संजय बांगर और भारत अरुण के बारे में पांच बातें जो आप नहीं जानते थे

5 things to know about Sanjay Bangar & Bharat Arun

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद पर आए रवि शास्त्री की मांगों को पूरा किया जाने के तहत उन्हें अपने मनचाहे सपोर्ट स्टाफ के साथ-साथ अनिल कुंबले से 1.25 करोड़ (प्रति वर्ष) अधिक वेतन भी मिलेगा | बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारीयों के साथ उनकी मुलाकात के मुख्य घटनाक्रमों की ओर रुख करते है |

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने 2019 के विश्व कप तक के लिए अपनी मूल कोचिंग टीम का चुनाव कर लिया | टीम के भूतपूर्व डायरेक्टर ने भारत अरुण को गेंदबाज़ी कोच के रूप में चुना और इस कार्यकाल के लिए संजय बांगर सहायक कोच की भूमिका निभाएंगे | अरुण की वापसी की अपेक्षा की जा रही थी और बाकी के नाम भी किसी को आश्चर्यचकित नहीं करते | मुलाकात के बाद हुई प्रेस वार्ता में शास्त्री ने कहा कि राहुल द्रविड़ और ज़हीर खान, जिन्हे पहले विदेशी दौरों के लिए बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी सलाहकार नियुक्त किया गया था, वे सादर आमंत्रित है लेकिन अभी तक उनसे जुड़ा कोई औपचारिक अनुबंध नहीं बनाया गया है | मुंबई में हुई इस मुलाकात से जुड़े पांच बड़े घटनाक्रम कुछ इस प्रकार है:

शास्त्री के वेतन में बढ़ोतरी: मुख्य कोच के पद के लिए वार्षिक वेतन पैकेज में शास्त्री के लिए बढ़ोतरी की गयी जो कि अब हर वर्ष 7.5 करोड़ रूपये प्राप्त करेंगे | पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने 7.75 करोड़ की मांग की थी लेकिन उन्हें 25 लाख कम रुपयों पर संतुष्ट होना पड़ा | शास्त्री का पैकेज उनके पूर्वाधिकारी अनिल कुंबले से 1.25 करोड़ अधिक होगा |

सपोर्ट स्टाफ के वेतनों का ब्यौरा: एक प्रतिष्ठित अखबार द्वारा यह ज्ञात हुआ है कि संजय बांगर, पूर्व बल्लेबाज़ी कोच और वर्तमान में सहायक कोच, को 2.25 करोड़ रूपये मिलेंगे वहीं गेंदबाज़ी कोच भारत अरुण को प्रति वर्ष 2 करोड़ रुपयों का वेतन मिलेगा |

विदेशी सलाहकार के रूप में तेंदुलकर: शास्त्री ने यह सुझाव दिया कि तेंदुलकर को भारतीय टीम के विदेशी दौरों के लिए सलाहकार बनाया जाए | यह प्रस्ताव अभी बीसीसीआई अधिकारियों द्वारा सचिन तेंदुलकर के सामने नहीं रखा गया है |

ज़हीर केवल 25 दिन ही दे सकते है: एक और रहस्योद्घाटन में ज़हीर, टीम के गेंदबाज़ी सलाहकार के रूप में केवल 25 दिन देने के लिए तैयार है क्योंकि ये पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज़ अभी भी भारतीय प्रीमियर लीग में खेलना चाहते है |

द्रविड़ सलाहकार बनने को तैयार, सफर करने को नहीं: ऐसा मालूम पड़ता है, कि राहुल द्रविड़ टीम को नेट-सत्रों और दौरे से पहले के शिविरों में सलाह देने को तैयार है लेकिन टीम के साथ सफर करने और दौरे के दौरान ड्रेसिंग रूम का हिस्सा बनने के इच्छुक नहीं है |

Summary
Review Date
Reviewed Item
5 things to know about Sanjay Bangar & Bharat Arun | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: