आई पी एल प्रसारण अधिकार न मिलने से सोनी को परेशानी नही

Sony unaffected by losing IPL broadcast rights

आई पी एल प्रसारण अधिकार न मिलना निराशाजनक, लेकिन हम उस पर निर्भर नहीं- सोनी

स्टार इंडिया के हाथों इंडियन प्रीमियर लीग के प्रसारण अधिकार गंवाने के बाद सोनी पिक्चर्स नेटवर्क ने कहा कि यह निराशाजनक है लेकिन पिछले हफ्ते क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से डील के बाद उनके पास काफी क्रिकेट मैच हैं और अपने प्रतिद्वंद्वियों को टक्कर देने को तैयार हैं।

आई पी एल 2018 नीलामी में इन 10 खिलाड़ियों पर बड़ी बोली लगने की पूरी सम्भावना है

सोनी कॉर्प के स्वामित्व वाली कंपनी एस पी एन ने भारतीय उपमहाद्वीप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले मैचों का प्रसारण अधिकार खरीद लिया है जिसमे पाकिस्तान और श्रीलंका में खेले जाने वाले मैच भी शामिल हैं।

पिछले महीने आई पी एल के प्रसारण अधिकार स्टार इंडिया के हाथों गंवाने के बाद यह डील सामने आई है। एस पी एन के अध्यक्ष राजेश कौल ने कहा कि आई पी एल के प्रसारण अधिकार न खरीद पाना उनके लिए बहुत बड़ी घटना नहीं थी।

कौल ने कहा “हमें निराशा तो हुई क्योंकि 10 वर्षों तक हमने आई पी एल का प्रसारण किया और इसे नए मुकाम तक पहुँचाया। हम निराश तो ज़रूर हैं लेकिन खुशकिस्मती से हम सिर्फ इसी पर निर्भर नहीं हैं।”

प्रायोजकों के लिए भारत एक बड़ा बाज़ार है क्योंकि यहाँ क्रिकेट श्रृंखला के ज़रिये अपनी कंपनी का विज्ञापन कर उपभोक्ताओं के एक बड़े वर्ग तक पंहुचा जा सकता है और प्रसारणकर्ता इसी के जरिए मोटी कमाई करते हैं।

लखनऊ बन सकता है किंग्स इलेवन पंजाब का नया ठिकाना

पिछले माह स्टार इंडिया ने ₹163.48 बिलियन ($2.52 बिलियन) में अगले पांच वर्षों के लिए आई पी एल के विश्वव्यापी प्रसारण अधिकार और डिजिटल अधिकार खरीदे थे।

10 वर्ष तक इंडियन प्रीमियर लीग के प्रसारणकर्ता एस पी एन ने इस बार ₹110.5 बिलियन की बोली लगाई लेकिन स्टार इंडिया के आगे हार गई। स्टार के पास भारतीय टीम के घरेलू मैचों का प्रसारण अधिकार भी है जो उन्होंने जुलाई 2012 से मार्च 2018 तक $757.6 मिलियन में खरीदा था।

घरेलू मैचों के प्रसारण अधिकार की नीलामी जल्द ही होने वाली है और इसमें एक बार फिर इन दोनों कंपनियों के बीच प्रतिद्वंद्विता देखी जा सकती है।

कौल ने कहा “निःसंदेह बी सी सी आई का प्रसारण अधिकार मिलना अच्छा है लेकिन इस पर हम गहन विचार करेंगे।”

“हम एक सफल उद्योग चलाना चाहते हैं और यही हमारी मुख्य धारणा होती है। हमारे नेटवर्क में पहले से ही कई क्रिकेट मैच हैं।”

नए वर्ष के दौरान इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के मध्य एशेज सीरीज इस डील में उनके प्रसारण वाली पहली श्रृंखला होगी।

पिछले वर्ष उन्होंने $385 मिलियन में टेन स्पोर्ट्स को खरीद लिया था जिसके पास दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्ट इंडीज और ज़िम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के प्रसारण अधिकार हैं।

एक इंटरव्यू में कौल ने कहा “अभी भी देश में क्रिकेट सबसे लोकप्रिय खेल है और इसीलिए पांच क्रिकेट बोर्ड होने के बावजूद हमारा ध्यान पोर्टफोलियो को और सशक्त बनाने पर है।”

“यह डील हमारे पोर्टफोलियो को और प्रभावशाली बनाती है और हमें क्रिकेट के क्षेत्र में एक शक्तिशाली संस्था का दर्जा प्रदान करती है।”

2015 में एस पी एन ने ई एस पी एन से डिजिटल बाज़ार में और अधिक चैनल लांच करने का सौदा किया था। भारत में एन बी ए और एन एफ एल के प्रसारण के अलावा एस पी एन के पास रूस में होने वाले 2018 फीफा विश्व कप, अंडर 17 फुटबॉल विश्व कप और स्पेन तथा इटली की सॉकर लीग के प्रसारण अधिकार भी हैं।

कौल ने कहा “टेन स्पोर्ट्स के विलय के पीछे हमारी सोच यह थी कि हम खेलों के प्रसारण के क्षेत्र में एक सशक्त स्थिति में पहुँच सकें। यह खुशी की बात है कि आज हमारे चैनल के पास प्रसारण के लिए सबसे अधिक खेल मौजूद हैं।”

Source: Disappointed With No IPL Rights, But Not Dependent on it: Sony Executive

Summary
Review Date
Reviewed Item
Sony unaffected by losing IPL broadcast rights | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: