चमारा सिल्वा – श्रीलंका – रिकॉर्ड

Chamara Silva Records in Hindi

पूरा नाम – लिन्डंलीलागे प्रगीत चमारा सिल्वा

जन्म – 14 दिसंबर 1979 पनादुरा

प्रमुख टीमें – श्रीलंका, बसनहिरा साउथ, ब्लूमफील्ड क्रिकेट एंड एथलेटिक क्लब, डेक्कन चार्जर्स, कंडुराता मारुन्स, पनाडूुरा स्पोर्ट्स क्लब, सेबेस्टियनट्स क्रिकेट एंड एथलेटिक क्लब, सिंहली स्पोर्ट्स क्लब, श्रीलंका ए

भूमिका – बल्लेबाज़

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – लेगब्रेक

टेस्ट पदार्पण (कैप 105) – 7 दिसम्बर 2006 बनाम न्यूजीलैंड
अंतिम टेस्ट – 3 अप्रैल 2008 बनाम वेस्टइंडीज

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 101) – 26 अगस्त 1999 बनाम ऑस्ट्रेलिया
अंतिम एकदिवसीय – 23 नवंबर 2011 बनाम पाकिस्तान

टी 20 पदार्पण (कैप 6) – 22 दिसंबर 2006 बनाम न्यूजीलैंड
अंतिम टी 20 – 25 नवंबर 2011 बनाम पाकिस्तान

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 11 537 152* 33.56 62.88 1 2 68 1 7
ODIs 75 1587 107* 28.85 70.4 1 13 139 10 20
T20Is 16 175 38 13.46 98.87 0 0 19 3 5
First-class 207 13328 216 40.88 34 75 253
List A 254 6164 110 32.44 3 43 105
T20s 65 1321 110* 24.46 119.87 1 3 113 39 26
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 11 1 1/57 1/57 65 3.82 102 0 0 0
ODIs 75 1 1/21 1/21 33 4.71 42 0 0 0
T20Is 16 1 1/4 1/4 15 5 18 0 0 0
First-class 207 54 4/24 33.25 4.26 46.8 0 0
List A 254 7 1/1 1/1 46 5.63 49 0 0 0
T20s 65 1 1/4 1/4 36 9 24 0 0 0

14 दिसंबर, 1979 को पनादुरा में पैदा हुए, चमारा सिल्वा एक अच्छे बल्लेबाज़ के रूप में जाने जाते हैं। 1999 में सिद्दाथ वेट्टिमुनी द्वारा अपनाई गई युवा नीति के वह एक लाभार्थी थे और उन्होंने 19 वर्ष की उम्र में आईवा कप में आस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ अपने करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने अर्धशतक लगाकर सबको प्रभावित किया। उनकी बल्लेबाजी की महान अरविंद डी सिल्वा के साथ भी तुलना की गयी है।

इस शानदार बल्लेबाज के लिए शुरुआती दिन काफी संघर्ष भरे थे क्योंकि श्रीलंका की टीम में एक स्थायी जगह खोजने के लिए उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। घरेलू स्तर पर उनका मजबूत प्रदर्शन अंत में तत्कालीन श्रीलंका के कोच टॉम मूडी की नज़रों में आया।

वह न्यूज़ीलैंड के दौरे के लिए आश्चर्यजनक रूप से टीम में शामिल किये गए और दोनों पारियों में शून्य पर आउट होकर उन्होंने काफी ख़राब शुरुआत की। उन्होंने तुरंत अपना प्राकृतिक खेल दिखाया और अगले ही मैच में 61 और नाबाद 152 रन बनाये। उन्होंने 2007 विश्वकप से ठीक पहले इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला एकदिवसीय शतक भी लगाया।

रसेल अर्नोल्ड के सन्यास के बाद सिल्वा को श्रीलंका के लिए एक सक्षम मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में टीम में जगह दे दी गयी। उन्होंने विश्व कप में शानदार प्रदर्शन किया और 350 रन बनाकर श्रीलंका को फाइनल में पहुंचाने में मदद की।

चमारा सिल्वा श्रीलंका की टीम में एक स्थायी जगह पाने में नाकामयाब रहे हैं और 2008 में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला है। हालांकिI, वह वनडे में नियमित रूप से टीम के सदस्य रहे हैं और दो विश्व कप में राष्ट्र का प्रतिनिधित्व किया है। हैदराबाद के डेक्कन चार्जर्स ने उन्हें आईपीएल के उद्घाटन संस्करण में ख़रीदा था।

हालांकि, टेस्ट में उनके छिटपुट प्रदर्शन ने सीमित ओवरों के क्रिकेट पर भी असर डाला और चयनकर्ता उनपर विश्वास करने से कतराने लगे। टीम से बाहर होने से पहले उन्होंने 75 एकदिवसीय मैच खेले। अगर वह और कठिन परिश्रम करते तो शायद स्थति उनके लिए और बेहतर हो सकती थी।

दिलचस्प तथ्य: चमारा सिल्वा अपने पदार्पण टेस्ट की दोनों पारियों में शून्य पर आउट होने वाले 37 खिलाड़ियों में से एक हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Chamara Silva Records | Sri Lanka | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: