राष्ट्रीय क्रिकेट कोच को मिलेगा दो साल का अनुबंध, कोई आईपीएल नहीं – सीओए का फैसला

No IPL for National Coaches with 2 year contracts - CoA

उदाहरण के तौर पर, अगर राहुल द्रविड़ को भारत ए और भारत अंडर -19 टीम के कोच के रूप में अनुबंध का विस्तार मिलता है, तो उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स से अलग होना होगा, जहां वह पिछले दो सत्रों के लिए संरक्षक रहे हैं।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त की गई प्रशासको की समिति (सीओए) ने अपनी बैठक में दिल्ली में फैसला लिया कि राष्ट्रीय टीमों से संबंधित सभी बीसीसीआई अनुबंध दो साल के होंगे। इसका प्रभावी रूप से यह मतलब है कि राष्ट्रीय प्रशिक्षकों को- वरिष्ठ टीम से अंडर -19 स्तर तक- अब किसी भी आईपीएल फ्रैंचाइज़ी का हिस्सा, कोच या संरक्षक के रूप में बनने के लिए दो महीने का समय नहीं दिया जाएगा| उदाहरण के तौर पर, अगर राहुल द्रविड़ को भारत ए और भारत अंडर -19 टीम के कोच के रूप में अनुबंध का विस्तार मिलता है, तो उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स से अलग होना होगा, जहां वह पिछले दो सत्रों के लिए संरक्षक रहे हैं।

“अब सभी अनुबंध दो साल तक के लिए होंगे,” सीओए के अध्यक्ष विनोद राय ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया। एक अन्य सीओए सदस्य ने बताया कि यह निर्णय लोढ़ा समिति की सिफारिशों के अनुसार लिया गया है। “कोई नया अनुबंध जिसमें बीसीसीआई प्रवेश करता है, उसे लोढ़ा सुधारों का पालन करना होगा। इसमें मतभिन्नता नहीं हो सकती। और लोढ़ा समिति की सिफारिशों में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि राष्ट्रीय अनुबंध (कम से कम) 12 महीने के लिए होने चाहिए। इसलिए राष्ट्रीय टीम के लिए 10 महीने और आईपीएल में दो महीने वाला रवैया काम नहीं करेगा। ” भारत ‘ए’ और अंडर -19 टीमें के कोच के चयन में भी भारतीय टीम के वरिष्ठ कोच के जैसे ही एक प्रक्रिया का पालन किया जाएगा। सीओए के एक सदस्य ने कहा, “यह कैसे हो सकता है कि यह बात एक के लिए हो और दूसरे के लिए नहीं?” सीओए ने आज संभावित हितों के टकराव को ध्यान में रखते हुए, अनुबंध के मुद्दों पर चर्चा की। समिति हितों के टकराव के दिशानिर्देशों को तैयार करने की प्रक्रिया में है जो कि “बहुत जल्द” पूरी हो जाएगी।

कुंबले वेस्ट इंडीज दौरे के लिए बने रहेंगे कोच

बैठक में बीसीसीआई सचिव अमिताभ चौधरी और क्रिकेट बोर्ड के सीईओ राहुल जोहरी ने भी लंदन से वीडियो सम्मेलन के जरिए भाग लिया था। यह पता चला है कि उन्होंने भारतीय टीम के मुख्य कोच की नियुक्ति प्रक्रिया से संबंधित मौजूदा स्थिति से सीओए को अवगत कराया| “क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने कप्तान और कोच के साथ समस्याओं की प्रकृति का पता लगाने के लिए अपनी चर्चा जारी रखी है कि क्या इसका समाधान हो सकता है। लेकिन इस संदर्भ में, यदि वे वेस्ट इंडीज दौरे से पहले इस प्रक्रिया को पूरा नहीं कर पा रहे हैं (पहला एकदिवसीय 23 जून को है), तो उन्हें कुंबले को जारी रखने का अनुरोध करना पड़ सकता है। वे (सीएसी) कप्तान और कोच के साथ और बातचीत करना चाहते हैं, “सीओए के सदस्य ने कहा।
कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले के बीच के मुद्दे, उनके मुख्य कोच के रूप में अनुबंध के विस्तार को रोक रहे हैं, लेकिन अब जबकि कोच चयन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है, कुंबले को क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सामने आना होगा जिसमे सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरभ गांगुली शामिल हैं, चाहे ‘विवाद’ का समाधान हो गया हो। अन्य आवेदकों को वेस्ट इंडीज के दौरे के बाद साक्षात्कार और प्रस्तुतियों के लिए सीएसी के सामने उपस्थित होने का अवसर भी होगा।

इस बीच, 26 जून को बीसीसीआई की विशेष आम बैठक (एसजीएम) में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अनुमोदित लोढ़ा समिति की सिफारिश वाले संविधान को स्वीकृत करने पर चर्चा होगी। सीओए “किसी भी सिफारिश (राज्य निकायों द्वारा) का समर्थन नहीं करेगा, जो कि उनके प्रशासन को कमज़ोर करता” है।

व्यावसायिक टीम मैनेजर

वेस्टइंडीज के दौरे के बाद शायद दो साल के अनुबंध के साथ एक पेशेवर टीम मैनेजर को भारतीय टीम के लिए “एक प्रक्रिया के माध्यम से” नियुक्त किया जाएगा।

Summary
Review Date
Reviewed Item
No IPL for National Coaches with 2 year contracts - CoA | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: