डैरेन ब्रावो – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

Darren Bravo Records in Hindi

पूरा नाम – डैरेन माइकल ब्रावो

जन्म – 6 फरवरी, 1989, त्रिनिडाड

प्रमुख टीमें – वेस्टइंडीज, डेक्कन चार्जर्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, नॉटिंघमशायर, त्रिनबाग नाइट राइडर्स, त्रिनिडाड एंड टोबैगो, त्रिनिदाद एंड टोबेगो रेड स्टील, त्रिनिदाद एंड टोबेगो अंडर -19, वेस्ट इंडीज ए, वेस्टइंडीज़ अंडर -19

भूमिका – शीर्ष क्रम के बल्लेबाज

बल्लेबाजी शैली – बाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के मध्यम-तेज़

क्षेत्ररक्षण की स्थिति – कभी-कभी विकेटकीपर

टेस्ट पदार्पण (कैप 287) – 15 नवंबर 2010 बनाम श्रीलंका

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 146) – 26 जून 2009 बनाम भारत

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत
मॅच पारी रन सर्वाधिक स्कोर औसत गेंद खेलीं स्ट्राइक रेट शतक अर्धशतक चौके छ्क्के कॅच
टेस्ट 49 89 3400 218 40 7447 45.65 8 16 390 39 47
एकदिवसीय 94 91 2595 124 32.03 3714 69.87 3 17 222 55 30
टी२० 12 11 235 42 21.36 210 111.9 0 0 20 9 2
प्रथम श्रेणी 89 154 5498 218 37.4 11 31 91
लिस्ट ए 136 132 4227 124 36.43 6 28 48
ट्वेंटी२० 92 83 2056 86* 33.7 1742 118.02 0 13 136 100 23

 

गेंदबाज़ी औसत
मॅच पारी रन विकेट बेस्ट/पारी बेस्ट/मॅच औसत रन प्रति ओवर स्ट्राइक रेट 4 विकेट 5 विकेट 10 विकेट
टेस्ट 49 1 2 0 2 0 0 0
एकदिवसीय 94
टी२० 12
प्रथम श्रेणी 89 5 66 1 1/9 1/9 66 3.73 106 0 0 0
लिस्ट ए 136
ट्वेंटी२० 92

डेरेन ब्रावो, त्रिनिदाद के बाएं हाथ के मध्य-क्रम के बल्लेबाज, के पास कौशल के साथ अच्छी मानसिकता भी है | डेरेन जो की ड्वेन के सौतेले भाई है, ब्रायन लारा को अपना आदर्श मानते है | दिलचस्प बात यह है की, डेरेन वेस्ट इंडीज के विख्यात खिलाड़ी लारा से सम्बंधित है |

ऐसा लगता है की डेरेन को प्रतिभा प्राकृतिक रूप से मिली है और ये उनके खून में है | लारा की माँ और डेरेन की माँ चचेरी बहन थी | अक्सर नक़ल कुछ समय के बाद अपना आकर्षण खो देती है | आमतौर पर पहली नजर ध्यान आकर्षित करती है, डेरेन के साथ भी थोड़े समय के लिए ऐसा ही हुआ, वो अपने शुरूआती अंतराष्ट्रीय मैचों में प्रभावित करने में असफल रहे | उन्होंने अपने पहले 12 अंतराष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में सिर्फ एक अर्ध-शतक (कनाडा के खिलाफ) बनाया, और लगने लगा की वो एक अधूरे खिलाड़ी है | उनको टेस्ट मैच में मौका उनके पहले एकदिवसीय मैच (भारत के खिलाफ, 2009 में) खेलने के करीब डेढ़ साल बाद मिला | यह प्रारूप (टेस्ट मैच) इस युवा खिलाड़ी को पसंद आया और उन्होंने श्री लंका के खिलाफ अच्छी शुरुआत की और दो टेस्ट पारियो में दो अर्ध-शतक बनाये |

    ड्वेन ब्रावो – वेस्टइंडीज – रिकॉर्ड

अगले 7 टेस्ट मैचों में डेरेन ने 4 और अर्ध-शतक बनाये, लेकिन फिर भी उनकी काबिलियत पर शक किया जाता रहा क्योकि वो अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाते थे | आखिरकार अपने 10वे टेस्ट मैच में (2011 में ढाका में बांग्लादेश के खिलाफ) उन्होंने एक अच्छी और बड़ी पारी खेली | ऐसा लगा कि डेरेन उन चुनिंदा बल्लेबाजों की सूची में शामिल होंगे जो अपने पहले टेस्ट शतक को दोहरे शतक में तब्दील करने में सफल हुए | वो दोहरे शतक के काफी नजदीक पहुंचे, लेकिन 5 रनो से दोहरा शतक बनाने से चूक गए | फिर भी, इस पारी ने उनके कौशल के बारे में उनकी और आलोचकों की शंकाओ को दूर किया |

उनकी अगली चुनौती अधिक कठिन थी | भारत खेलने के लिए कठिनतम जगहों में से एक है, लेकिन डेरेन ने चुनौती को स्वीकार किया और 3 मैचों की टेस्ट मैचों की शृंखला में सर्वाधिक रन वाले बल्लेबाज बने | उन्होंने वो काम कर दिखाया जो उनके आदर्श लारा भी नहीं कर पाए थे, वो था – भारत में टेस्ट मैच में शतक लगाना | डेरेन ने भारत दौरा ख़त्म होने तक 2 शतक बना लिए थे | डेरेन जिमी एडम्स के बाद भारत के खिलाफ 3 टेस्ट मैचों की शृंखला में 400 से ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज बने | लारा के साथ तुलना करने पर डेरेन के पास उतने ही रन थे जितने 12 मैच खेलने के बाद लारा के पास थे |

    मार्लोन सैम्युल्स – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

2012 में इंडियन प्रीमियर लीग में नीलामी में हैदराबाद ने ब्रावो को 100,000 डॉलर में ख़रीदा, लेकिन ब्रावो आई.पी.एल नहीं खेल पाए क्योंकि उसी समय मार्च-अप्रैल में वेस्ट इंडीज को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक घरेलु शृंखला खेलनी थी |

5 एकदिवसीय मैचों की सीरीज में सिर्फ 48 रन बनाने के बाद ब्रावो को टी-20 मैच में शामिल नहीं किया गया, ताकि वो टेस्ट शृंखला से पहले घरेलु क्रिकेट खेल कर अपनी लय हासिल कर सके | शृंखला के 3 टेस्ट मैचों में 184 रन बना कर ब्रावो वेस्ट इंडीज के तरफ से सर्वाधिक रन बनाने खिलाड़ियों की सूची में शिवनारायण चंद्रपाल के बाद दूसरे क्रम पर थे | चयनकर्ताओं ने उनको काफी मौके दिये और ब्रावो ने भी उनको निराश नहीं किया | उसके बाद काफी दबाव वाली परिस्थिति में, न्यूज़ीलैंड के खिलाफ ब्रावो ने एक सनसनीखेज दोहरा शतक लगाया, जिसकी सहायता से वेस्ट इंडीज ने काफी नाटकीय परिस्थितियों में डुनेडिन टेस्ट ड्रा करवाया |

    जेसन होल्डर – वेस्टइंडीज – रिकॉर्ड

उन्होंने अपना पहला अंतराष्ट्रीय एकदिवसीय शतक 2013 में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ लगाया | उन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और टीम में अपनी जगह पक्की की | भारत दौरे के दौरान, उन्होंने 3 एकदिवसीय मैचों की शृंखला में अर्ध-शतकों की हैटट्रिक लगायी लेकिन इसके बाद उनके प्रदर्शन में गिरावट आयी और वो कुछ महत्वपूर्ण योगदान नहीं कर पाए | हाल में ब्रावो निजी मामलो की वजह से परेशान रहे है, लेकिन वेस्ट इंडीज के चयनकर्ताओ ने उनको 2015 वर्ल्ड कप के लिए चुना था |

Summary
Review Date
Reviewed Item
Darren Bravo Records | West Indies | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: