शास्त्री, ज़हीर और द्रविड़ भारत की नई कोचिंग टीम

Shastri to coach India till 2019 World Cup | CricketinHindi.com

रवि शास्त्री, भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर और टीम डायरेक्टर, को 2019 विश्व कप तक के लिए राष्ट्रीय टीम का मुख्य कोच नियुक्त कर दिया गया है | इसी अवधि के लिए ज़हीर खान को गेंदबाज़ी सलाहकार नियुक्त किया गया है, वहीं राहुल द्रविड़ आगामी टेस्ट श्रृंखला के लिए बल्लेबाज़ी सलाहकार की भूमिका निभाएंगे |

इस बात की पुष्टि मंगलवार रात को हुई जिसके पहले सीओए ने बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी), जिसमें सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण शामिल है, को भारतीय टीम के अगले कोच के चुनाव की अत्यावश्यक नियुक्ति से अवगत कराया |

रिपोर्ट: विराट कोहली ने चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल से पहले अनिल कुंबले के साथ दुर्व्यवहार किया

यह रिक्ति तब आयी जब जून में चैंपियंस ट्रॉफी के बाद अनिल कुंबले ने इस्तीफ़ा दे दिया, क्योंकि उनके मुताबिक, भारतीय कप्तान विराट कोहली के साथ उनकी साझेदारी ‘असमर्थनीय’ हो गयी थी | भारत वेस्ट इंडीज में एक सीमित-ओवरों की श्रृंखला खेलने बिना किसी मुख्य कोच के बिना ही चला गया |

शास्त्री उन पांच उम्मीदवारों में से थे जिनका साक्षात्कार सीएसी ने इस किरदार के लिए किया था, इस सूची में वीरेंदर सेहवाग, टॉम मूडी, रिचर्ड पाइबस और लालचंद राजपूत भी शामिल थे | जब बीसीसीआई ने पहली बार निमंत्रण आमंत्रित किये थे तब उन्होंने आवेदन नहीं दिया था, लेकिन कुंबले के दौड़ से हटने के बाद उन्होंने ऐसा किया |

शास्त्री ने 2016 में भी इस भूमिका के लिए आवेदन भरा था, और कुंबले से हारने के कारण निराश हो गए थे, क्योंकि भारतीय टीम डायरेक्टर के रूप में उनके कार्यकाल में अच्छा प्रदर्शन कर रही थी |

कुंबले ने भारतीय कोच के पद से इस्तीफा दिया

अगस्त 2014 में उन्हें टीम का डायरेक्टर नियुक्त किया गया था और उनके अधीन, भारत ने लगातार दो वैश्विक प्रतिस्पर्धाओं – 2015 विश्व कप और 2016 विश्व टी20 – के सेमीफइनल में जगह बनायीं थी, और टेस्ट रैंकिंग्स में भी पहला मुकाम हासिल किया था, और इसे फरवरी 2016 तक 8 हफ़्तों के लिए कायम रखा था | इस समय के दौरान, भारत ने ऑस्ट्रेलिया में पहली बार सीमित-ओवरों की द्विपक्षीय श्रृंखला में जीत दर्ज की थी, और टी20 श्रृंखला में 3-0 से ऑस्ट्रेलिया का सूपड़ा साफ़ कर दिया था | हालाँकि अपने कार्यकाल के पहले भाग में उन्होंने डंकन फ्लेचर के साथ काम किया, 2015 के विश्व कप के बाद टीम का पूरा भार शास्त्री के कन्धों पर आ गया था |

ज़हीर, पूर्व भारतीय तेज़ गेंदबाज़ है, जिन्हे किसी प्रकार का औपचारिक कोचिंग अनुभव नहीं है लेकिन वे पिछले कुछ आईपीएल सीज़नों से दिल्ली डेयरडेविल्स के प्रबुद्ध मंडल का हिस्सा रहे है | पिछले साल बीसीसीआई द्वारा उन्हें गेंदबाज़ी सलाहकार बनने का प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन वेतनों को लेकर दोनों पक्ष एक मूल्य पर सहमत नहीं हो पाए थे |

क्रिकेट विश्व कप 2019 का कार्यक्रम

हाल ही में द्रविड़ ने डेयरडेविल्स के सलाहकार के अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था, और इंडिया ए और अंडर-19 टीमों के कोच का पद दो-सालों के लिए स्वीकार लिया था |

इन नियुक्तियों से भारतीय कोचिंग के पद को लेकर अनिश्चितताओं के उस दौर का अंत होता है, जिसकी शुरुआत मई के अंत में हुई थी, जब कोहली ने बीसीसीआई अधिकारियों को इस बात से अवगत कराया था कि कुछ खिलाड़ी प्रबंधन को लेकर कुंबले के रवैये से असुखद थे | कोहली की प्रतिक्रिया के बाद, बीसीसीआई ने इस पद के लिए इश्तेहार जारी किये थे और आवेदन भरने वाले उम्मीदवारों में से एक कुंबले भी थे | यद्यपि कोहली ने जनता के समक्ष यही कहा कि कुंबले के साथ उन्हें कोई परेशानी नहीं है, यह मुद्दा तब गरमा गया जब चैंपियंस ट्रॉफी के कुछ समय बाद ही, किसी कोच के न होने पर, कुंबले को वेस्ट इंडीज दौरे के लिए प्रस्तावित विस्तार को उन्होंने नकार दिया और इस्तीफ़ा दे दिया |

मुख्य कोच के रूप में शास्त्री का पहला दौरा श्री लंका के विरुद्ध टेस्ट श्रृंखला है, जिसकी शुरुआत 26 जुलाई को होगी |

भारत के श्रीलंका दौरे के कार्यक्रम की घोषणा

Summary
Review Date
Reviewed Item
Shastri to coach India till 2019 World Cup | CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: