सर एंडी रॉबर्ट्स – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

Sir Andy Roberts Records in Hindi

पूरा नाम – एंडरसन मॉन्टगोमेरी एवर्टन रॉबर्ट्स

जन्म – जनवरी 29, 1951, उरल्ल्ट ग्राम, एंटीगुआ

प्रमुख टीमें – वेस्टइंडीज, कम्बाइंड आइलैंड्स, हैम्पशायर, लेवार्ड आइलैंड्स, लीसेस्टरशायर, न्यू साउथ वेल्स

बल्लेबाज़ी शैली – दाएं हाथ के बल्लेबाज़

गेंदबाजी शैली – दाएं हाथ के तेज

टेस्ट पदार्पण (कैप 149) – 6 मार्च 1974 बनाम इंग्लैंड
अंतिम टेस्ट – 24 दिसंबर 1983 बनाम भारत

एकदिवसीय पदार्पण (कैप 15) – 7 जून 1975 बनाम श्रीलंका
अंतिम एकदिवसीय – 7 दिसंबर 1983 बनाम भारत

बल्लेबाजी और क्षेत्ररक्षण का औसत													 	मॅच 	पारी	नाबाद	रन	सर्वाधिक स्कोर	औसत	गेंद खेलीं	स्ट्राइक रेट	शतक	अर्धशतक	छ्क्के	कॅच	स्टमपिंग टेस्ट	47	62	11	762	68	14.94			0	3	22	9	0 एकदिवसीय	56	32	9	231	37*	10.04	357	64.7	0	0		6	0 प्रथम श्रेणी	228	291	67	3516	89	15.69			0	10		52	0 लिस्ट ए	195	113	38	1091	59*	14.54			0	1		33	0
Sir-Andy-Roberts-Batting-and-Fielding-records-in-Hindi

गेंदबाज़ी औसत													 	मॅच 	पारी	गेंदें	रन	विकेट	बेस्ट/पारी	बेस्ट/मॅच	औसत	रन प्रति ओवर	स्ट्राइक रेट	4 विकेट	5 विकेट	10 विकेट टेस्ट	47	90	11135	5174	202	7/54	12/121	25.61	2.78	55.1	8	11	2 एकदिवसीय	56	56	3123	1771	87	5/22	5/22	20.35	3.4	35.8	2	1	0 प्रथम श्रेणी	228		42760	18679	889	8/47		21.01	2.62	48		47	7 लिस्ट ए	195		9841	5091	274	5/13	5/13	18.58	3.1	35.9	9	2	0
Sir-Andy-Roberts-Bowling-records-in-Hindi

टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सबसे पहेले अॅन्टीग्वाई प्लेयर,एंडी रॉबर्ट्स जो एक खतरनाक तेज़ गेंदबाज़ थे और जो 70 के दशक के शुरूआत मे विंडिज़ टीम के पेसर्स की चौकडी मे से एक थे ।

आज के दौर मे भी वेस्ट इंडियन पेसर्स की ड़राने वाली नितीयों की बात की जाती है और ज़्यादातर खेल के दिग्गज राॅबर्ट्स को ही उस कला का सबसे अच्छा इस्तेमाल करने वाला मानते थे, खासकर इसलिए क्योकि उनकी इन नितीयों मे गंभीरता और चेहरे के भाव छुपाना भी शामिल था ।

रॉबर्ट्स एक मजबूत व्यक्ति थे वो भी एक सजग दिमाग के साथ, और वो अपने चौडे कंधो का उपयोग लय मे गेंदबाज़ी करने के रन-अप के लिए करते थे ।

    माइकल होल्डिंग – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

उनके पास अपनी स्टाॅक गेंद बाउंसर के लिए दो विविधताएं थी । एक जो धीमी गती से डाली जाती थी और अक्सर बल्लेबाज़ उसे आसानी से खेल जाते थे । लेकिन ये रॉबर्ट्स द्वारा की गयी एक चाल होती थी जिस से वे बल्लेबाज़ को सुरक्षा की एक झूठी भावना मे डाल सके।

रॉबर्ट्स, तब ठीक उसी जगह अपना दूसरा बाउंसर डालते जहा उन्होने पहला बाउंसर डाला था लेकिन इसबार ज्यादा तेज़ रफ्तार के साथ। बल्लेबाज़ उस गेंद को उसी प्रकार खेलने का प्रयास करते थे जिस तरह पिछला बाउंसर खेला था लेकिन वे लोग गेंद के अतिरीक्त गति और उछाल से हैरान रह जाते ।
रॉबर्ट्स की इस चाल से कई बल्लेबाज़ आउट हुए और कई ज्यादा इस दर्दनाक वार के शिकार हुए ।

    सर गॅरी सोबर्स – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

रॉबर्ट्स ने 23 वर्ष की उम्र में ब्रिजटाउन, बारबाडोस में इंग्लैंड के खिलाफ अपना टेस्ट मॅच पदार्पण किया ।

11 साल के कैरियर में उन्होंने 25.61 की औसत से 47 टेस्ट मैचों में 202 विकेट लिए। दो बार उन्होंने एक पारी मे सात विकेट लिए और 10-विकेट की एक समान संख्या हासिल की। वह क्लाइव लॉयड की अपराजेय टीम का हिस्सा थे जिन्होंने 1975 और 1979 में पहले दो वनडे विश्व कप जीते थे। वह लीसेस्टरशायर और न्यू साउथ वेल्स की टीमों का हिस्सा थे। उन्होंने 889 प्रथम श्रेणी के विकेटों के साथ अपना क्रिकेट समाप्त कर दिया।

हालांकि, उनकी गति ने उनका साथ छोड़ दिया, लेकिन गेंद को स्थानांतरित करने की उनकी क्षमता ने ही उन्हे कैरियर के अंत तक खेल में बनाए रखा। इमरान खान ने कहा है कि टेस्ट क्रिकेट में उन्होने खेली हुयी सबसे घातक डिलीवरी एंडी रॉबर्ट्स द्वारा डाली गयी थी ।

    जोल गार्नर – वेस्टइंडीज़ – रिकॉर्ड

सन्यास के बाद, रॉबर्ट्स ने क्रिकेट पिचों की तैयारी की देखरेख में सक्षम प्रशासक की भूमिका निभाई । फरवरी 2014 में, रिची रिचर्डसन और कर्टली एम्ब्रोस के साथ उन्हें नाइट की उपाधी दी गई ।

सर एंडी रॉबर्ट्स वास्तव में खेल के एक महान सेवक थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Sir Andy Roberts Records | West Indies | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: