श्रीलंका के खिलाफ खराब टेस्ट सीरीज़ के बाद ये अनुमान लग रहे थे की शायद गांगुली अब सन्यास ले लेंगे लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ के लिए उन्हे चुन लिया गया. इस सीरीज़ के पहले टेस्ट शुरू होने से दो दिन पहले गांगुली ने घोषणा कर दी की ये उनकी आख़िरी सीरीज़ होगी. गांगुली इसके बाद आईपीएल में खेले और क्रिकेट कमेंट्री भी करते रहे हैं.

वीवीएस लक्ष्मण – भारत – रिकॉर्ड

विरासत

2000 और 2005 के बीच अपने कार्यकाल में, गांगुली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान बने। उनके नेतृत्व में टीम ने 21 मौकों पर जीत हासिल की – मोहम्मद अजहरुद्दीन जो सबसे ज्यादा जीत के मामले में दूसरी पायदान पर आते हैं, की तुलना में सात गुना ज्यादा – और 49 मैचों में टीम का नेतृत्व किया – अजहरुद्दीन और सुनील गावस्कर दोनों से दोगुना ज्यादा।

गांगुली को 20 मई 2013 को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा बंग बिभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

गांगुली भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित मुदगल समिति का हिस्सा थे, जो आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी के घोटाले की जांच के लिए गठित की गई थी।

कीर्तिमान और उपलब्धियां

एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मुकाबलों में लगातार चार मैन ऑफ़ द मैच जीतने वाले एकमात्र क्रिकेटर।

11,363 रनों के साथ, एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय इतिहास के सर्वोच्च स्कोर बनाने वालों में आठवें स्थान पर और भारतीयों के बीच दूसरे।

मोहम्मद अज़हरुद्दीन – भारत – रिकॉर्ड

दक्षिण अफ्रीका के एबी डीविलियर्स जिन्होंने 2017 में गांगुली के कीर्तिमान को तोड़ा, के बाद 9,000 रनों तक पहुंचने वाले दूसरे सबसे तेज खिलाड़ी|

केवल उन पांच क्रिकेटरों में से एक जिन्होंने एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 10,000 रन, 100 विकेट और 100 कैच का अनूठा त्रिगुण पूरा किया है।



उनकी टेस्ट बल्लेबाजी औसत कभी भी 40 से कम नहीं थी|

क्रिकेट विश्व कप में एक भारतीय बल्लेबाज द्वारा सबसे अधिक व्यक्तिगत स्कोर(183) उनका है।

दुनिया के 14 क्रिकेटरों में से एक जिन्होंने 100 या उससे अधिक टेस्ट और 300 या उससे अधिक एकदिवसीय मैच खेले हैं।

विदेशों में भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान, उन्होंने 28 में से 11 में जीत हासिल की।

वीरेंद्र सहवाग – भारत – रिकॉर्ड

आईपीएल करियर:

फरवरी 2008 में गांगुली इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान की स्वामित्व वाली कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) टीम के कप्तान के रूप में शामिल हुए थे। 18 अप्रैल 2008 को गांगुली ने आईपीएल के पहले ट्वेंटी -20 क्रिकेट मैच में केकेआर का नेतृत्व किया, जिसमें उनकी टीम ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (राहुल द्रविड़ की कप्तानी और विजय माल्या की स्वामित्व वाली टीम) को 140 रनों से हराया।

मई 2009 में आईपीएल के दूसरे सीजन के लिए केकेआर की कप्तानी से गांगुली को हटा दिया गया और उनकी जगह मैकुलम को जगह दी गई थी। मीडिया और अन्य खिलाड़ियों ने इस फैसले पर तब सवाल भी उठाये, जब केकेआर तीन जीत और दस हार के साथ रैंकिंग तालिका में सबसे नीचे रहा। उसके बाद बंगाली टेलीविजन चैनल ज़ी बांग्ला ने उन्हें रियलिटी क्विज़ शो दादागिरी अनलिमिटेड में मेजबान के रूप में शामिल किया। पश्चिम बंगाल के 19 जिलों से आये प्रतिभागियों को इस शो में प्रस्तुत किया गया, जिन्हें गांगुली के प्रश्नों के उत्तर देने थे।

अनिल कुंबले – भारत – रिकॉर्ड

आईपीएल के तीसरे सत्र में गांगुली को एक बार फिर से केकेआर की कप्तानी दी गई, जब टीम दूसरे सीज़न में सबसे निचले पायदान पर रही थी। कोच जॉन बुकानन की जगह डेव व्हाटमोर को ज़िम्मेदारी सौंपी गयी। केकेआर की तरफ से गांगुली ने 40 मैचों की 38 पारियों में 1031 रन बनाए और 8 विकेट भी लिए हैं। आईपीएल के चौथे सीज़न में उन्हें पुणे वॉरियर्स इंडिया द्वारा खरीदा गया। उन्होंने चार मैचों की तीन पारियों में 50 रन बनाए। 2012 के सत्र में उन्हें पुणे वारियर्स के कैप्टन सह मेंटर के रूप में नियुक्त किया गया था। 29 अक्टूबर 2012 को उन्होंने घोषणा की कि उन्होंने अगले साल के आईपीएल में नहीं खेलने और खेल से रिटायर होने का फैसला कर लिया है।



 

सौरव गांगुली के खेले मैचों में भारत का प्रदर्शन:

Ganguly’s results in international matches
Matches Won Lost Drawn Tied No result
Test 113 37 35 41 0
ODI 311 149 145 1 16

सौरव गांगुली के टेस्ट और एकदिवसीय में विभिन्न देशों के खिलाफ शतक:

Opposition Test ODI
 Sri Lanka
3 4
 New Zealand
3 3
 Zimbabwe
2 3
 England
3 1
 Pakistan
2 2
 Australia
2 1
 South Africa
3
 Bangladesh
1 1
 Kenya
NA 3
 Namibia
NA 1
Total 16 22

सौरव गांगुली का टेस्ट क्रिकेट में विभिन्न देशों के खिलाफ प्रदर्शन:

Test Match Career Performance By Opposition Batting Statistics
Opposition Matches Runs Average High Score 100 / 50
 Australia
24 1403 35.07 144 2/7
 Bangladesh
5 371 61.83 100 1/3
 England
12 983 57.82 136 3/5
 New Zealand
8 563 46.91 125 3/2
 Pakistan
12 902 47.47 239 2/4
 South Africa
17 947 33.82 87 0 / 7
 Sri Lanka
14 1064 46.26 173 3/4
 West Indies
12 449 32.07 75* 0 / 2
 Zimbabwe
9 530 44.16 136 2/1
Overall figures 113 7212 42.17 239 16 / 35

सौरव गांगुली का एकदिवसीय क्रिकेट में विभिन्न देशों के खिलाफ प्रदर्शन:

ODI Career Performance By Opposition Batting Statistics
Opposition Matches Runs Average High Score 100 / 50
 Australia
35 774 23.45 100 1/5
 Bangladesh
10 459 57.37 135* 1/4
 England
26 975 39 117* 1/7
 New Zealand
32 1079 35.96 153* 3/6
 Pakistan
53 1652 35.14 141 2/9
 South Africa
29 1313 50.5 141* 3/8
 Sri Lanka
44 1534 40.36 183 4/9
 West Indies
27 1142 47.58 98 0 / 11
 Zimbabwe
36 1367 42.71 144 3/7
ICC World XI 1 22 22 22 0 / 0
Africa XI 2 120 60 88 0 / 1
 Bermuda
1 89 89 89 0 / 1
 Ireland
1 73 73* 0 / 1
 Kenya
11 588 73.5 111* 3/2
 Namibia
1 112 112* 1 / 0
 Netherlands
1 8 8 8 0 / 0
 U.A.E.
1 56 56 56 0 / 1
Overall figures 311 11363 41.02 183 22 / 72

सौरव गांगुली का टेस्ट क्रिकेट में कप्तानी रिकॉर्ड:

Captaincy Record in Test Matches
Venue Span Matches Won Lost Tied Draw
At Home Venues 2000–2005 21 10 3 0 8
At Away Venues 2000–2005 28 11 10 0 7
TOTAL 2000–2005 49 21 13 0 15

सौरव गांगुली का टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान बल्लेबाज़ी प्रदर्शन:

Career summary as Captain in Test Matches
Venue Span Matches Runs HS Bat Avg 100 Wkts BBI Bowl Avg 5 Ct St
At Home Venues 2000–2005 21 868 136 29.93 2 3 1/14 78 0 24 0
At Away Venues 2000–2005 28 1693 144 43.41 3 2 2/69 193 0 13 0
TOTAL 2000–2005 49 2561 144 37.66 5 5 2/69 124 0 37 0

सौरव गांगुली का एकदिवसीय क्रिकेट में कप्तानी रिकॉर्ड:

Captaincy Record in One Day Internationals
Venue Span Matches Won Lost Tied N/R
In India (At Home Venues) 2000–2005 36 18 18 0 0
At Away Venues 2000–2005 51 24 24 0 3
At Neutral Venues 1999–2005 59 34 23 0 2
TOTAL 1999–2005 146 76 65 0 5

सौरव गांगुली का एकदिवसीय क्रिकेट में बतौर कप्तान बल्लेबाज़ी प्रदर्शन:

Career summary as Captain in One Day Internationals
Venue Span Matches Runs HS Bat Avg 100 Wkts BBI Bowl Avg 5 Ct St
At Home Venues 2000–2005 36 1463 144 43.02 2 16 5/34 30.87 1 14 0
At Away Venues 2000–2005 51 1545 135 32.18 2 15 3/22 39.26 0 23 0
At Neutral Venues 2000–2005 60 2096 141 41.92 7 15 3/32 43.2 0 24 0
TOTAL 2000–2005 147 5104 144 38.66 11 46 5/34 37.63 1 61 0

सौरव गंगुली के एकदिवसीय क्रिकेट में 5 विकेट प्रदर्शन:

# Figures Match Opponent Venue City Country Year
1 May-16 38
 Pakistan
Cricket, Skating & Curling Club Toronto Canada 1997
2 May-34 158
 Zimbabwe
Green Park Stadium Kanpur India 2000

सौरव गांगुली के एकदिवसीय क्रिकेट में मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड:

No. Opponent Venue Date Match Performance Result
1 South Africa Buffalo Park, East London 04-Feb-97 83 (136 balls: 6×4, 1×6); DNB
 South Africa won by 6 wickets
2 Bangladesh Sinhalese Sports Club Ground, Colombo 24-Jul-97 6–1–24–0, 1 Ct. ; 73* (52 balls: 8×4, 2×6)
 India won by 9 wickets
3 Pakistan Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 14-Sep-97 9–2–16–2, 1 Ct. ; 32 (86 balls: 4×4)
 India won by 7 wickets
4 Pakistan Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 18-Sep-97 2 (20 balls) ; 10–3–16–5, 1 Ct.
 India won by 34 runs
5 Pakistan Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 20-Sep-97 6–2–29–2 ; 75* (75 balls: 6×4, 1×6)
 India won by 7 wickets
6 Pakistan Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 21-Sep-97 96 (136 balls: 5×4, 2×6) ; 9–1–33–2
 India won by 5 wickets
7 Pakistan National Stadium, Karachi 30-Sep-97 10–0–39–0 ; 89 (96 balls: 11×4)
 India won by 4 wickets
8 Pakistan Bangabandhu National Stadium, Dhaka 18-Jan-98 2–0–5–0 ; 124 (138 balls: 11×4, 1×6)
 India won by 3 wickets
9 Sri Lanka R Premadasa Stadium, Colombo 19-Jun-98 DNB ; 80 (114 balls: 7×4, 1×6)
 India won by 8 wickets
10 Pakistan Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 12-Sep-98 10–0–33–3 ; 54 (72 balls: 8×4)
 India won by 6 wickets
11 Zimbabwe Queens Sports Club, Bulawayo 27-Sep-98 DNB, 1 Ct. ; 107* (129 balls: 11×4, 1×6)
 India won by 8 wickets
12 Sri Lanka Vidarbha Cricket Association Ground, Nagpur 22-Mar-99 130* (160 balls: 5×4, 2×6)
 India won by 80 runs
13 Sri Lanka County Ground, Taunton 26-May-99 183 (158 balls: 17×4, 7×6) ; 5–0–37–0
 India won by 157 runs
14 England Edgbaston Cricket Ground, Birmingham 29-May-99 40 (59 balls: 6×4) ; 8–0–27–3
 India won by 63 runs
15 West Indies Cricket, Skating & Curling Club, Toronto 11-Sep-99 DNB ; 54* (69 balls: 7×4, 1×6)
 India won by 8 wickets
16 Zimbabwe Gymkhana Club Ground, Nairobi 01-Oct-99 139 (147 balls: 11×4, 5×6) ; DNB
 India won by 107 runs
17 New Zealand Captain Roop Singh Stadium, Gwalior 11-Nov-99 153* (150 balls: 18×4, 3×6) ; 8-1-33-1
 India won by 14 runs
18 New Zealand Feroz Shah Kotla, Delhi 17-Nov-99 6-1-29-1 ; 86 (110 balls: 12×4, 1×6)
 India won by 7 wickets
19 Pakistan Adelaide Oval, Adelaide 25-Jan-00 141 (144 balls: 12×4, 1×6) ; DNB
 India won by 48 runs
20 South Africa Keenan Stadium, Jamshedpur 12-Mar-00 DNB, 1 ct. ; 105* (139 balls: 10×4, 4×6)
 India won by 6 wickets
21 Bangladesh Bangabandhu National Stadium, Dhaka 30-May-00 4–0–35–0 ; 135* (124 balls: 6×4, 7×6)
 India won by 8 wickets
22 South Africa Gymkhana Club Ground, Nairobi 13-Oct-00 141* (142 balls: 11×4, 6×6); 1-0-5-1, 1 Ct.
 India won by 95 runs
23 Zimbabwe Sardar Patel Stadium, Ahmedabad 05-Dec-00 144 (152 balls: 8×4, 6×6) ; DNB
 India won by 61 runs
24 Zimbabwe Green Park Stadium, Kanpur 11-Dec-00 10-1-34-5 ; 71* (68 balls: 12×4, 1×6)
 India won by 9 wickets
25 South Africa Buffalo Park, East London 19-Oct-01 DNB, 1 Ct. ; 85 (95 balls: 6×4, 4×6)
 South Africa won by 46 runs
26 Zimbabwe PCA IS Bindra Stadium, Mohali 10-Mar-02 86* (83 balls: 8×4, 3×6) ; DNB
 India won by 64 runs
27 Kenya Newlands Cricket Ground, Cape Town 07-Mar-03 DNB ; 107* (120 balls: 11×4, 2×6)
 India won by 6 wickets
28 Kenya Kingsmead Cricket Ground, Durban 20-Mar-03 111* (114 balls: 5×4, 5×6)
 India won by 91 runs
29 England Lord’s, London 05-Sep-04 90 (119 balls: 5×4, 3×6) ; DNB
 India won by 23 runs
30 Kenya The Rose Bowl, Southampton 11-Sep-04 90 (124 balls: 8×4) ; 5-0-21-0, 2 ct.
 India won by 98 runs

सौरव गांगुली से जुड़ी अन्य खबरें:

कैसे ग्रेग चैपल ने की थी सौरव गांगुली के कैरियर को खत्म करने की कोशिश !

तस्वीरों में देखें 1992-2008 तक सौरव गांगुली का दादागीरी भरा सफर

भारतीय टीम में एम एस धोनी के भविष्य पर सौरव गांगुली ने दी अपनी राय

विराट को सर्वकालिक महान खिलाड़ी के रूप में याद किया जायेगा: सौरव गांगुली

Leave a Response

share on: