कैसी होगी आईपीएल 2018 की नीलामी?

IPL 2018 auction

आईपीएल नीलामी से बड़ा और बेहतर क्या है? अगर आप 2017 में हैं तो अगले साल की आईपीएल नीलामी!

बैंगलोर के रिट्ज कार्लटन होटल में हुई आईपीएल की नीलामी कई मायनों में बेहद खास और आकर्षक थी। भले ही यह बात स्टोक्स और टाईमल मिल्स को अच्छी न लगे लेकिन यह सर्वव्यापी अर्थों में सबसे ‘बड़ी’ नीलामी भी नहीं थी। दरअसल स्टोक्स और मिल्स को उतना भी बुरा नहीं लगेगा क्योंकि वे शायद यह नहीं पढ़ रहे हैं। जब आप रातोंरात एक करोड़पति बन जाते हैं, तो आप वैसे भी इन बातों पर ध्यान नहीं देते हैं क्योंकि आप मुस्कुराते हुए ही बहुत व्यस्त हैं।

फिर भी, 2017 की आईपीएल नीलामी वास्तव में एक बहुत बड़ी नीलामी नहीं थी, क्योंकि टीमों के साथ उपलब्ध बजट, रिक्त स्थानों की संख्या, और उपलब्ध खिलाड़ियों की संख्या अपेक्षाकृत उतनी बढ़िया नहीं थी जितना कि वे अब तक एक वर्ष के बाद होंगे। 2018 की नीलामी अभी तक की सबसे बड़ी आईपीएल नीलामी होने की संभावना है, शायद 2014 से भी बड़ी, जो दो दिन तक चला था और जो उसके बारे में लाइव ब्लॉग्गिंग कर रहे थे, उनकी उंगलियाँ लिखते लिखते थक गयी थी। लेकिन सवाल यह है कि 2014 से 2018 की नीलामी बड़ी क्यों होगी? जाहिर सी बात है कि 2018 की नीलामी में कई बड़े नाम शामिल होंगे और उन्हें शामिल करने के लिए सारी टीमों में जद्दोजहद भी होगी।

महेंद्र सिंह धोनी को खरीदने के लिए शाहरुख खान अपना पजामा बेचने को तैयार

उदाहरण के लिए, शेन वॉटसन को कौन बरकरार रखना चाहेगा? रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, जिन्होंने 9.5 करोड़ रुपए की भारी रकम उनपर खर्च की और उनकी टीम के वह अभिन्न सदस्य हैं? या राजस्थान रॉयल्स? जी हाँ, रॉयल्स वापस आ जाएंगे। वैसे ही चेन्नई सुपर किंग्स की टीम भी नीलामी में होगी। राजस्थान एक ठोस तर्क दे सकता है कि उन्हें उनके लंबे सहयोग के कारण वॉटसन पर पहले दावा करना चाहिए। वाटसन ने खुद कहा है कि वह राजस्थान में ‘बहुत अच्छा’ महसूस करते हैं और टीम का खुशहाल वातावरण उन्हें बहुत भाता है।

जैसा कि सभी जानते हैं, इस वर्ष के बाद राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स और गुजरात लायंस की टीमें आईपीएल में नहीं होंगी। अगर मान लें कि अगले साल केवल आठ टीमें होंगी, मूल आठ टीमें, फिर क्या होगा? यहां हम कुछ ऐसी संभावनाएं दिखा रहे हैं जो आईपीएल 2018 की नीलामी में कौतूहल का विषय बनी रहेंगी:



2018 से पहले, खिलाड़ियों को टीम में बरक़रार रखना आसान था क्योंकि खिलाड़ियों को दिया गया पैसा फ्रैंचाइज़ी के खाते से कटता था। लेकिन जैसा कि हम आपको समझाएंगे, ऐसा 2018 से नहीं होना चाहिए।

10 खिलाड़ी जो शायद आईपीएल 2018 में शामिल नहीं हो

‘राइट टू मैच’ कार्ड एक नया रास्ता हो सकता है। हर फ्रेंचाइजी को पांच या छह ऐसे कार्ड्स मिलेंगे और इस तरह से वे उन खिलाड़ियों को रख सकते हैं जिन्हें वह रखना चाहते हैं, लेकिन बाजार मूल्य पर।

समस्या तब आती है जब वाटसन जैसे खिलाड़ियों की बात आती है और सभी जानना चाहते हैं कि उन्हें रखने का अधिकार किसको मिलेगा? हम जो प्रस्ताव पेश कर रहे हैं वह कुछ ऐसा है: एक ड्राफ्ट (मसौदा) प्रणाली है जो पुणे और गुजरात के समय था, जहां वापस आ रही टीमें चेन्नई और राजस्थान पांच पांच खिलाड़ियों को चुन सकती हैं। खिलाड़ी जो इस ड्राफ्ट का हिस्सा होंगे वो हैं- पुणे और गुजरात के बाहर निकल जाने के बाद वह खिलाड़ी जो किसी फ्रैंचाइज़ी का हिस्सा नहीं रहेंगे और वो भी खिलाड़ी जो अपनी टीम को छोड़कर इस ड्राफ्ट का हिस्सा बनना चाहते हैं। तो अगर वॉटसन सोचते हैं कि वह इस मसौदे को स्वीकार करेंगे और चेन्नई से पहले राजस्थान उन्हें लेने के लिए तैयार हो जायेगा, तो वह बेंगलुरु की टीम छोड़ने के लिए स्वतंत्र हैं। बेशक इसका मतलब यह भी होगा की अगर दोनों टीमों में से किसी ने उन्हें मसौदे की तहत नहीं चुना, फिर वह नीलामी का हिस्सा ही बनेंगे और कोई भी टीम उन्हें ले सकती है।



यूएई में होगा बीसीसीआई का मिनी आईपीएल?

लेकिन इस ड्राफ्ट के तहत आने वाले खिलाड़ी राजस्थान या चेन्नई का हिस्सा स्वचालित रूप से नहीं हो जायेंगे। दोनों फ्रेंचाइजी को केवल उनके लिए राइट टू मैच कार्ड प्राप्त होंगे। यह सुनिश्चित करेगा कि मसौदे के तहत आने वाले खिलाड़ियों को जो भी भुगतान किया जाता है वह उनका उचित बाजार मूल्य हो। आगे यह होगा कि वो खिलाड़ी नीलामी में जायेंगे और उनकी बोली लगेगी। फिर चेन्नई या राजस्थान को यह तय करना होगा की वह सबसे बड़ी बोली जितनी रकम उस खिलाड़ी पर खर्च करना चाहते हैं या नहीं।

इस प्रणाली का एक दोष यह है कि इसके परिणामस्वरूप कुछ खिलाड़ियों को अलग-अलग फ्रेंचाइजी में भेजा जा सकता है जबतक वे अपनी मौजूदा टीम के साथ गहरे सम्बन्ध जोड़ चुके हैं।

आईपीएल 2017 अंक तालिका | टॉप 5 बल्लेबाज़ और गेंदबाज़

Summary
IPL 2018 auction | IPL 2018 | CricketinHindi.com
Article Name
IPL 2018 auction | IPL 2018 | CricketinHindi.com
Author
Publisher Name
CricketinHindi.com
Publisher Logo

Leave a Response

share on: