5 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें 2019 विश्व कप के लिए तैयार किया जाना चाहिए

5 players to groom for World Cup 2019

अब समय आ गया है कि भारत को 2019 के विश्व कप के लिए सोचना शुरू कर देना चाहिए और उस हिसाब से तैयारियाँ भी होनी चाहिए।

फिलहाल भारतीय टीम के बारे में सबसे अच्छी बातों में से एक यह है कि टीम के पास अविश्वसनीय बेंच स्ट्रेंथ है क्योंकि बहुत सारे प्रतिभाशाली खिलाड़ी टीम में खेलने के अवसर के इंतजार में हैं। यह टीम में एक स्वस्थ एवं प्रतियोगी माहौल बनाता है क्योंकि इनमें से कई खिलाड़ी दुनिया के किसी भी हिस्से में जा कर अपना कमाल दिखाने में सक्षम हैं।

आईपीएल को इन विश्व-स्तरीय प्रतिभाओं का निर्माण करने के लिए शुक्रिया अदा करना होगा, क्योंकि इसी प्रतियोगिता ने इन मैच विजयी खिलाड़ियों को वो आवश्यक प्लेटफार्म प्रदान किया है।

आइए हम उन 5 भारतीय खिलाड़ियों को देखते हैं जो चैंपियंस ट्रॉफी में तो नहीं खेल पाए थे, लेकिन 2019 विश्वकप के लिए अब वे तैयार हो सकते हैं।

KL Rahul Records in Hindi
KL Rahul Records in Hindi

# 1 के एल राहुल

के एल राहुल हमेशा अपनी प्राकृतिक शैली में खेलने वाले बल्लेबाजों में से एक हैं, जिन्होंने टीम में एक पक्की जगह बना ली थी लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी में कंधे की चोट की वजह से वह नहीं खेल पाये और निश्चित तौर पर टीम को उनकी अनुपस्थिति काफी खली होगी। हालांकि, हाल के दिनों में उन्हें काफी चोटें आयी हैं, लेकिन भारत को उम्मीद है कि वह जितनी जल्दी हो सके टीम में वापसी करेंगे।

राहुल ने खुद को शीर्ष क्रम के एक महत्वपूर्ण सदस्य के रूप में स्थापित किया है और कप्तान विराट कोहली ने हमेशा उन पर काफी विश्वास रखा है। 2015 में सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनके शतक के बाद से राहुल अपने तकनीकी कौशल और प्रतिभा के कारण टेस्ट टीम का एक महत्वपूर्ण सदस्य रहे हैं।

सीमित ओवरों के क्रिकेट में भी वह काफी कारगर साबित होते रहे हैं और प्रशंसकों को 2016 में वेस्टइंडीज के खिलाफ ट्वेंटी-20 में 110 रन की उनकी शानदार पारी को देखने का मौका भी मिला। आईपीएल में बल्ले से उनकी लगातार सफलता और विकेटों को बचाये रखने की उनकी अतिरिक्त क्षमता उन्हें एक महत्वपूर्ण टीम सदस्य बनाती है।

Ajinkya Rahane Records in Hindi
Ajinkya Rahane Records in Hindi

# 2 अजिंक्य रहाणे

टेस्ट लेवल पर जिस बल्लेबाज़ का औसत 46.07 के करीब है, उसे निश्चित तौर पर एक क्लास बल्लेबाज माना जायेगा और यह भी सोचा जाना चाहिए कि अजिंक्य रहाणे आसानी से किसी भी ओडीआई टीम में फिट बैठ सकते हैं। लेकिन यह सच नहीं है क्योंकि उनकी तकनीकी क्षमता और प्रतिभा के बावजूद रहाणे सीमित ओवरों के क्रिकेट में बहुत देर से असंगत फॉर्म में चल रहे हैं। जब महेंद्र सिंह धोनी कप्तान थे तब भी उनके लिए यह मुश्किल वाली बात हो गई थी क्योंकि उन्हें दिख रहा था कि रहाणे एक अच्छे शीर्ष क्रम के बल्लेबाज तो हैं, लेकिन मध्य क्रम में वह फिट नहीं बैठते। यहां तक ​​कि आईपीएल में भी रहाणे आम तौर पर शीर्ष पर बल्लेबाजी करते हैं जहां उनका शानदार प्रदर्शन हमें देखने को मिलता है।

वह चैंपियंस ट्रॉफी में एक भी मैच नहीं खेल पाए क्योंकि भारत ने महसूस किया कि रहाणे स्ट्राइक रोटेट करने में संघर्ष करेंगे और बीच के ओवरों में स्वतंत्र रूप से स्कोर नहीं कर पाएंगे। युवराज सिंह को उनकी जगह पसंद किया गया क्योंकि टीम चाहती थी कि वह बीच के ओवरों में कुछ जोरदार हिट लगाएं। लेकिन युवराज चल नहीं पाए और अब उम्र भी उनका साथ नहीं देगी। तो इस प्रकार रहाणे को दो साल में आने वाले विश्व कप में उनकी संभावनाओं को निश्चित रूप से देखना चाहिए।

Rishabh Pant Records
Rishabh Pant Records
Photo Source – dnaindia.com

# 3 ऋषभ पंत

एमएस धोनी के उभरने के बाद से पहली बार भारतीय क्रिकेट एक युवा विकेट-कीपर बल्लेबाज को लेकर उत्साहित है। ऋषभ पंत अपनी कम उम्र के बावजूद, अंडर-19 के स्तर पर अपने आदर्श प्रदर्शन के कारण कुछ समय से चर्चा में रहे हैं। लेकिन यह उनका शानदार आईपीएल सीज़न था जिससे उनका चयन इस फेहरिस्त में हमने किया है। हालाँकि, उन्हें इस साल चैंपियंस ट्राफी की टीम में जगह नहीं मिली। उन्होंने इस आईपीएल सीजन में 14 मैचों में 366 रन बनाये जिसमें एक शानदार शतक भी शामिल है।

पंत को पहले से ही धोनी के प्राकृतिक प्रतिस्थापन के रूप में देखा जा रहा है और वेस्टइंडीज दौरे के लिए उनका चयन भी एक अच्छा संकेत है। यह इस बात की पुष्टि करता है कि इस युवा प्रतिभाशाली स्टंपर के लिए चीजें सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

Manish Pandey Records in Hindi
Manish Pandey Records in Hindi
Source – India Today

# 4 मनीष पांडे

आखिरी क्षण में मनीष पांडे की चोट चैंपियंस ट्रॉफी से पहले टीम प्रबंधन के लिए एक बड़ा झटका साबित हुई। यह इस बात को प्रदर्शित करता है कि टीम इस खिलाड़ी पर कितना निर्भर करती है, जिसने केवल 12 एकदिवसीय मैच खेले हैं। लेकिन पांडे अगर टीम में होते, तो केदार जाधव या युवराज सिंह की जगह टीम में आसानी से फिट बैठ सकते थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले वर्ष वनडे में उनकी नाबाद 104 रनों की पारी ने यह दिखाया कि वह क्या कर पाने में सक्षम हैं। एक मैच फिनिशर के रूप में टीम में उनकी भूमिका को कभी भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

यह भूमिका पांडे के लिए कोई नयी नहीं है, जो कुछ समय से कोलकाता नाइट राइडर्स के मध्य क्रम का मुख्य आधार रहे हैं और टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहे हैं। यदि वह अपनी क्षमता के अनुसार प्रदर्शन करते हैं तो फिनिशर की भूमिका निभाने की जिम्मेदारी मनीष पांडे और हार्दिक पंड्या की जोड़ी पर ही होगी।

Yuzvendra Chahal Records in Hindi
Yuzvendra Chahal Records in Hindi

# 5 यजुवेंद्र चाहल

नीली जर्सी में बहुत कम मैचों में खेलने के बावजूद, चाहल आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए उनके शानदार प्रदर्शन के कारण एक प्रमुख टी -20 गेंदबाज बन चुके हैं। इंग्लैंड के खिलाफ ट्वेंटी -20 श्रृंखला में उनके अच्छे प्रदर्शन के बावजूद चाहल ने जिम्बाब्वे के खिलाफ एक लो प्रोफ़ाइल श्रृंखला में केवल 3 वनडे मैचों में ही भाग लिया है।

दुर्भाग्य से उन्हें केवल टी 20 प्रारूप के लिए ही एक विशेषज्ञ माना जाता है। लेकिन उनका उल्लेखनीय नियंत्रण, अच्छी इकॉनमी और विकेट लेने की क्षमता निश्चित रूप से एकदिवसीय क्रिकेट में उनका रास्ता आसान बनायेगी। वनडे में अश्विन के उदासीन फॉर्म के कारण चाहल को आगे बढ़ने के लिए तैयार रहना चाहिए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
5 players to groom for World Cup 2019 | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: