इयान बिशप – वेस्ट इंडीज – रिकॉर्ड

Ian Bishop Records in Hindi

पूरा नाम – इयान राफेल बिशप

जन्म – 24 अक्टूबर, 1967, बेलमंट, पोर्ट ऑफ स्पेन, त्रिनिडाड

प्रमुख टीमें – वेस्टइंडीज, डर्बीशायर, त्रिनिदाद एंड टोबैगो

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के तेज

अन्य – टिप्पणीकार

टेस्ट पदार्पण (कैप 194) – 25 मार्च 1989 बनाम भारत
अंतिम टेस्ट – 12 मार्च 1998 बनाम इंग्लैंड

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 54) – 21 मई 1988 बनाम इंग्लैंड
अंतिम एकदिवसीय – 4 नवंबर 1997 बनाम पाकिस्तान

Batting and fielding averages
Mat Runs HS Ave SR 100 50 4s 6s Ct
Tests 43 632 48 12.15 36.25 0 0 62 2 8
ODIs 84 405 33* 16.2 52.19 0 0 14 5 12
First-class 159 2639 111 15.52 2 3 50
List A 156 1047 53 19.03 0 1 23
Bowling averages
Mat Wkts BBI BBM Ave Econ SR 4w 5w 10
Tests 43 161 6/40 8/57 24.27 2.78 52.2 6 6 0
ODIs 84 118 5/25 5/25 26.5 4.33 36.7 7 2 0
First-class 159 549 7/34 23.06 2.86 48.3 23 1
List A 156 194 5/25 5/25 28.21 4.24 39.8 8 2 0

कमर की गंभीर समस्याओं से दूषित, यह जगत, लम्बे त्रिनिदादी पेसर इयान बिशप को खेलते हुए बहुत नहीं देख पाया, क्योंकि उनका करियर 10 सालों में फैला हुआ था | बिशप ने अपना एकदिवसीय पदार्पण, इंग्लैंड के विरुद्ध लीड्स में अपने पहले टेस्ट मैच से भी पहले किया | हालाँकि उन्होंने सीमित-ओवरों के प्रारूप में पहले प्रवेश किया, बिशप ने सबसे अधिक सफलता खेल के सबसे लम्बे प्रारूप में चखी |दौरे पर आयी भारतीय टीम के विरुद्ध 1989 में पदार्पण करने के बाद बिशप ने 42 और टेस्ट खेले और 161 विकेट अपने नाम किये | छेड़खानी करने वाले आउटस्विंगर के लिए मशहूर, इस दाएं-हाथ के तेज़ गेंदबाज़ ने अपने दूसरे ही टेस्ट मैच में अपनी उपस्थिति महसूस कराई जब उन्होंने 87 रनों पर 6 विकेट लेकर भारतीय लाइन-अप को तहस-नहस कर दिया | बिशप अपना एक्शन बदलने को मजबूर हो गए थे जब पीठ की परेशानी के कारण पुनर्वसन के बाद उन्हें पीठ पर ज़ोर देने के लिए मना किया गया था, जिसके बाद 1992 में उन्होंने एक नए एक्शन के साथ वापसी की थी | दुर्भाग्यपूर्ण रूप से, 1993 में उन्हें दरकिनार कर दिया गया और उनका करियर कुछ समय के लिए थम सा गया जिसके बाद उन्होंने 1995 के मध्य में वापसी की, और 1998 में संन्यास ले लिया |

उनका एकदिवसीय करियर, तुलनात्मक रूप से, उतना ख़ास नहीं रहा था | उन्होंने 84 एकदिवसीय मैच खेलकर 118 विकेट चटकाए थे जिसमे दो बार 5-विकेट भी शामिल थे | उनका सबसे स्मरणीय प्रदर्शन पाकिस्तान के विरुद्ध ब्रिस्बेन में 1993 में आया था जहां उन्होंने सिर्फ 25 रन खर्च कर 5 विकेट लिए थे और पाकिस्तान को 71 रनों के मामूली स्कोर पर समेट दिया था | चार साल बाद, वे एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके थे |

कई अन्य पूर्व क्रिकेटरों की तरह, बिशप ने भी क्रिकेट पर अपने पहलू को आवाज़ दी और एक सफल कमेंटेटर बन गए | आजकल, वे लगभग हर वेस्ट-इंडीज के मैच में दिखाई पड़ जाते है, और कई अन्य मुख्य टूर्नामेंटों में भी कमेंट्री करते है |

Summary
Review Date
Reviewed Item
Ian Bishop Records | West Indies | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: