डिमुथ करुणारत्ने – श्रीलंका – रिकॉर्ड

डिमुथ करुणारत्ने - श्रीलंका - रिकॉर्ड

पूरा नाम – फ्रैंक डिमुथ मदुशका करुणारत्ने

जन्म – 21 अप्रैल, 1988, कोलंबो

प्रमुख टीमें – श्रीलंका, बसनहिरा क्रिकेट डन्डी, सिंहली स्पोर्ट्स क्लब, श्रीलंका ए, श्रीलंका बोर्ड इलेवन, श्रीलंका अंडर -19, श्रीलंका अंडर -20 एस स्कूल

भूमिका – बल्लेबाज

बल्लेबाजी शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के मध्यम

ऊँचाई – 6 फुट 0 इंच

शिक्षा – सेंट जोसेफ कॉलेज, कोलंबो

टेस्ट पदार्पण (कैप 123) – 17 नवंबर 2012 बनाम न्यूजीलैंड
अंतिम टेस्ट – 6 अक्टूबर 2017 बनाम पाकिस्तान

एकदिवसीय क्रिकेट (कैप 146) – 9 जुलाई 2011 बनाम इंग्लैंड
अंतिम एकदिवसीय – 1 मार्च 2015 बनाम इंग्लैंड

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 49 3186 196 34.63 47.45 7 14 316 6 42
ODIs 17 190 60 15.83 68.84 0 1 14 0 4
First-class 144 10513 212 46.1 57.43 35 43 1180 24 152
List A 105 2903 120 31.55 73.83 4 17 281 11 47
T20s 28 433 57* 16.65 105.86 0 2 55 2 15
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 49 1 1/31 1/31 97 4.04 144 0 0 0
ODIs 17 0 6.6 0 0 0
First-class 144 3 1/6 1/6 125.33 3.62 207.3 0 0 0
List A 105 2 2/13 2/13 16 8.72 11 0 0 0
T20s 28



मजबूत बल्लेबाज़ी करने की प्रतिभा वाले एक सलामी बल्लेबाज़, डिमुथ करूणारत्ने युवा खिलाड़ियों की पीढ़ी में एक श्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में उभर रहे हैं। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज़ पहली बार तब प्रसिद्ध हुआ था जब उन्होंने सेंट जोसेफ़ कॉलेज की ओर से खेलते हुए सेंट पीटर्स कॉलेज के विरुद्ध खेले गए मुकाबले में 131 रन बनाकर वर्ष 1934 में फ्रेड परेरा के द्वारा बनाए गए नाबाद 114 रनों के सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर को पीछे छोड़ते हुए सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर बनाया था। एंजलो मैथ्यूज़ और थिसारा परेरा भी उस मुकाबले में खेलते हुए नज़र आए थे।

दिनेश चांदीमल – श्रीलंका – रिकॉर्ड

विशेष रूप से, करुणारत्ने ने कोलंबो में प्रसिद्ध सेंट जोसेफ़ कॉलेज में पढ़ाई की थी, जिस कॉलेज ने श्रीलंकाई क्रिकेट को चमिंडा वास सहित कई अन्य शीर्ष क्रिकेट खिलाड़ी प्रदान किए हे। करुणारत्ने ने घरेलू क्रिकेट में अपने बल्ले से शानदार करते हुए और अंडर-19 स्तर के क्रिकेट में लगातार प्रगति की। इस युवा बल्लेबाज़ से प्रभावित होकर चयनकर्ताओं ने उन्हें इंग्लैंड और स्कॉटलैंड के विरुद्ध खेली जाने वाली श्रृंखला के लिए टीम में चुना था। इस श्रृंखला के दौरान 4 और 60 रनों का पारियां खेलकर उन्होंने अपनी शानदार क्षमता का प्रदर्शन किया।

कुसल मेंडिस – श्रीलंका – रिकॉर्ड



वर्ष 2011 के अंत में दक्षिण अफ्रीका के दौरे के लिए चुनी जाने वाली टेस्ट मुकाबले खेलने वाली श्रीलंकाई टीम में भी करूणारत्ने ने अपने लिए जगह बनाई थी, हालांकि वह इस दौरे पर एक भी मुकाबले में अंतिम एकादश में अपनी जगह बनाने में असफल रहे थे। वर्ष 2013 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने का अवसर दिए जाने तक वह टीम के साथ नियमित रूप से घूम रहे थे, उन्हें उस समय घायल हुए बल्लेबाज़ तिलकरत्ने दिलशान की जगह टीम में अवसर देकर न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध गाले में खेले गए मुकाबले में थरंगा परानाविताना के साथ सलामी बल्लेबाज़ी करने का अवसर दिया गया था। घबराहट के साथ खेलने के कारण करुणारत्ने टेस्ट क्रिकेट में अपनी पहली पारी में शून्य के व्यक्तिगत स्कोर पर आउट हो गए थे। हालांकि, उन्होंने अपने प्रदर्शन में सुधार किया और दूसरी पारी में एक गेंद पर एक रन की औसत से 60 रन बनाए और श्रीलंका ने उस मुकाबले में 10 विकेटों से जीत दर्ज की थी।

एंजेलो मैथ्यूज़ – श्रीलंका – रिकॉर्ड

करुणारत्ने ने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शतक 28 दिसंबर 2014 को न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध हैग्ली ओवल में खेले गए मुकाबले में बनाया था। दूसरे टेस्ट मुकाबले में उन्होंने 363 गेंदों में 152 रनों की साहसिक पारी खेली। उनके द्वारा लगातार किए गए अच्छे प्रदर्शनों ने विश्वकप प्रतियोगिता के लिए चुनी गई 15 सदस्यों की टीम में उनका नाम शामिल किए जाने का चयनकर्ताओं का काम आसान कर दिया। दिलशान के द्वारा टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिए जाने के बाद, श्रीलंकाई टीम के चयनकर्ता बाएं हाथ के इस सलामी बल्लेबाज़ को भविष्य में खेले जाने वाले कठिन मुकाबलों के लिए टीम में मौका देने के लिए तैयार हैं। यदि करुणारत्ने सेंट जोसेफ़ कॉलेज में अपने वरिष्ठ (सीनियर) रह चुके खिलाड़ियों के पदचिन्हों का अनुसरण कर सकते हैं, तो वह श्रीलंकाई टीम के एक महत्वपूर्ण अंग साबित हो सकते हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Dimuth Karunaratne Records | Sri Lanka | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: