आईपीएल 2018 नीलामी में युवराज सिंह थे हमारी रणनीति का हिस्सा : सतीश मेनन (मुख्य कार्यकारी अधिकारी, किंग्स इलेवन पंजाब)

IPL 2018: KXIP CEO always wanted Yuvraj Singh

अक्षर पटेल के रूप में केवल एक खिलाड़ी को रिटेन करने के बावजूद किंग्स इलेवन पंजाब ने आई पी एल नीलामी द्वारा एक मजबूत टीम तैयार की। नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब के पर्स में सबसे अधिक राशि थी और इसी कारण उन्होंने नीलामी में आक्रामक रवैया अपनाकर अन्य टीम मालिकों को चकित कर दिया। एक ओर जहां पंजाब ने आर अश्विन, आरोन फिंच, के एल राहुल और एंड्रू टाय जैसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों को खरीदा वहीं युवराज सिंह और क्रिस गेल के रूप में बाएं हाथ के दो विश्वस्तरीय बल्लेबाज़ों को टीम में शामिल किया।

टाइम्स नाउ डिजिटल के सुयश श्रीवास्तव के साथ बातचीत में किंग्स इलेवन पंजाब के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सतीश मेनन ने नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब के आक्रामक रवैये और अश्विन को कप्तान नियुक्त किए जाने सम्बंधी सवालों पर प्रतिक्रिया दी।

आईपीएल 2018 : आठों टीमों के सभी खिलाड़ियों की सूची!

इंटरव्यू की खास बातें –

किंग्स इलेवन पंजाब, आई पी एल 2018 नीलामी के दौरान सबसे सक्रिय फ्रेंचाइजी थी। आपने इस पर विचार किया?

नीलामी से पहले हमने अपनी रणनीति तैयार करने में काफी समय दिया था और इसी कारण हम नीलामी के लिए पूरी तरह तैयार थे। अगर हमने एक या दो खिलाड़ियों को खो दिया तो उसी के अनुसार दूसरे खिलाड़ियों को खरीदा। हमारी रणनीति थी कि हम अपनी सूची के 50% खिलाड़ियों को खरीद सकें लेकिन हमने 60-70% खिलाड़ियों को खरीद लिया। चाहे वह एंड्रू टाय हों, आर अश्विन हों, युवराज सिंह हों या क्रिस गेल हों, हम अपने चयन से खुश हैं। गेल हमारी सूची में नहीं थे लेकिन अंत में हमने उन्हें खरीद लिया।



नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब के आक्रामक रवैये ने दूसरी फ्रेंचाइज़ियों को आश्चर्यचकित कर दिया। क्या यह एक रणनीति थी?

रणनीति साफ थी, खिलाड़ियों का विकल्प तैयार रखें और उन पर तय सीमा तक बोली लगाएं। हम एक संतुलित टीम तैयार करना चाहते थे। हम कुछ विशिष्ट बल्लेबाज़ों और गेंदबाज़ों को टीम में शामिल करना चाहते थे। हम 2-3 आक्रामक बल्लेबाज़ों को खरीदना चाहते थे। हाशिम अमला को खोने के बाद हमने करुण नायर को खरीदा जो लंबे समय तक बल्लेबाजी कर सकते हैं।

आईपीएल 2018: प्रत्येक आईपीएल टीम के प्रमुख ऑलराउंडर

पिछले सत्र में अमला ने मुम्बई इंडियंस के खिलाफ शानदार शतक लगाया था और पंजाब के मुख्य बल्लेबाज थे। उन्हें रिटेन न करने के पीछे क्या कोई खास वजह थी?

हमारे पास और विकल्प मौजूद थे। गेल की लोकप्रियता अधिक थी लेकिन अमला हमारा पहला विकल्प नहीं थे। शायद दूसरा, तीसरा अथवा चौथा विकल्प थे।

आई पी एल 2018 नीलामी में आप सबसे बड़ी उपलब्धि क्या मानते हैं और किस बात का पछतावा है?

आई पी एल नीलामी में जाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण होती है इसकी तैयारी। अगले सत्र में हम युवा खिलाड़ियों पर निवेश करेंगे। अन्य फ्रेंचाइज़ियों की तरह हमने ज़्यादा खिलाड़ियों को रिटेन नहीं किया इसलिए हम अनुभवी खिलाड़ियों की टीम बनाना चाहते थे। मुझे इस बात का पछतावा है कि हम भारत के युवा खिलाड़ियों को नहीं खरीद सके जैसे अंडर 19 के खिलाड़ियों को।



किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान की घोषणा करते समय वीरेंद्र सहवाग ने कहा था कि युवराज सिंह भी इस दौड़ में थे। अगले कप्तान के रूप में वह सबसे लोकप्रिय भी थे। क्या आप बताएंगे कि उनकी जगह अश्विन को क्यों कप्तान बनाया गया?

युवराज टीम के अहम खिलाड़ी हैं और हम उन्हें ज़रूर टीम में शामिल करना चाहते थे। हम चाहते हैं कि वह बिना किसी दबाव के अपना आक्रामक खेल खेलें। टीम प्रबंधन को भरोसा है कि अश्विन एक बेहतरीन कप्तान साबित होंगे और हम इस निर्णय से खुश हैं।

आईपीएल 2018 नीलामी : किंग्स इलेवन पंजाब के इस खिलाड़ी को रिटेन न कर पाने के कारण प्रीति जिंटा हुईं दुखी!

आई पी एल 2018 नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब ने जहाँ कई बड़े खिलाड़ियों को खरीदा वहीं कई मुख्य खिलाड़ियों को जाने भी दिया। आप उन खिलाड़ियों को क्या संदेश देना चाहेंगे?

चाहे वह ग्लेन मैक्सवेल हों, संदीप शर्मा हों या मनन वोहरा हों, ये सभी खिलाड़ी किंग्स इलेवन पंजाब की रीढ़ रहे हैं। हम इन सबको याद करेंगे और मैं इन सभी को भविष्य की शुभकामनाएं देता हूँ।




क्या आप नए सत्र की टीम से खुश हैं?

बिल्कुल, मेरा मानना है कि यह एक बेहद संतुलित टीम है।

उन प्रशंसकों को क्या संदेश देना चाहेंगे जो किंग्स इलेवन पंजाब को पहली बार खिताब जीतते देखना चाहते हैं?

मैं सभी प्रशंसकों से आग्रह करता हूँ कि वह भारी से भारी संख्या में पहुंचकर टीम का उत्साहवर्धन करें। प्रशंसक हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण हैं।

Source: Yuvraj Singh was in our plans going into IPL 2018 auctions: KXIP CEO Satish Menon to Times Now

Summary
Review Date
Reviewed Item
IPL 2018: KXIP CEO always wanted Yuvraj Singh!
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: