क्या 2019 क्रिकेट विश्व कप की मेजबानी जिम्बाब्वे करेगा?

Zimbabwe to host World Cup 2019

जिम्बाब्वे के पास अगले साल के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल के 2019 क्रिकेट विश्व कप क्वालिफायर की मेजबानी करने का एक शानदार मौका है। इस मामले में निर्णय होना अभी बाकी है, लेकिन प्रक्रिया काफी तेज़ी से चल रही।

टीम के अधिकारियों ने आखिरी हफ्ते में लंदन में आयोजित आईसीसी की बैठक में हिस्सा लिया और अगले साल होने वाले टूर्नामेंट को अपने देश में कराने के लिए आशावान भी दिखे। इससे यूनाइटेड किंगडम में 2019 में होने वाले विश्व कप के लिए उनके देश की शामिल होने की संभावनाओं को भी बल मिलेगा।

मुकुहलानी इस बात पर टिप्पणी करने के लिए तैयार तो नहीं हुए कि क्या ज़िम्बाब्वे की बोली सफल रही है या नहीं, लेकिन आईसीसी की बैठक से निकल कर वह काफी प्रसन्न नज़र आ रहे थे। इस बात से भी उन्हें ख़ुशी है कि आईसीसी ने जिम्बाब्वे की सदस्यता प्रमाणित कर दी है और उनके लिए नए वित्त मॉडल को पारित किया गया है, जिससे कि 2015 से 2023 के दौरान जेसीसी को 94 मिलियन डॉलर की रकम मिलेगी।

मुकुहलानी ने कहा, “मैं आईसीसी की बैठक से खुश हूँ, टेस्ट में हमारी स्थिति अब विचाराधीन नहीं है, हमारी सदस्यता बरकरार है और नए वित्त मॉडल को मंजूरी दे दी गई है जिसका अर्थ है कि 2015 से 2023 के दौरान हम 94 मिलियन डॉलर प्राप्त कर रहे होंगे।”

क्वालीफायर्स की मेजबानी करने की ज़िम्बाब्वे की संभावना इस बात से बढ़ जाती है कि देश में टूर्नामेंट कराना सस्ता है और देश ने 2003 में दक्षिण अफ्रीका और केन्या के साथ क्रिकेट विश्व कप की सह मेजबानी भी की थी। टूर्नामेंट की मेजबानी करने वाले देशों में ज़िम्बाब्वे का मौसम सबसे अच्छा रहता है और अधिकांश पूर्ण सदस्यों का समर्थन भी उन्हें प्राप्त है।

मेजबानी के लिए जिम्बाब्वे को सबसे बड़ा खतरा आयरलैंड और स्कॉटलैंड से हो सकता है जिन्होंने टूर्नामेंट की मेजबानी करने के लिए एक संयुक्त निविदा प्रस्तुत की है। संयुक्त अरब अमीरात दूसरा ऐसा देश है जो क्वालिफायरों की मेजबानी करना चाहता है।

आईसीसी के महाप्रबंधक रणनीतिक संचार, क्लेयर फरलांग ने शनिवार को कहा कि अभी तक कोई निर्णय नहीं किया गया है कि क्वालीफायर की मेजबानी कौन सा देश करने वाला है।

“यह वर्तमान में अपुष्ट है और यह घोषणा तब की जाएगी जब अगले कुछ महीनों में निर्णय लिया जाएगा। हां, उन्होंने (जिम्बाब्वे) बोली लगाई है और एक निश्चित अवधि के उपरांत निर्णय ले लिया जाएगा, ” फरलांग ने कहा।

मुकुहलानी हाल ही में नियुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी फैजल हसनैन के साथ आईसीसी की सभा में आये थे।

हसनैन ने पिछले महीने अपने कर्तव्यों को संभालने के तुरंत बाद एक साक्षात्कार में कहा था कि जिम्बाब्वे को शीर्ष पर पहुंचाने के लिए उनका पहला कदम देश को अगले साल के विश्व कप क्वालिफायर की मेजबानी दिलाना होगा।

जेडसी ने क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के समर्थन से जिम्बाब्वे में आयोजन हेतु 10-टीमों वाले टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए एक बोली प्रस्तुत की। क्वालीफायर्स की सर्वश्रेष्ठ दो टीमें अन्य आठ के साथ क्रिकेट के महाकुम्भ में शामिल होंगी जो कि 2019 के विश्व कप के लिए स्वचालित रूप से योग्यता प्राप्त कर चुके होंगे जो इंग्लैंड में होने वाला है।

क्वालिफायर की आवश्यकता इसलिए है क्योंकि आईसीसी ने फैसला किया है कि 2019 विश्व कप में 2014 में हुए टूर्नामेंट में शामिल हुए 14 देशों के बजाय 10 टीमें ही शामिल होंगी। आईसीसी वनडे इंटरनेशनल रैंकिंग्स के शीर्ष 8 देश अपने आप इस टूर्नामेंट में क्वालीफाई कर जायेंगे और बाकी दो इस क्वालीफ़ायर से चुने जायेंगे।

यदि बोली सफल होती है, तो ज़ेडसी को टूर्नामेंट की मेजबानी करने के लिए 1.4 मिलियन डॉलर की राशि मिलेगी जो कि देश के क्रिकेट के लिए वित्तीय सहायता को और बढ़ावा देगा।

Summary
Review Date
Reviewed Item
Zimbabwe to host World Cup 2019? CricketinHindi.com
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Response

share on: