रंजन मदुगले – श्रीलंका – रिकॉर्ड

रंजन मदुगले - श्रीलंका - रिकॉर्ड

पूरा नाम – रंजन सनेनाथ मदुगले

जन्म – 22 अप्रैल 1959 कैंडी

प्रमुख टीमें – श्रीलंका, नोडस्क्रिप्ट्स क्रिकेट क्लब

बल्लेबाजी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के ऑफब्रेक

अन्य – रेफरी

टेस्ट पदार्पण (कैप 7) – 17 फरवरी 1982 बनाम इंग्लैंड
अंतिम टेस्ट – 30 अगस्त 1988 बनाम इंग्लैंड

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 19) – 16 जून 1979 बनाम भारत
अंतिम एकदिवसीय – 27 अक्टूबर 1988 बनाम पाकिस्तान

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत
मॅच रन सर्वाधिक स्कोर औसत स्ट्राइक रेट शतक अर्धशतक छ्क्के कॅच
टेस्ट 21 1029 103 29.4 1 7 2 9
एकदिवसीय 63 950 73 18.62 60.35 0 3 18
प्रथम श्रेणी 81 3301 142* 32.04 2 20 42
लिस्ट ए 82 1334 73 19.91 0 4 27

 

गेंदबाज़ी औसत
मॅच विकेट बेस्ट/पारी बेस्ट/मॅच औसत रन प्रति ओवर स्ट्राइक रेट 4 विकेट 5 विकेट 10 विकेट
टेस्ट 21 0 2.71 0 0 0
एकदिवसीय 63 0 1.5 0 0 0
प्रथम श्रेणी 81 2 1/18 79.5 2.78 171 0 0
लिस्ट ए 82 0 4.09 0 0 0



रंजन मदुगले अपने आलसी खेल की भव्यता और एक बल्लेबाज़ के रूप में खेलते हुए क्षेत्ररक्षकों के बीच से गेंद को भेजने के लिए आसानी से खाली स्थान ढूंढने के लिए प्रसिद्ध थे। दिलचस्प तथ्य यह है कि श्रीलंका की टीम के द्वारा खेले गए पहले 18 टेस्ट मुकाबलों में से मदुगले ने सभी मुकाबलों में हिस्सा लिया था।

1981-82 में श्रीलंका की टीम में अपने दस साथी खिलाड़ियों के साथ मदुगले ने कोलंबो के पीएस स्टेडियम में इंग्लैंड के विरुद्ध मुकाबले में अपना पदार्पण किया था। उन्होंने पहली पारी में एक निडरतापूर्ण अर्धशतक बनाकर तुरंत अपना प्रभाव दिखाया अर्थात् शानदार प्रदर्शन किया। हालांकि उन्हें अपनी वास्तविक कीमत को साबित करने के लिए अर्थात् अपनी वास्तविक प्रतिभा का प्रदर्शन करने के लिए वर्ष 1984 में न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध खेली गई श्रृंखला तक प्रतीक्षा करनी पड़ी थी। रिचर्ड हैडली की कप्तानी में खेलने वाली टीम के गेंदबाज़ी आक्रमण के विरुद्ध उन्होंने 60 से कुछ अधिक की औसत से रन बनाए थे।

रोशन महानामा – श्रीलंका – रिकॉर्ड

शीर्ष क्रम के इस शानदार बल्लेबाज़ ने वर्ष 1985 में भारत के विरुद्ध खेली गई यादगार टेस्ट श्रृंखला में अपनी उपस्थिति का आभास कराया था अर्थात् अपनी उपस्थिति दर्ज करायी थी। कोलंबो के सिंहलीज़ स्पोर्टस क्लब में खेले गए पहले टेस्ट मुकाबले में उन्होंने एक शानदार शतक बनाया था। यह पारी उनके द्वारा अपने पूरे टेस्ट करियर के दौरान खेली गई एकमात्र शतकीय पारी थी। मदुगले ने दो टेस्ट मुकाबलों में श्रीलंका की टीम की कप्तानी भी की थी, परंतु श्रीलंका की टीम वह दोनों पहले टेस्ट मुकाबले हार गई थी।



दुर्भाग्य से, अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मुकाबलों में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। मदुगले ने अपने करियर के दौरान अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मुकाबलों में 1000 से भी कम रन बनाए थे और इस दौरान उनकी औसत 20 से भी कम रही थी। क्रिकेट के खेल से संन्यास लेने के बाद से, मदुगले क्रिकेट की दुनिया में एक बहुत सम्मानित व्यक्ति रहे हैं। उन्होंने 500 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में मैच रेफरी के रूप में काम किया है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Ranjan Madugalle Records | Sri Lanka | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: