आईपीएल 2018: अगर ख़िताब जीतना चाहते हैं, तो किंग्स इलेवन पंजाब को इन 5 खिलाड़ियों को बरक़रार रखना होगा

5 players KXIP should retain to win IPL 2018

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम अब तक आईपीएल तो नहीं जीत सकी है, लेकिन अपने प्रशंसकों को उनके खिलाड़ियों ने जितना मनोरंजन और रोमांच दिया है, उस मामले में टीम निश्चित रूप से अपराजेय है। पंजाब की टीम मूल फ्रैंचाइजी सदस्यों में से एक है, पर अभी तक टूर्नामेंट जीतने में कामयाब नहीं हो पाई है।

एक बार तो ग्लेन मैक्सवेल और डेविड मिलर के भड़कीले प्रदर्शन ने उन्हें 2014 के संस्करण के फाइनल में भी पहुँचा दिया था, लेकिन कई बार ऐसा भी हुआ जब वे सबसे निचले पायदान पर भी रहे हैं। जबकि कई अन्य अवसरों पर उन्होंने शीर्ष 4 में अपने स्थान को सुरक्षित करने के लिए भी संघर्ष किया है।

प्रीती जिंटा के स्वामित्व वाली टीम को 2018 की नीलामी से काफी उम्मीदें हैं, ताकि वे नए खिलाड़ियों को टीम में शामिल कर सके। हालांकि, उनकी टीम में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं, जिन्हें वे निश्चित रूप से खोना नहीं चाहेंगे। आइए हम उन 5 खिलाड़ियों को देखें जिन्हें किंग्स इलेवन पंजाब टीम में बरक़रार रखना चाहेगी:

लखनऊ बन सकता है किंग्स इलेवन पंजाब का नया ठिकाना

ग्लेन मैक्सवेल
ग्लेन मैक्सवेल

1) ग्लेन मैक्सवेल

ऐसा सिर्फ एक बार ही हुआ है, जब किंग्स इलेवन पंजाब ने बल्ले के साथ एक ठोस प्रदर्शन किया और एक टीम के रूप में भी अविश्वसनीय रही। यह 2014 के आईपीएल संस्करण में हुआ था, और उस वक़्त मैक्सवेल उनके निर्विवाद स्टार थे।

उन्होंने लगातार तीन मैचों में 95, 89 और 95 रन बनाकर इंडियन प्रीमियर लीग के अबू धाबी संस्करण को शानदार बना दिया। 2014 में ₹6 करोड़ में खरीदे गए मैक्सवेल टूर्नामेंट में तीसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी थे और उस संस्करण में अपनी टीम के लिए उन्होंने 552 रन बनाए थे। कुल मिलाकर उन्होंने आईपीएल में 57 मैचों में लगभग 25 की औसत और 164.39 की स्ट्राइक रेट से 1228 रन बनाये।

हैरानी की बात यह है कि इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कई बार निराश भी किया है।

राष्ट्रीय टीम में लगातार अंदर और बाहर होने के कारण वह और भी परेशान रहे हैं। लेकिन एक बात निश्चित है कि उनके दिन पर मैक्सवेल किसी भी गेंदबाजी लाइनअप की धज्जियाँ उड़ा सकते हैं और जो वर्षों से उन्होंने अनुभव हासिल किया है, वह 2018 के सीजन में टीम की सफलता का मार्ग भी प्रशस्त कर सकता है।

डेविड मिलर
डेविड मिलर

2) डेविड मिलर

डेविड मिलर एकमात्र ऐसे अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी थे जिसे किंग्स इलेवन पंजाब ने 2014 की नीलामी के दौरान बरक़रार रखा था। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज, वर्तमान में क्रिकेट बॉल के सबसे बड़े स्ट्राइकरों में से एक है। यह बात इस तथ्य से स्पष्ट हो जाती है कि उन्होंने टूर्नामेंट के इतिहास में तीसरा सबसे तेज शतक सिर्फ 38 गेंदों पर ठोक दिया था। उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ मात्र 38 गेंदों में शानदार 101 रन बनाए थे।

इसके बावजूद मिलर जैसे धुरंधर खिलाड़ी के लिए फार्म कई बार चिंता का विषय बन जाता है। यह एक ऐसा रुझान है, जिसे टीम के उनके साथी खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल भी उनसे साझा करते हैं।

आई पी एल 2018: 3 खिलाड़ी जिन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स को रिटेन करना चाहिए

लेकिन हालिया समय में मिलर काफी अच्छे फॉर्म में चल रहे हैं। उन्होंने सिर्फ 35 गेंदों में बांग्लादेश के खिलाफ हाल की श्रृंखला में सबसे तेज टी -20 शतक बनाया। ऐसा पहली बार हुआ जब बल्लेबाजी क्रम में कोई 5 नंबर या उसके बाद खेलने उतरा और शतक बना गया।

मिलर के आईपीएल आंकड़े भी काफी प्रभावशाली दिखते हैं। उन्होंने 35.52 की औसत से और 8 अर्धशतकों और एक शतक की मदद से 1563 रन बनाए हैं।

संदीप शर्मा
संदीप शर्मा

3) संदीप शर्मा

केएक्सआईपी की बल्लेबाजी के बारे में तो बहुत कुछ कहा गया है, लेकिन लोग अक्सर संदीप शर्मा की प्रतिभा को अन्यथा साधारण गेंदबाजी आक्रमण के बीच से पहचानने में नाकाम रहे हैं। पंजाब के स्विंग गेंदबाज, गेंद को दोनों तरफ स्विंग करने में सक्षम हैं और टीम के मुख्य सदस्यों में से एक रहे हैं।

56 आईपीएल मैचों में 7.7 रन प्रति ओवर की इकॉनमी से 71 विकेट लेकर उन्होंने खुद की प्रतिभा को साबित कर दिया है, क्योंकि वह मुख्यतः पॉवरप्ले या डेथ ओवरों में ही गेंदबाज़ी करते हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ आंकड़ा 4-20 है, जो दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ पिछले सत्र में आया था।

और इस सब से भी बेहतर यह बात है कि वह अभी केवल 24 साल के हैं। इस आईपीएल के दौरान टीम प्रबंधन के लिए उन्हें बनाये रखना सबसे सरल निर्णयों में से एक हो सकता है।

आई पी एल 2018: 3 खिलाड़ी जिन्हें मुंबई इंडियंस को रिटेन करना चाहिए

अक्षर पटेल
अक्षर पटेल

4) अक्षर पटेल

बाएं हाथ का बल्लेबाज और धीमी गति से बाएं हाथ का यह ऑर्थोडॉक्स गेंदबाज शायद आईपीएल के सबसे सुसंगत ऑलराउंडर्स में से एक है। 17 विकेट लेने के बाद 2014 के संस्करण में उन्हें “इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर” के रूप में सम्मानित किया गया था। भारतीय टीम में स्थान पा कर गुजरात के इस होनहार खिलाड़ी को अपनी क्षमता को और विकसित करने का मौका भी मिला।

स्पिन गेंदबाज़ी के दौरान उनका प्रमुख हथियार सटीकता है। स्थिति की मांग के अनुसार विरोधियों की रन गति धीमी करने में तो वह माहिर हैं।

अक्षर पटेल – भारत – रिकॉर्ड

बल्ले से भी उन्होंने कई मर्तबा बेहतरीन प्रदर्शन कर टीम को कई मैच जिताये हैं। उन्होंने आईपीएल के अपने करियर में 7.4 रन प्रति ओवर की इकोनॉमी रेट से 58 विकेट लिए हैं और 606 रन भी बनाए हैं।

इन काबिल खिलाड़ियों की सहायता से आईपीएल 2018 में पंजाब की टीम निश्चित रूप से कुछ बड़ा कर के दिखायेगी।

मुरली विजय
मुरली विजय

5) मुरली विजय

मिलर और मैक्सवेल जैसे बड़े हिटर और स्ट्राइकर से भरी टीम में मुरली विजय क्लास और स्थिरता का सही मिश्रण प्रदान करते हैं।

100 आईपीएल मैचों में 123 की स्ट्राइक रेट से 2500 से भी ज्यादा रनों के साथ विजय पंजाब के शीर्ष क्रम की समस्याओं का समाधान हो सकते हैं, एक ऐसी समस्या जो वीरेंद्र सहवाग के दिनों से ही टीम को सता रही है। वह आईपीएल में दो शतक बनाने वाले चुनिंदा खिलाड़ियों में से भी एक हैं।

आई पी एल 2018: 5 खिलाड़ी जिन्हें सनराइज़र्स हैदराबाद रिटेन करना चाहेगी

एक समय टी20 टीम के नियमित सदस्य रहे विजय ने टेस्ट टीम में शामिल होने के लिए कड़ी मेहनत की और मौजूदा परिदृश्य कुछ ऐसे हो गया है कि वह टेस्ट टीम में नियमित हो गए हैं और किंग्स एलेवन पंजाब की टीम में शामिल होने के लिए उन्हें संघर्ष करना पड़ रहा है।

विजय 2017 संस्करण में कंधे की चोट की वजह से नहीं खेल पाये थे और इसलिए इस मौसम में वह मजबूत वापसी करने का मौका जरूर तलाश रहे होंगे।

Source: IPL 2018 : 5 players that Kings XI Punjab should retain to win the title

Summary
Review Date
Reviewed Item
5 players KXIP should retain to win IPL 2018 | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: