जैक रुडोल्फ – दक्षिण अफ्रीका – रिकॉर्ड

जैक रुडोल्फ - दक्षिण अफ्रीका - रिकॉर्ड

पूरा नाम – जैकोबस एंड्रीज़ रुडोल्फ

जन्म – 4 मई, 1981, स्प्रिंग्स, ट्रांसवाल

प्रमुख टीमें – दक्षिण अफ्रीका, अफ्रीका इलेवन, ईगल्स, जमैका तल्लावाह, उत्तरी, दक्षिण अफ्रीका ए, सरे, टाइटन्स, यॉर्कशायर

बल्लेबाजी शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाज़ी शैली – लेगब्रेक गुगली

टेस्ट पदार्पण (कैप 289) – 24 अप्रैल 2003 बनाम बांग्लादेश
अंतिम टेस्ट – 22 नवंबर 2012 बनाम ऑस्ट्रेलिया

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 74) – 13 अप्रैल 2003 बनाम भारत
अंतिम एकदिवसीय – 5 फरवरी 2006 बनाम ऑस्ट्रेलिया

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 48 2622 222* 35.43 43.81 6 11 362 7 29
ODIs 45 1174 81 35.57 68.05 0 7 109 5 11
T20Is 1 6 6* 85.71 0 0 0 0 0
First-class 294 19825 228* 41.56 51 93 244
List A 262 10285 169* 48.28 18 70 91
T20s 159 4016 101* 34.03 117.32 1 27 417 58 51
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 48 4 1/1 1/1 108 3.9 166 0 0 0
ODIs 45 0 6.5 0 0 0
T20Is 1
First-class 294 61 5/80 44.19 3.37 78.5 3 0
List A 262 13 4/41 4/41 36.46 5.75 38 1 0 0
T20s 159 13 3/16 3/16 31.23 7.93 23.6 0 0 0

रुडोल्फ एक बाएं हाथ के बल्लेबाज़ हैं जो क्रीज़ पर लंबे समय तक टिके रह सकते हैं अर्थात् लंबे समय तक बल्लेबाज़ी कर सकते हैं और अपनी बल्लेबाज़ी की विशेष तकनीक के कारण वह किसी भी तरह की गेंदबाज़ी का सामना करने में सक्षम हैं। वह दो बार दक्षिण अफ्रीका की टीम की ओर से पदार्पण करने का अवसर प्राप्त करने वाले थे और दोनों ही बार वह विवादों के शिकार हो गए। ऐसा पहला अवसर भारत के विरुद्ध खेले गए अनाधिकारिक टेस्ट मुकाबले के समय मार्क डेनेस के प्रकरण के परिणामस्वरूप उत्पन्न हुआ था और दूसरा अवसर वर्ष 2002 में सिडनी में खेले गए टेस्ट मुकाबले के समय रहा था, जहां जस्टिन ऑन्टोंग को टेस्ट मुकाबले में खेलने का अवसर दे दिया गया था क्योंकि क्रिकेट बोर्ड के तत्कालीन अध्यक्ष पर्सी सोन चाहते थे कि केप क्षेत्र का एक खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करे।

जॅक कैलिस – दक्षिण अफ्रीका – रिकॉर्ड



आखिरकार वर्ष 2003 में रुडोल्फ को बांग्लादेश के विरुद्ध चटगांव में खेले जाने वाले टेस्ट मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका की टीम की ओर से पदार्पण करने का अवसर मिला और उन्होंने इस अवसर का पूरा लाभ उठाया। उन्होंने 222 रनों की नाबाद पारी खेली और बोएटा डिपेनार के साथ तीसरे विकेट के लिए 429 रनों की साझेदारी में शामिल रहे। उसके बाद से वह दक्षिण अफ्रीका की टेस्ट टीम की ओर से नियमित रूप से खेलने लगे और ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध पर्थ में खेली गई पारी उनके करियर की सबसे विशेष पारी थी, जब उन्होंने नाबाद 102 रनों की धैर्यपूर्ण पारी खेलते हुए मुकाबला बचाने में दक्षिण अफ्रीका की टीम की सहायता की थी। हालांकि इसके बाद वह अच्छा प्रदर्शन करने में बुरी तरह से असफल रहे और टीम से बाहर कर दिए गए।

गैरी कर्स्टन – दक्षिण अफ्रीका – रिकॉर्ड

वर्ष 2007 में रुडोल्फ ने यॉर्कशायर की टीम के साथ एक कोल्पक खिलाड़ी के तौर पर खेलने के लिए अनुबंध करने का निर्णय किया, जिसके कारण उन्हें अपने देश की टीम का प्रतिनिधित्व करने की अनुमति नहीं थी। उन्होंने इस अनुबंध पर 3 वर्ष की अवधि के लिए हस्ताक्षर किए और वर्ष 2010 के बाद भी इसी टीम से जुड़े रहने के लिए अनुबंध की अवधि का विस्तार किया। वर्ष 2011 के सत्र के बीच के समय के दौरान ही उन्हें इस अनुबंध से मुक्त कर दिया गया जिसके कारण उन्हें अपने देश वापिस जाना पड़ा और वह टाइटंस की टीम की ओर से खेलने लगे। 2011-12 का सत्र रुडोल्फ के लिए शानदार रहा था, जब उन्होंने 17 पारियों में 954 रन बनाए थे और उन्हें दक्षिण अफ्रीका की टीम में खेलने के लिए पुनः मौका दिया गया। दक्षिण अफ्रीका की टीम में वापसी करने के बाद खेले गए 13 टेस्ट मुकाबलों में रुडोल्फ केवल एक शतक बना पाए और अच्छे प्रदर्शन के जारी रखने में असफल रहे। वर्ष 2012 के अंत में उन्हें टीम से निकाल दिया गया।

ऐश्वेल प्रिंस – दक्षिण अफ्रीका – रिकॉर्ड

18 सितंबर 2013 को रुडोल्फ ने ग्लॉमोर्गन की टीम के साथ एक विदेशी खिलाड़ी के तौर पर खेलने के लिए एक अनुबंध किया, उन्हें टीम में मार्कस नॉर्थ की जगह शामिल किया गया था। वह कैरीबियन प्रीमियर लीग में भी खेलते हुए नज़र आए थे और उन्होंने जमैका तल्लावाह की टीम का प्रतिनिधित्व किया था।

बोएटा डिप्पेनार – दक्षिण अफ्रीका – रिकॉर्ड



Summary
Review Date
Reviewed Item
Jacques Rudolph Records | South Africa | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: