2019 विश्व कप में अपने चयन के लिये कड़ी मेहनत कर रहा हूँ: वृद्धिमान साहा

Saha working hard for World Cup 2019

भले ही एकदिवसीय मैचों में महेंद्र सिंह धोनी ने विकेट कीपर का स्थान ले रखा हो लेकिन भारतीय टीम के टेस्ट विकेट कीपर वृद्धिमान साहा ने अपने विश्व कप खेलने का सपना नहीं छोड़ा है और 2019 की विश्वव्यापी प्रतियोगिता का हिस्सा बनने के लिये पूरी मेहनत कर रहे हैं।

साहा ने बताया कि उनकी पत्नी रोमी उन्हें विश्व कप में खेलते देखना चाहती हैं।

रिद्धिमान साहा – भारत – रिकॉर्ड

साहा अगले महीने 33 वर्ष के हो जायेंगे। उन्होंने कहा ” मेरी पत्नी मुझे विश्व कप में खेलते देखने को बेहद उत्साहित है। वह मुझे और अधिक मेहनत कर के यह उपलब्धि हासिल करने की सलाह देती है। मैं भी पूरा प्रयास कर रहा हूँ लेकिन अंत में निर्णय चयनकर्ताओं को लेना है।”

श्रीलंका का 9-0 से सूपड़ा साफ करने के बाद भारत, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 एकदिवसीय और 3 टी 20 मुकाबले खेलेगा जो कि 17 सितंबर से चेन्नई में शुरू हो रहे हैं। साहा का मानना है कि विराट कोहली की टीम को घर में हराना मुश्किल होगा।

फ़िलहाल छुट्टी मना रहे साहा ने एक आयोजन में कहा “भारत को भारत में हराना हमेशा मुश्किल होगा। पिछली बार ऑस्ट्रेलिया ने अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन मैं भारत को आगे मानता हूँ।”

वृद्धिमान साहा के पिता ने उनके लिए क्या कहा?

उन्होंने आगे कहा ” भारत के बेंच के खिलाड़ी बहुत मजबूत हैं। टीम 2019 विश्व कप की तैयारी में लगी है और इसीलिये खिलाड़ियों की अदला बदली हो रही है। भारत सभी खिलाड़ियों के संयोजन के साथ बेहतर प्रदर्शन कर रहा है जो कि एक अच्छा संकेत है।”

अक्षर(पटेल), (युजवेंद्र)चहल और कुलदीप(यादव), (रविचंद्रन)अश्विन और (रवींद्र)जडेजा की जगह खेल रहे हैं। यह बेंच के खिलाड़ियों को मज़बूत बनाने की प्रक्रिया है ताकि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें उतारा जा सके”।

साहा के प्रदर्शन की खूब प्रशंसा की गयी। सौरव गांगुली ने कहा कि बंगाल का यह खिलाड़ी भविष्य में सीमित ओवरों के खेल में महेंद्र सिंह धोनी की जगह ले सकता है।

रवि शास्त्री चाहते है कि 2019 के क्रिकेट विश्व कप में भारत सबसे बेहतरीन फील्डिंग साइड बने

साहा एकदिवसीय मैचों में निरंतर नहीं खेल सके हैं। उन्होंने अब तक केवल 9 एकदिवसीय मैच खेले हैं। उन्होंने कहा ” मैं लगातार अपने प्रदर्शन को सुधरने के लिये अभ्यास करता हूँ बाक़ी चयनकर्ताओं पर निर्भर करता है। मैं सिर्फ एकदिवसीय मुकाबले खेलने के लिये प्रदर्शन नहीं करता।”

“जो मेरे बारे में(बेहतरीन विकेट कीपिंग)बात कर रहे हैं वह जानते हैं कि जो कुछ मैंने सीखा है, उसे खेल में प्रदर्शित करने की पूरी कोशिश कर रहा हूँ।”

Source: I’m pushing hard for a place in 2019 World Cup team: Wriddhiman Saha

Summary
Review Date
Reviewed Item
Saha working hard for World Cup 2019 | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: