एबी डी विलियर्स दक्षिण अफ्रीका के लिए विश्व कप जीतना चाहते हैं

AB-DeVilliers-Records-in-Hindi

एबी डी विलियर्स का कहना है कि वह अगस्त में क्रिकेट में अपने भविष्य का फैसला करेंगे। वह दक्षिण अफ्रीका के लिए विश्व कप भी जीतना चाहते हैं।

एबी डी विलियर्स दक्षिण अफ्रीका के इंग्लैंड दौरे पर नहीं गए और कहा कि वह अगस्त में अपना भविष्य तय करेंगे।

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज़, चार महीने के दौरे का मुख्य आकर्षण है। हालांकि, लंबे समय से यह योजना बनाई गई थी कि डीविलियर्स को तीनों अंतरराष्ट्रीय प्रारूपों में विश्व के अग्रणी खिलाड़ियों में से एक होने की भूमिका से कुछ समय के लिए विश्राम दिया जायेगा और चार टेस्ट मैचों में वह नहीं खेलेंगे। डीविलियर्स इस वक़्त क्रिकेट की दुनिया के सबसे ज्यादा चमकते सितारे हैं और उनकी मांग दुनिया की हर क्रिकेट लीग में है।

बांग्लादेश सितंबर में दक्षिण अफ्रीका का दौरा करेगा और डीविलियर्स ने कहा कि उन्हें तब तक पता हो जाना चाहिए कि उनकी अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताएं किस प्रकार की रहेंगी।

“मैं अगस्त में सीएसए (क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका) से मिलना चाहता हूं, और यह मेरा (अंतर्राष्ट्रीय) भविष्य तय करेगा,” डीविलियर्स ने संवाददाताओं से कहा।

प्रतिभाशाली बल्लेबाज ने कहा, “हम ऐसा फैसला लेंगे जो दोनों पक्षों के हितों की रक्षा करता हो।” इन्होंने 106 टेस्ट मैचों में 21 शतक सहित, 50 से अधिक के औसत से 8,000 से ज्यादा रन बनाए हैं।

अगले कुछ महीनों में वह क्या करेंगे, यह पूछे जाने पर डीविलियर्स ने कहा, “मैं परिवार के साथ घर पर थोड़ा समय व्यतीत करना चाहता हूँ। मैं इस दुनिया में जल्द ही आने जा रहे अपने बच्चों का स्वागत करने वाला हूँ और जाहिर है कि सेहतमंद रहने के लिए मेहनत भी करूँगा।”

“मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूँ कि मैं सितंबर के लिए तैयार रहूँ, जब बांग्लादेश की टीम आएगी।”

टेस्ट स्तर में उनकी सफलता को देखते हुए, डीविलियर्स की एकमात्र ज्वलंत महत्वाकांक्षा दक्षिण अफ्रीका को उनका पहला विश्व कप खिताब जीतने में मदद करना है।

1992 तक रंगभेद के कारण अलग-थलग रहने के बाद उन्होंने कई प्रयास किये, लेकिन दुर्भाग्य से कोई भी सफल नहीं रह पाया और सभी मर्तबा निश्चित जीत उनके जबड़े से छीन ली गयी। इसी वजह से दक्षिण अफ्रीका को “चोकर्स” के अवांछित टैग से भी नवाजा गया।

अगले विश्व कप का आयोजन इंग्लैंड में दो साल के समय में होना है और डीविलियर्स को ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के हाथों 2015 के सेमीफाइनल में मिली हार अब भी याद है। उन्होंने कहा, “यह मेरा मुख्य स्वप्न है कि विश्व कप जीत में मैं दक्षिण अफ्रीका का नेतृत्व करूँ या फिर विश्व विजयी टीम का कम से कम हिस्सा तो जरूर बनूँ।”

लेकिन डेविलियर्स, जिन्होंने जोहान्सबर्ग में वेस्टइंडीज के खिलाफ 2015 में 31 गेंदों की शानदार पारी खेलकर सबसे तेज एकदिवसीय शतक बनाया था, ने कहा: “मुझे नहीं लगता कि सबकुछ मेरे हाथों में है। देखिये क्या होता है।”

“मैं कोच के अंतिम निर्णय का इंतजार करूँगा और इस तरह आगे की चीजों को भी तय किया जाएगा,” उन्होंने बताया। रसेल डोमिंगो के भविष्य के बारे में पहले से ही अनिश्चितता का माहौल है। वह शुक्रवार को टॉनटन में दूसरे टी20 मैच में दक्षिण अफ्रीका की तीन रनों से जीत के पहले ही दौरे को छोड़ने पर मजबूर हो गए थे क्योंकि उनकी मां एक यातायात दुर्घटना में शामिल थीं।

“फिर मैं सीएसए से बात भी कर सकता हूँ, यह देखने के लिए कि मैं टीम में कहाँ फिट बैठ सकता हूँ।”

डीविलियर्स के अलावा दक्षिण अफ्रीका को 6 जुलाई से लॉर्ड्स में शुरू हो रहे पहले टेस्ट में फाफ डु प्लेसिस की भी कमी खल सकती है।

दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट कप्तान डु प्लेसिस अपने पहले बच्चे के जन्म का इंतजार कर रहे हैं, जो जुलाई के पहले सप्ताह में होने की संभावना है।

डीविलियर्स से जब यह पूछा गया कि क्या उन्होंने टेस्ट टीम का नेतृत्व करने के बारे में सोचा है, अगर डु प्लेसिस, जो टी 20 श्रृंखला में भी खेलने से चूक गए थे, अभी भी अनुपस्थित रहते। तो उन्होंने कहा: “नहीं, बिल्कुल नहीं।”

“मैं इस समय अच्छी बल्लेबाजी कर रहा हूँ और वास्तव में इसका आनंद भी ले रहा हूँ। मुझे रन बनाना अच्छा लगता है, और यह सब मैं अगले दो महीनों तक मिस करने वाला हूँ।”

Summary
Review Date
Reviewed Item
AB DeVilliers wants to win World Cup 2019 | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: