बाल बाल बचे संजू सैम्सन! (Sanju Samson escapes punishment)

Sanju Samson escapes punishment

केरल के प्रतिभाशाली विकेटकीपर बल्लेबाज़ संजू सैम्सन को उनके खिलाफ चल रही आपत्तिजनक व्यवहार की जाँच में रिहाई मिली है.

आईपीएल के ज़रिए सुर्ख़ियो में आए संजू सैम्सन पिछले कुछ दिनों से मुश्किल में थे. दरअसल संजू के पिता अभ्यास के दौरान हमेशा उनके साथ रहते थे और ऐसे में उनका व्यवहार आपत्तिजनक था. इस कारण संजू सैम्सन पर अनुशासनहीनता का मामला दर्ज किया गया. केरल क्रिकेट असोसियेशन की जाँच समिति ने संजू को कड़ी चेतावनी देकर छोड़ दिया.

रणजी ट्रोफी के पिछले सीज़न से संजू सैम्सन के खिलाफ अनुशासनहीनता की जाँच चल रही थी. समिति ने चेतावनी देते हुए स्पष्ट किया है संजू के पिता को मैदान पर आने और क्रिकेट से संबंधित किसी भी गतिविधि में अवरोध उत्पन्न करने की बिल्कुल अनुमिति नही है, और वे ऐसा ना करें.

संजू सैम्सन पर आरोप लगा था की उनका व्यवहार बर्दाश्त करने योग्य नही है और वे रणजी ट्रोफी के दौरान टीम के साथ होटल में भी नही रुके थे. इसके बाद संजू सैम्सन के पिता ने केरल क्रिकेट असोसियेशन के अध्यक्ष टी सी मैथ्यू को फ़ोन कर अभद्र भाषा का प्रयोग किया, जिसके बाद संजू के खिलाफ जाँच समिति गठन हुई.

रणजी ट्रोफी में केरल के लिए खेल चुके टीपी रंगनाथन ने इस फ़ैसले का समर्थन किया है. केरल की तरफ से भारत की राष्ट्रीय टीम में केवल तीन खिलाड़ी जगह बना पाए हैं – टीनू योहनन, एस श्रीसंत और संजू सैम्सन. ऐसे में अगर श्रीसंत की तरह अगर संजू भी अनुशासनहीनता के चलते कलंकित होते तो ये प्रदेश में क्रिकेट की प्रगति के लिए बुरा होता.

Leave a Response

share on: