आईपीएल 2018 रिटेंशन, ऐसे सवाल जिनके जवाब आप जानना चाहेंगे: राईट टू मैच कार्ड क्या है? एक फ्रैंचाइज़ी कितने खिलाड़ियों को बरकरार रख सकती है?

IPL 2018 Retention: What is Right To Match card? No. of players a franchise can retain?

इंडियन प्रीमियर लीग की आठों फ्रैंचाइजी टीमें 2018 की आईपीएल नीलामी से पहले बरक़रार रखे गए खिलाड़ियों की अंतिम सूची सौंपने ही वाली हैं, और जाहिर सी बात है कि इस बात को लेकर सबका उत्साह चरम पर पहुँच चुका है। टीम के मालिक खिलाड़ियों के विषय में सोच-विचार करने में व्यस्त होंगे। जहाँ अभी तक किसी भी टीम ने रिटेन किये जा रहे खिलाड़ियों को लेकर कोई भी आधिकारिक घोषणा नहीं की है, वहीं रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अपने कोचिंग स्टाफ में आशीष नेहरा और गैरी कर्स्टन को शामिल कर लिया है, जबकि डैनियल विटोरी अभी भी उनकी टीम के मुख्य कोच बने हुए हैं।

आईपीएल 2018: रिकी पोंटिंग होंगे दिल्ली डेयरडेविल्स के मुख्य कोच

पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई इंडियंस ने रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या को अपने तीन प्रमुख खिलाड़ियों के रूप में बरकरार रखने का फैसला किया है। हालांकि, तीन बार की आईपीएल विजेता टीम के पास जसप्रीत बुमराह या कीरोन पोलार्ड को भी अपने तीसरे खिलाड़ी के रूप में बरकरार रखने का विकल्प था, लेकिन इस बात के पीछे भी एक बहुत ही दिलचस्प तर्क है कि क्यों वे इन दो अनुभवी खिलाड़ियों की जगह क्रुणाल को बरक़रार रखने की योजना बना रहे हैं।



खिलाड़ियों के रिटेंशन को लेकर सोशल मीडिया में बहुत सारे सवाल उठ रहे हैं। लेकिन हम आपकी इस समस्या का समाधान अभी निकाल देते हैं। 2018 की आईपीएल नीलामी के बारे में आपको ये सभी बातें जानने की जरूरत है:

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने इस साल आईपीएल नीलामी के लिए फ्रैंचाइजी टीमों का वार्षिक वेतन बजट 66 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 80 करोड़ रुपये कर दिया। 2019 और 2020 के लिए इस राशि को क्रमशः 82 और 85 करोड़ रूपए तक भी बढ़ाया जा सकता है।

रिटेन किये गए खिलाड़ियों को कितना पैसा देगी टीमें?

यदि एक फ्रैंचाइज़ी तीन खिलाड़ियों को बरकरार रखने का फैसला करती है, तो कुल 80 करोड़ रुपये के उनके बजट से 33 करोड़ रुपये का कटौती कर ली जाएगी। नीलामी पूर्व रिटेन किये गए पहले खिलाड़ी को 15 करोड़ रुपये मिलेंगे, दूसरे खिलाड़ी को 11 करोड़ रुपये और तीसरे सात करोड़ रुपये मिलेंगे। इसलिए, वह टीम जो सभी तीन खिलाड़ियों को बरकरार रखती है, वह मात्र 47 करोड़ रुपये की राशि के साथ ही नीलामी में जा पाएगी।

आईपीएल 2018: मुम्बई इंडियंस द्वारा रिटेन किए जाने पर रोहित शर्मा ने दिया भावुक संदेश

अगर एक फ्रैंचाइज़ी सिर्फ दो खिलाड़ियों को बरक़रार रखने का विकल्प चुनती है, तो कुल 80 करोड़ रुपये के उनके बजट में से कुल 21 करोड़ रुपये की कटौती की जाएगी। नीलामी पूर्व रिटेन किये गए पहले खिलाड़ी को 12.5 करोड़ रुपये और दूसरे खिलाड़ी को 8.5 करोड़ रुपये मिलेंगे। इसलिए, जो टीम केवल दो खिलाड़ियों को बरकरार रखती है, वह नीलामी में 59 करोड़ रुपये की राशि के साथ ही प्रवेश कर पाएगी।

यदि कोई फ्रैंचाइजी सिर्फ एक खिलाड़ी को बरकरार रखने का विकल्प चुनती है, तो उनके कुल 80 करोड़ रुपये के बजट से 12.5 करोड़ रुपये की कटौती की जाएगी। इसलिए, टीम जो केवल एक खिलाड़ी को बरकरार रखती है वह नीलामी में 67.5 करोड़ रुपये की राशि के साथ जाएगी।

अगर फ्रैंचाइज़ी नीलामी से पहले किसी भी खिलाड़ी को रिटेन नहीं करती है, तो वह तब भी अपने तीन पूर्व खिलाड़ियों को राईट-टू-मैच कार्ड का उपयोग कर अपनी टीम में शामिल कर सकती है।



राइट टू मैच (आरटीएम) कार्ड क्या है?

एक राईट-टू-मैच कार्ड नीलामी के दौरान फ्रैंचाइज़ी को अपने पूर्व खिलाड़ियों को वापस से खरीदने का अवसर देता है। नीलामी समाप्त होने के बाद किसी अन्य टीम द्वारा उस खिलाड़ी के लिए लगायी गयी उच्चतम बोली के बराबर राशि का भुगतान करके राईट टू मैच कार्ड द्वारा कोई फ्रैंचाइज़ी अपने खिलाड़ियों को वापस खरीद सकती हैं।

उदाहरण के लिए, यदि कोलकाता नाइट राइडर्स ने क्रिस लिन को अपने तीन रिटेन किये गए खिलाड़ियों में से एक के रूप में नहीं रखा है, और सनराइजर्स हैदराबाद नीलामी में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज के लिए सबसे ज्यादा बोली लगाती है, तो फिर भी केकेआर उन्हें आरटीएम कार्ड का उपयोग करके वापस से खरीद सकती है।

Source: IPL 2018, Retention: What is Right To Match card? No. of players a franchise can retain? All you need to know

Summary
Review Date
Reviewed Item
IPL 2018: What is Right To Match card? No. of players one can retain?
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: