रबाडा के पिता ने कहा आईपीएल एक अच्छी चुनौती (Kagiso Rabada father believes IPL will help)

Kagiso Rabada father believes IPL will help

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कगिसो रबाडा की नंबर एक प्राथमिकता रहेगी बावजूद की उन्हें एक बड़े पैमाने पर आईपीएल सौदे में ख़रीदा गया है,
जिसने उन्हें एक ही रात में करोड़पति बना दिया है। यह 21 वर्षीय तेज गेंदबाज जिसे दिल्ली डेयरडेविल्स ने 5 करोड़ भारतीय रूपए (लगभग
750000 अमरीकी डालर) जो लगभग दक्षिण अफ़्रीकी दस मिलियन रैंड की राशि के बराबर है, में ख़रीदा है और जो उसका जीवन बदल सकता है,
लेकिन इसके कारण दक्षिण अफ्रीका के प्रति उसके ध्यान पर असर नहीं पड़ेगा, जबतक की उसके पिता को इससे कोई आपत्ति ना हो।

“मैं उसके लिए बहुत खुश हूँ और उसे अपने लक्ष्य तक पहुँचने के लिए पूरा सहयोग करूँगा। उसका भविष्य मात्र एक आईपीएल अनुबंध से
नहीं बल्की दीर्घायु तक उच्चतम संभव स्तर के खेल के द्वारा अधिक संक्षिप्त होगा,” डॉ. म्फो रबाडा, कगिसो के पिता, ने कहा। “उसका टीम में सफलतापूर्वक शामिल होना एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। मुझे लगता है यह उसे अपने खेल में सुधार लाने के लिए प्रोत्साहित करेगा और उससे अधिक महत्वपूर्ण उसे राष्ट्रीय टीम में अपने कौशल को आजमाने के लिए सहायता करेगा। राष्ट्रीय टीम के जी[रबाडा] का गौरव और सपना है, इस प्रकार उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण भी है।”

रबाडा पहले ही साबित कर चुके है कि वह पहले स्थान पर अपनी राष्ट्रीय टीम को रखते है, जब उन्होंने पिछले साल आईपीएल नीलामी में भाग लेने से मना कर दिया और उसकी बजाय केंट के साथ एक काउंटी कार्यकाल को चुना। “वह आया और मुझसे और गॉर्डन पार्सन्स ( ‘लायंस गेंदबाजी कोच) से बात की और हमने तय किया है कि मुख्य बात जिस पर उसे ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है वह है अपने कौशल में सुधार लाना ,” जेफ्री टोयाना, रबाडा के कोच ने लायंस मताधिकार में गेंदबाज के काउंटी कार्यकाल के बारे में कहा। “और वह जानता था कि यह आने वाले इंग्लैंड दौरे के लिए अच्छी तैयारी होगी।”

दक्षिण अफ्रीका चैंपियंस ट्रॉफी के बाद जुलाई में इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट खेलेगा, और रबाडा ने पिछले वर्ष को उन परिस्तिथियों में अनुभव प्राप्त करने के लिए आदर्श समय के रूप में देखा। वह जानता था कि एक संकीर्ण समय-सीमा के कारण तुरंत श्रृंखला से पहले इस साल इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेलना शायद संभव नही है। आईपीएल में रुचि होने के बावजूद, रबाडा ने फैसला किया कि उसे अपनी व्यक्तिगत विकास पर जोर देने की जरूरत है, निश्चित तौर पर निकट भविष्य में आईपीएल सौदे में भाग लेने के कई अवसर मिलेंगे।”उन्होंने महसूस किया कि वह पिछले साल तैयार नहीं था और हम विचार-विमर्श के बाद निर्णय का समर्थन कर रहे थे, लेकिन अब अंत में यह पूर्ण हुआ है,” रबाडा के पिता ने कहा।

रबाडा का पहला आईपीएल दक्षिण अफ्रीका के मौजूदा न्यूजीलैंड दौरे, जो मार्च में तीन टेस्ट मैचों के साथ समाप्त होगा, के तुरंत बाद प्रारंभ होगा, और
चैंपियंस ट्रॉफी की तैयारी के लिए घटाया जायेगा। सीएसए अपने खिलाड़ियों को 7 मई को बुलायेगा। इसका मतलब रबाडा को सीधे ऑस्ट्रेलियाई दौरे,
बाद में श्रीलंका के साथ घरेलू श्रृंखला, फिर न्यूज़ीलैण्ड, आईपीएल, इंग्लैंड के दौरे के बाद एक और गर्मी की शुरुआत से पहले कुछ ही कीमती समय के
लिए आराम मिलेगा। रबाडा केवल 21 वर्ष का है और उसे बर्न आउट की आशंका हो सकती है, लेकिन टोयाना का मानना ​​है कि वह मजबूत है।

“केजी एक खिलाड़ी है। वह एक अच्छी, साफ गेंदबाजी एक्शन और अब तक, नज़र ना लगे, उसे कोई चोट नही आई” टोयाना ने कहा। “यह देखना
हमेशा उसके लिए महत्वपूर्ण होगा कि वह कहाँ खेलता है और कितना खेलता है, लेकिन मैं उसके बारे में भी चिंतित नहीं हूं। वह खुद को और अपने
शरीर को जानता है और अगर यह बहुत अधिक हो जाता है तो उसे पता चल जाएगा।” फैशन, संगीत और एक नये अधिग्रहीत ड्राइवर लाइसेंस के
अपने प्यार से अटकले लगाई जा सकती है की गेंदबाज़ इसमें से कुछ का इस्तेमाल करके खुद को खराब कर सकते हैं लेकिन टोयाना के अपने संदेह है।

“उन्होंने कहा कि वह स्मार्ट बच्चा है, तो मैं कहूँगा कि वह शायद इसे किसी निवेश में लगाएगा,” उन्होंने कहा।”मुझे नहीं लगता कि वह इसे किसी भी
बेकार वस्तु पर खर्च करेगा और उसके पास एक संरक्षक के रूप में अपने पिता है।”

Source – EspnCricinfo

Leave a Response

share on: