आईपीएल 2018 में कौन हो सकता है कोलकाता नाइट राइडर्स का कप्तान?

इस समय यह प्रश्न काफी चर्चित हो रहा है कि आई पी एल 2018 में कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी कौन करेगा?

पिछले दस वर्षों की उनकी रणनीति को देखते हुए उनके कप्तान का नाम तो साफ है लेकिन पहले पूरी गणित समझें।

यह तो साफ है कि कोलकाता ने गम्भीर की आयु की वजह से उन्हें रिटेन नहीं किया और राइट टू मैच से भी उन्हें वापस लाने की सम्भावना न के समान है। यदि वे गम्भीर को टीम में लेना चाहते तो उन्हें रिटेन कर चुके होते।

आईपीएल 2018 नीलामी: 5 बड़े नाम जो शायद न बिकें

चूंकि सफलता के बावजूद गम्भीर को बाहर किया गया इसी कारण यह तय है कि टीम उनकी उम्र के खिलाड़ी को कप्तान नहीं बनाएगी अर्थात ब्रैंडन मैकुलम और फाफ डु प्लेसिस की संभावनाएं भी खत्म हैं।

अब आप केन विलियमसन के बारे में सोच रहे होंगे लेकिन उनके साथ समस्या यह है कि विलियमसन शुद्ध बल्लेबाज़ हैं। 2011 के बाद से कोलकाता ने जिन विदेशी खिलाड़ियों का चयन किया वे ऑल राउंडर या शुद्ध गेंदबाज़ थे जैसे जैक कालिस, शाकिब अल हसन, रेयान टेन दुशाटे और आंद्रे रसेल। शुद्ध बल्लेबाज के रूप में वह भारतीय खिलाड़ियों का चयन करते हैं(क्रिस लिन, एविन मॉर्गन जैसे अपवादों को छोड़कर)।

आईपीएल 2018 नीलामी में युवराज, गम्भीर और रुट समेत 1122 खिलाड़ी होंगे शामिल



यहाँ तक कि सुनील नारायण को सलामी बल्लेबाज के तौर पर भेज कर उन्होंने यह दर्शाया कि वे अपने विदेशी खिलाड़ियों को ऑल राउंडर के रूप में देखना चाहते हैं। ऐसी रणनीति वाली टीम विदेशी बल्लेबाज़ केन विलियमसन को कप्तान बनाए, इसकी संभावनाएं बेहद कम हैं।

भारतीय खिलाड़ियों में कप्तानी के विकल्प के रूप में शिखर धवन, आर अश्विन और अजिंक्य रहाणे हैं। 2014 में सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान के रूप में धवन बुरी तरह फ्लॉप रहे और उनकी बल्लेबाज़ी पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ा। टूर्नामेंट के बीच मे ही उनके स्थान पर डैरेन सैमी को कप्तान नियुक्त किया और आखिरकार 2015 में डेविड वॉर्नर टीम के सफलतम कप्तान साबित हुए।

अश्विन भी तमिलनाडु की कप्तानी कर चुके हैं लेकिन ईडन गार्डन की उछाल भरी पिच पर उनकी स्पिन गेंदबाजी कुछ खास प्रभावित नहीं करेगी। एक माह पूर्व ही ईडन गार्डन पर कमज़ोर टीम श्रीलंका के खिलाफ वह एक भी विकेट नहीं ले सके। इस कारण यह मुश्किल है कि नीलामी में के के आर उन पर दांव खेले।

अब बचते हैं रहाणे। 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम टेस्ट मैच में उन्होंने आक्रामक कप्तानी की थी। विराट कोहली की अनुपस्थिति में उन्होंने टीम की कप्तानी की और टीम चयन के समय सबको चौंकाते हुए एक तेज़ गेंदबाज़ के स्थान पर कुलदीप यादव को टीम में शामिल किया। उनका यह निर्णय इतना बेहतरीन साबित हुआ कि वह श्रृंखला भारत ने जीत ली।

आई पी एल 2018 की नीलामी में 36 खिलाड़ियों का न्यूनतम मूल्य है 2 करोड़ रुपए

रहाणे के बल्लेबाज़ी आंकड़ों को देखें तो पाएंगे कि दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में उनका औसत 50 के लगभग है और यही कारण है कि ईडन गार्डन की उछाल भरी पिच पर उनकी बल्लेबाज़ी कारगर साबित होगी।



यह भी मुश्किल ही है कि राजस्थान रॉयल्स, रहाणे के लिए राइट टू मैच का उपयोग करे। उन्होंने 12.5 करोड़ में स्टीव स्मिथ को रिटेन किया है और अगर वे रहाणे को टीम में लेना चाहते तो उन्हें भी मात्र 8.5 करोड़ में रिटेन कर लेते। राजस्थान रॉयल्स द्वारा रहाणे को रिटेन न किए जाने के दो अर्थ निकलते हैं। पहला- रहाणे को भरोसा है कि नीलामी में वह महंगे दाम में खरीदे जाएंगे और राजस्थान रॉयल्स उन्हें रिटेन करने के लिए अधिक पैसे खर्च करने को तैयार नहीं है।

दूसरा- राजस्थान रॉयल्स को भरोसा है कि वे नीलामी में रहाणे को कम क़ीमत में खरीद लेंगे।

हालांकि नीलामी में रहाणे की कीमत 8.5 करोड़ से अधिक जाने पर यह लगभग असंभव है कि रॉयल्स उन पर राइट टू मैच का प्रयोग करें।

दूसरी ओर कोलकाता नाइट राइडर्स 2011 में गम्भीर(11.04 करोड़) की तरह इस बार रहाणे को महंगे दाम में खरीदने को तैयार होगी और उन्हें आने वाले समय का कप्तान नियुक्त करेगी। अतः हमारी गणित के आधार पर आई पी एल 2018 में के के आर के कप्तान अजिंक्य रहाणे होंगे।

Source: Analysing Kolkata Knight Riders’ captaincy options for IPL 2018

Summary
Review Date
Reviewed Item
Who will captain KKR in IPL 2018? CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: