आई पी एल कार्यकारी संस्था द्वारा खिलाड़ियों की रिटेंशन नीति के प्रस्ताव पर बंटी आई पी एल टीमें

IPL teams divided on player retention for 2018 auction

आई पी एल कार्यकारी संस्था ने अगले वर्ष के आई पी एल के लिए टीमों द्वारा अधिकतम 1 भारतीय खिलाड़ी और 2 विदेशी खिलाड़ियों को रिटेन करने का प्रस्ताव रखा है। एक ओर जहां चेन्नई सुपरकिंग्स के प्रशंसकों के लिए यह खुशी की बात है क्योंकि इस नीति के तहत महेंद्र सिंह धोनी को टीम रिटेन कर लेगी, वहीं दूसरी ओर कुछ आई पी एल टीमों को यह प्रस्ताव स्वीकार नहीं है। इस प्रस्ताव पर टीमें दो गुटों में बंट गई हैं। कुछ टीमों को यह प्रस्ताव सही लगता है तो कुछ को नहीं, उनका कहना है कि इस प्रस्ताव के कारण होने वाले मेगा ऑक्शन(नीलामी) का उद्देश्य खत्म हो जाएगा। इस मेगा ऑक्शन का अर्थ है कि सभी खिलाड़ियों को नीलामी में उतारना चाहिए और नए सिरे से टीम बनानी चाहिए।

आई पी एल 2018 नीलामी में इन 10 खिलाड़ियों पर बड़ी बोली लगने की पूरी सम्भावना है

पिछले आई पी एल की निचली तालिका पर रही टीमों में से एक टीम के अधिकारी ने क्रिकेट नेक्स्ट से कहा कि यह प्रस्ताव नए सिरे से टीम बनाने के उद्देश्य को खत्म कर देगा।

उन्होंने कहा “हम इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं करते क्योंकि इससे नीलामी में बड़े नाम सम्मिलित नहीं हो पाएंगे। इसके अतिरिक्त इस नीलामी का विचार फुटबॉल से आया था। फुटबॉल में कोई भी खिलाड़ी अपनी वरीयता और राशि के अनुसार किसी भी क्लब में सम्मिलित हो सकता है। यदि मेगा ऑक्शन में भी रिटेंशन नीति अपनाई गई तो ये कैसा मेगा ऑक्शन हुआ? हम इस मुद्दे को टीम के मालिकों सहित कार्यकारी समिति के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। हम आशा करते हैं कि कार्यकारी संस्था अपने पुराने निर्णय पर कायम रहेगी और सभी खिलाड़ियों को नीलामी में उतारेगी।”

लेकिन आई पी एल विजेता टीमों में से एक टीम के अधिकारी का कहना है कि आई पी एल खेल के साथ साथ प्रशंसकों की भावना से भी जुड़ा है। कुछ बड़े नामों का वर्णन करते हुए उन्होंने कहा कि यदि अचानक से नए सिरे से टीम तैयार की गई तो यह प्रशंसकों के साथ ज़्यादती होगी।

आई पी एल 2018 में चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेलना चाहते हैं शादाब जकाती

उन्होंने कहा ” प्रशंसक अपनी पसंदीदा टीम में अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को खेलते देखना चाहते हैं। अब यदि इतने वर्षों बाद गौतम गंभीर, कोलकाता नाइट राइडर्स की जगह किसी और टीम की तरफ से या विराट कोहली, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की जगह किसी और टीम की तरफ से खेलते दिखाई देंगे तो प्रशंसकों के लिए यह असहज स्थिति होगी। सच कहें तो गम्भीर का अर्थ है के के आर, कोहली का अर्थ है आर सी बी और इसी प्रकार रोहित शर्मा का अर्थ है एम आई। हालाँकि रिटेंशन नीति के तहत कितने खिलाड़ियों को रिटेन किया जाए, इस पर विचार हो सकता है। मेरे अनुसार 2 खिलाड़ियों के रिटेन होने से प्रशंसकों का जुड़ाव बना रहेगा।”

मंगलवार को हुई बैठक में कार्यकारी समिति ने आई पी एल के अगले संस्करण के लिए कम से कम 3 खिलाड़ियों को रिटेन करने का प्रस्ताव रखा। कार्यकारी समिति के अध्यक्ष ने मीटिंग के बाद कहा “हम कम से कम 3 खिलाड़ियों को रिटेन करने का प्रस्ताव रखते हैं जिसमें 1 भारतीय और 2 विदेशी खिलाड़ी होंगे। जिन्होंने पिछले वर्ष राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स और गुजरात लायंस की ओर से खेला वे चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स द्वारा रिटेन किये जा सकते हैं। अगले माह मीटिंग में हम यह प्रस्ताव टीम मालिकों के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।”

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि अंत में क्या निर्णय लिया जाता है। पिछले 10 वर्षों में सफल टीमें अपने खिलाड़ियों को रिटेन करना चाहेंगी वहीं जो टीमें सफल नहीं हो पाईं वे नए सिरे से टीम बनाना चाहेंगी।

Source: IPL Teams Divided After GC Decides to Propose Retention of Players

Summary
Review Date
Reviewed Item
IPL teams divided on player retention for 2018 auction | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: